Hindi News »Rajasthan »Shahjanpur» जज ने कहा- सलमान को आम लोग फॉलो करते हैं, फिर भी उसने दो निर्दोष काले हिरण मार डाले, यह ठीक नहीं है...

जज ने कहा- सलमान को आम लोग फॉलो करते हैं, फिर भी उसने दो निर्दोष काले हिरण मार डाले, यह ठीक नहीं है...

जोधपुर के कांकाणी गांव में 20 साल पहले दाे काले हिरणों की हत्या के मामले में अभिनेता सलमान खान गुरुवार को दोषी करार...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 06, 2018, 07:20 AM IST

जज ने कहा- सलमान को आम लोग फॉलो करते हैं, फिर भी उसने दो निर्दोष काले हिरण मार डाले, यह ठीक नहीं है...
जोधपुर के कांकाणी गांव में 20 साल पहले दाे काले हिरणों की हत्या के मामले में अभिनेता सलमान खान गुरुवार को दोषी करार दिए गए। सीजेएम कोर्ट ने उन्हें 5 साल जेल और 10 हजार रु. जुर्माने की सजा सुनाई है। सैफ अली खान, तब्बू, सोनाली बेंद्रे, नीलम और स्थानीय निवासी दुष्यंत सिंह को संदेह का लाभ मिला। सभी बरी कर दिए गए। तीन साल से ज्यादा सजा होने के चलते सलमान को ट्रायल कोर्ट से जमानत नहीं मिली। उन्होंने सेशन कोर्ट में अर्जी लगाई है। उस पर शुक्रवार को सुनवाई होगी। सलमान ने रात जोधपुर जेल में ही गुजारी। वहां वे कैदी नंबर 106 हैं। उन्हें आसाराम के पड़ोसी बैरक नं. 2 में रखा गया है। फिल्म ‘हम साथ-साथ हैं’ की शूटिंग के दौरान सलमान व उनके साथियों ने 1 अक्टूबर 1998 की रात कांकाणी गांव में दो काले हिरणों का शिकार किया था।

गैंगस्टर लॉरेंस ने दी थी सलमान की हत्या की धमकी, कड़ी सुरक्षा

जोधपुर सेंट्रल जेल में दुष्कर्म का आरोपी आसाराम, भंवरी हत्याकांड का आरोपी मलखान सिंह बिश्नोई और राजसमंद लाइव मर्डर का आरोपी शंभूलाल रैगर भी बंद है। वहीं, एक गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई ने जेल में सलमान की हत्या की धमकी भी दे रखी है। वह खुद तो जेल में नहीं है, लेकिन उसके साथी फिलहाल यहीं बंद हैं। इसके चलते सलमान के लिए तीन स्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

तीन घंटे चली कार्यवाही, साथी बरी हुए तो सलमान मुस्कुराए, पर ढाई घंटे बाद छलके आंसू -पेज 3

काला हिरण मामले में 20 साल बाद फैसला

दो मामले; दोनों में जज के कमंेट से लेकर फैसला तक एक जैसा

फ्लैश बैक

सीजेएम बृजेंद्र कुमार जैन: सलमान अभिनय के पेशे में हैं। वे युवाओं के प्रेरणा स्रोत होते हैं। लोग अनुसरण करते हैं। भले ही एक भी चश्मदीद गवाह पेश नहीं हुआ, पर परिस्थितिजन्य साक्ष्यों को देखते हुए राहत देना न्यायोचित नहीं है।

28 मार्च 2006 को फैसला सुरक्षित रखा गया था।

वन्यजीव संरक्षण अधिनियम की धारा 51 में दोषी।

5 साल साधारण कारावास और 25 हजार का जुर्माना।

अन्य आरोपी दुष्यंत सिंह, तुलाजी आंग्रे उर्फ बाल आंग्रे और प्रताप सिंह संदेह के लाभ से बरी हुए।

कोर्ट का ऑब्जर्वेशन- सलमान ने अपने शौक-मौज व बड़प्पन साबित करने के लिए अपराध किया। संपूर्ण देश में वन्यजीव लुप्त होने के कगार पर हैं।

प्रकरण के समस्त तथ्यों, परिस्थितियाें, अभियुक्त के चरित्र, उसके विरूद्ध अन्य प्रकरण लंबित होने के मद्देनजर मुल्जिम के प्रति नरमी उचित नहीं है।

हाईकोर्ट ने सलमान को बरी कर दिया।

जोधपुर में सलमान पर 4 केस, दो में हाईकोर्ट और एक में ट्रायल कोर्ट ने बरी किया

कांकाणी केस: गुरुवार को 5 साल कैद की सजा हुई।

घोड़ा फार्म हाउस केस: 10 अप्रैल 2006 को सीजेएम कोर्ट ने 5 साल जेल की। हाईकोर्ट ने 25 जुलाई 2016 को बरी किया। राज्य सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है।

