Hindi News »Rajasthan »Shahjanpur» चार साल संघर्ष के बाद 19 महिलाओं को कोर्ट के आदेश के बाद आज मिलेगा पदस्थापन

चार साल संघर्ष के बाद 19 महिलाओं को कोर्ट के आदेश के बाद आज मिलेगा पदस्थापन

डूंगरपुर | पूर्व जिला परिषद सीईओ परशुराम धानका की लापरवाही के कारण शिक्षक भर्ती 2013 में नियुक्ति से वंचित रहने वाली...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 06, 2018, 07:15 AM IST

चार साल संघर्ष के बाद 19 महिलाओं को कोर्ट के आदेश के बाद आज मिलेगा पदस्थापन
डूंगरपुर | पूर्व जिला परिषद सीईओ परशुराम धानका की लापरवाही के कारण शिक्षक भर्ती 2013 में नियुक्ति से वंचित रहने वाली 19 महिला अभ्यर्थी को शुक्रवार को पदस्थापन मिलेगा। कोर्ट के आदेश के बाद पूरे प्रकरण में जिला परिषद सीईओ को आदेश देकर उन्हें नियुक्ति का अधिकार दिया है। जिसके बाद शुक्रवार को जिला पदस्थापन समिति की बैठक रखकर 19 महिलाओं को नियुक्ति का अधिकार दिया जाएगा। पिछले लम्बे समय से संघर्ष कर रही महिलाओं को कोर्ट से राहत की खबर आई है। पूरे मामले में पिछले चार के बाद महिलाओं को अब नियुक्ति मिलने के कारण खुशी है। शिक्षक भर्ती वर्ष 2013 में आयोजित हुई थी। भर्ती में वर्ष 2016 से तत्कालीन सीईओ परशुराम धानका के मार्गदर्शन में लिस्ट तैयार हुई थी। जो लेवल प्रथम और लेवल द्वितीय की थी। लिस्ट जारी होने के बाद चयनित शिक्षकों के दस्तावेज जांच कर नियुक्ति दी गई। तत्कालीन सीईओ की लापरवाही से पुरुषों की लिस्ट में 25 महिलाओं को नियुक्ति दे दी गई। जिसके बाद इन महिलाओं ने स्कूल में कार्यभार भी संभाल दिया था। लिस्ट में बड़ी मात्रा में गड़बड़ी होने पर अभ्यर्थी कोर्ट की शरण में गए थे। जहां से संशोधित सूची जारी करने के निर्देश दिए थे। जिसके बाद वर्ष 2017 फरवरी में 25 नियुक्त महिलाओं को नौकरी से पृथक कर दिया था।

2 नवंबर 2017 से शुरू हुआ था आंदोलन

कट ऑफ लिस्ट में गड़बड़ी, जातिवार लिस्ट में अनियमितता और महिलाओं को पुन: नियुक्ति के लिए ये सभी हाईकोर्ट की शरण में गए थे। जहां पर कोर्ट ने पूरे मामले में जिला परिषद की लापरवाही मानते हुए नए सिरे से जातिवार और वर्गवार लिस्ट बनाने के निर्देश दिए थे। जिसमे सीईओ परशुराम धानका की लापरवाही सामने आई थी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shahjanpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×