--Advertisement--

कांग्रेसियों का संभाग मुख्यालयों पर सामूहिक उपवास आज

जयपुर | हिंसा पर लगाम लगाने, आपसी सद्‌भाव, भाईचारे बनाए रखने, सामाजिक समरसता एवं शांति को कायम करने की मांग को लेकर...

Danik Bhaskar | Apr 09, 2018, 07:00 AM IST
जयपुर | हिंसा पर लगाम लगाने, आपसी सद्‌भाव, भाईचारे बनाए रखने, सामाजिक समरसता एवं शांति को कायम करने की मांग को लेकर सोमवार को प्रदेश कांग्रेस की ओर से सुबह 11 बजे से शाम 5 बजे तक सभी संभाग मुख्यालयों पर कांग्रेसियों की ओर से उपवास रखा जाएगा। जयपुर के शहीद स्मारक पर आयोजित जयपुर संभाग के उपवास कार्यक्रम में राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट, अखिल राजस्थान प्रभारी अविनाश पांडे, सहप्रभारी सचिव विवेक बंसल सहित प्रदेश के सभी वरिष्ठ कांग्रेस नेता, पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ता भाग लेंगे। प्रदेश कांग्रेस की उपाध्यक्ष एवं मीडिया चेयरपर्सन डॉ. अर्चना शर्मा ने बताया कि उपवास कार्यक्रम में शिरकत करने से पहले मानसरोवर के टैगोर स्कूल में प्रदेश सचिन पायलट, प्रभारी महासचिव अविनाश पांडे, पूर्व केन्द्रीय मंत्री गुलाम नबी आजाद, उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत सुबह 10 बजे एनएसयूआई के अखिल भारतीय अधिवेशन को संबोधन करेंगे।

जो कंठ तक भ्रष्टाचार में डूबे हैं, वो कल भूखे पेट रहने की नौटंकी करेंगे : भाजपा

कांग्रेस का उपवास वैसा ही जैसे नौ सौ चूहे खाकर बिल्ली हज को चली

जयपुर। भाजपा ने कांग्रेस के उपवास को नौटंकी बताया है। ट्विटर हैंडल बीजेपी राजस्थान पर इस उपवास को लेकर लिखा गया है कि कांग्रेसियों का उपवास वैसा ही है जैसे नौ सौ चूहे खाकर बिल्ली हज को चली। जिनके कंठ तक भ्रष्टाचार में डूबे हैं, वो कल भूखे पेट रहने की नौटंकी करेंगे। कांग्रेसियाें के दोगलेपन से सावधान रहने की जरूरत है। उधर, भाजपा प्रदेश मुख्यालय पर सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री अरुण चतुर्वेदी ने प्रेस कांफ्रेंस में आरोप लगाया कि आज जनता को कांग्रेस के नेता राहुल गांधी का दो अप्रैल को भारत बंद के दिन ट्विटर पर आंदोलनकारियों को सलाम करना और अब नौ अप्रैल को अंहिसा के नाम पर उपवास रखना दोहरा चरित्र दिखा रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस मात्र अपना चेहरा बचाने के लिए पानी एवं जनसुनवाई के मुद्दे पर राजनीतिक जमीन तलाशने में लगी हुई है। चतुर्वेदी ने कहा कि कांग्रेस का यह आरोप निराधार है कि भाजपा सरकार जनसंवाद के नाम पर धोखा दे रही है। जबकि खुद कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट का जनता से तारतम्य टूट गया है। पहली बार यह देखा जा रहा है कि सरकार जनता के द्वार जाकर उनकी समस्याओं को हाथों-हाथ निपटाने का कार्य कर रही है। खुद मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, मंत्री, विधायक जनसुनवाई कर रहे हैं। भाजपा प्रदेश कार्यालय में जनसुनवाई के कार्यक्रमों से जनता को राहत मिल रही है।