शाहजहांपुर

--Advertisement--

4 माह में 8900 टन क्षमता के 80 नए गोदाम बनेंगे, वित्त विभाग की मंजूरी

जयपुर | अगले चार माह में प्रदेश में अनाज भंडारण के लिए सहकारिता क्षेत्र में 80 गोदाम बना दिए जाएंगे। इनमें 8900 टन की...

Dainik Bhaskar

Apr 05, 2018, 07:05 AM IST
जयपुर | अगले चार माह में प्रदेश में अनाज भंडारण के लिए सहकारिता क्षेत्र में 80 गोदाम बना दिए जाएंगे। इनमें 8900 टन की अतिरिक्त भंडारण क्षमता होगी। 80 नए गोदाम के निर्माण के लिए वित्तीय स्वीकृति बुधवार को दे दी गई। 26 जिलों की 74 ग्राम सेवा सहकारी समितियों में 100-100 मीट्रिक टन क्षमता के तथा 6 क्रय-विक्रय सहकारी समितियों में 250-250 मीट्रिक टन क्षमता के गोदामों का निर्माण होगा। यह जानकारी सहकारिता मंत्री अजयसिंह किलक ने दी। 80 गोदामों में से 46 गोदाम राष्ट्रीय कृषि विकास योजना तथा शेष 34 गोदाम बजट घोषणा के तहत बनाए जाएंगे।

किलक ने बताया कि इससे राज्य में 8,900 मीट्रिक टन भण्डारण क्षमता बढ़ेगी। भाजपा सरकार द्वारा अपने कार्यकाल में सहकारी क्षेत्र की भण्डारण क्षमता में 1277 गोदाम निर्माण किए गए हैं। प्रत्येक ग्राम सेवा सहकारी समिति का अपना गोदाम बनाने के प्रयास तेज कर दिए हैं। इससे हर गांव में कृषि आदानों के अग्रिम भण्डारण में मदद मिलने के साथ-साथ किसान भी आवश्यकता के अनुसार अपनी उपज को सुरक्षित रख सकेंगे। सहकारी संस्थाओं को 4 माह की अवधि में गोदाम निर्माण का कार्य पूरा करना होगा। गोदाम निर्माण कार्य में पारदर्शिता बनाने के लिये ग्राम सेवा सहकारी समिति के स्तर पर तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया है, जो कि गोदाम निर्माण की सामग्री के क्रय के लिए उत्तरदायी होगी।

X
Click to listen..