Hindi News »Rajasthan »Shahjanpur» यूपी : रिटायर टीचर ने पीएफ से साढ़े 6 बीघा जमीन खरीदी, स्टेडियम बनवाया; 150 बच्चे सीख रहे हैं गुर

यूपी : रिटायर टीचर ने पीएफ से साढ़े 6 बीघा जमीन खरीदी, स्टेडियम बनवाया; 150 बच्चे सीख रहे हैं गुर

उत्तर प्रदेश में वाराणसी के शिवपुर में विवेक सिंह ओलंपियन मार्ग पर रहने वाले 76 वर्षीय जीव विज्ञान के टीचर गौरी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 05, 2018, 07:05 AM IST

उत्तर प्रदेश में वाराणसी के शिवपुर में विवेक सिंह ओलंपियन मार्ग पर रहने वाले 76 वर्षीय जीव विज्ञान के टीचर गौरी शंकर सिंह। इन्होंने बेटे के सपने को पूरा करने के लिए 2005 में पीएफ और एलआईसी के 12.50 लाख रुपयों से साढ़े छह बीघा जमीन खरीदी और बेटे के नाम पर बनवा दी विवेक सिंह हॉकी एकेडमी। गौरी शंकर बताते हैं कि 2005 में मुंबई टाटा मेमोरियल अस्पताल में बेटे इंटरनेशनल हॉकी प्लेयर विवेक सिंह की जंपिंग कैंसर से मौत हो गई थी। मरने से पहले उसने बताया कि वह हॉकी की एकेडमी खोलना चाहता है। मुंबई से लौटने के बाद ही घर से 6 किमी दूर करोमा गांव में 6.5 बीघा जमीन खरीदी और एक साल की कड़ी मेहनत के बाद स्टेडियम बनाया। यहां 150 से ज्यादा बच्चे हॉकी और क्रिकेट सीखने रोज आते हैं। 40 से ऊपर लड़कियां भी उनसे ट्रेनिंग ले रही हैं। जिन बच्चों को गरीबी के चलते हॉकी खरीदने में दिक्कत होती है, उन्हें किट और हॉकी भी देते हैं। इतना ही नहीं सभी बच्चों को मुफ्त में ट्रेनिंग भी देते हैं। हर साल 10 से ज्यादा बच्चे स्पोर्ट्स हॉस्टल के लिए सिलेक्ट होते हैं। एक दर्जन से ज्यादा नेशनल खिलाड़ी एकेडमी ने दिए हैं। उनके मुताबिक स्टेडियम बनाने में एक साल लगा।

बेटे का सपना पूरा करने के लिए बनवा दिया विवेक सिंह हॉकी स्टेडियम

इनके जीवन पर बनी फिल्म ने जीता नेशनल फिल्म अवॉर्ड

गौरी शंकर बताते हैं कि वे मूल रूप से जौनपुर के निवासी हैं। पढ़ाई के बाद वे गोरखपुर चले गए। इस दौरान हॉकी और फुटबाल टीम के कप्तान रहे। चार बार टीम का नेतृत्व भी किया। पढ़ाई में रुचि और नौकरी के चलते आगे नहीं खेल पाए इसलिए अपने सभी बच्चों को स्पोर्ट्स से जोड़ा। गौरी शंकर के जीवन पर 2011 में बनी गैर फीचर फिल्म ‘ऐंड वी प्ले ऑन’ ने नेशनल फिल्म अवार्ड जीता। श्रीलंका शार्क फिल्म फेस्टिवल में फिल्म का स्क्रीन प्ले किया गया था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shahjanpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×