भवाद गांव केस: सीजेएम कोर्ट ने 17 फरवरी 2006 को सलमान को एक साल जेल की सजा सुनाई। हाईकोर्ट ने बरी कर दिया। इसे भी सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई है।

अवैध हथियार का केस: 18 जनवरी 2017 को ट्रायल कोर्ट ने सलमान को बरी कर दिया था। राज्य सरकार ने इसके खिलाफ हाईकोर्ट में अपील की है।

हिरण शिकार के 3 मामलों में सलमान चौथी बार जोधपुर जेल पहुंचे हैं। 20 साल के दौरान वह कुल 18 दिन पुलिस और न्यायिक हिरासत में रहे हैं। वह 12 से 17 अक्टूबर 1998, 10 से 15 अप्रैल 2006, और 26 से 31 अगस्त 2007 तक जेल में रह चुके हैं।

20 साल में 18 दिन जेल में रहे, अब चौथी बार जेल पहुंचे

सलमान को 5 साल कैद, जेल में आसाराम के पड़ोसी

सैफ, सोनाली, तब्बू, नीलम और दुष्यंत सिंह सबूतों के अभाव में बरी

10 अप्रैल 2006-घोड़ा फार्म हाउस मामला

री-टेक

सीजेएम देवकुमार खत्री: अभियुक्त अभिनेता है, जिसका आमजन भी अनुसरण करते हैं। इसके बावजूद उन्होंने दो कृष्ण मृगों का शिकार किया। तथ्यों, परिस्थितियों व अपराध की गंभीरता को देखते हुए राहत देना न्यायोचित नहीं है।

गुरुवार को जेल की कार्यवाही पूरी करते सलमान खान।

5 अप्रैल 2018-कांकाणी मामला

28 मार्च 2018 को फैसला सुरक्षित रखा गया था। वन्यजीव संरक्षण अधिनियम की धारा 9/51 में दोषी।

5 साल की सजा और 10 हजार रुपए का जुर्माना।

अन्य आरोपी सैफ अली खान, नीलम, सोनाली, तब्बू, और दुष्यंत को संदेह का लाभ देते हुए बरी किया।

कोर्ट का आॅब्जर्वेशन- दो हिरणों का गोली मारकर शिकार किया। वर्तमान में वन्य जीव लुप्त हो रहे हैं। और अवैध शिकार की घटनाएं बढ़ रही हैं।

प्रकरण के तथ्यों, परिस्थितियों, हालात व अपराध की अत्यंत गंभीरता को देखते हुए मुल्जिम के प्रति नरमी उचित नहीं होगा। इसलिए 5 साल कैद की साजा।

सलमान अब ऊपरी अदालत में अपील करेंगे।

जेल डीआईजी ने परिचय दिया तो सलमान खान ने कहा- मेरे दादाजी भी डीआईजी थे

गुरुवार को कोर्ट से सजा सुनाए जाने के बाद जेल भेज दिया। दोपहर 2:55 बजे पुलिस सलमान को लेकर लाल फाटक से सेंट्रल जेल पहुंची। सघन तलाशी लेने के दौरान सलमान को जूते उतारने को कहा। लाॅन्ग शूज उतारने में सलमान को कुछ मशक्कत करनी पड़ी। अंदर पहुंचने पर यहां डीआईजी जेल ने अपना परिचय दिया, तो सलमान खान ने कहा ‘मेरे दादाजी भी डीआईजी थे’। औपचारिकताएं पूरी कर उसे जेल के सुपुर्द कर दिया गया।

जमानत पर सेशन कोर्ट में आज सुबह 10.30 बजे सुनवाई

आगे क्या...

आज जमानत नहीं तो 3 दिन और जेल में कटेंगे

सलमान ने सेशंस कोर्ट में जमानत अर्जी दायर की है। शुक्रवार सुबह 10.30 बजे इस पर सुनवाई होगी। अगर जमानत मंजूर हुई तो सलमान जेल से निकल सकते हैं। लेकिन सेशन काेर्ट ने जमानत खारिज की तो उन्हें हाईकोर्ट जाना पड़ेगा। लेकिन एेसी सूरत में वीकेंड की वजह से उन्हें दो-तीन दिन और जेल में रहना पड़ सकता है।

चने की दाल व पत्ता गोभी की सब्जी के साथ दी रोटी, सलमान ने नहीं खाई : जेल डीआईजी

उनके बॉडीगार्ड शेरा सलमान के लिए कुछ कपड़े व नाश्ता लाए थे, लेकिन नाश्ता वापस लौटा दिया गया है। जेल नियमों के अनुसार सलमान को रोटी, पत्ता गोभी की सब्जी और चने की दाल खाने के लिए दी है, लेकिन उन्होंने खाना नहीं खाया। सलमान ने टायलेट के बारे में पूछा था। उन्हें उनका किया पुराना वादा भी याद है, शायद वे इस बार पूरा करें। - विक्रमसिंह, डीआईजी (जेल), जोधपुर जेल

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shahjanpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×