• Home
  • Rajasthan News
  • Shahjahanpur News
  • भारत-नेपाल में 6 करार, दिल्ली से काठमांडू के बीच रेल लाइन बनेगी
--Advertisement--

भारत-नेपाल में 6 करार, दिल्ली से काठमांडू के बीच रेल लाइन बनेगी

प्रधानमंत्री मोदी के साथ नेपाल के पीएम केपी ओली और उनकी प|ी। ओली: रिश्ते को आगे ले जाएंगे नेपाल के पीएम ओली ने...

Danik Bhaskar | Apr 08, 2018, 08:05 AM IST
प्रधानमंत्री मोदी के साथ नेपाल के पीएम केपी ओली और उनकी प|ी।

ओली: रिश्ते को आगे ले जाएंगे

नेपाल के पीएम ओली ने कहा कि हम दोनों पड़ोसी देशों के बीच भरोसेमंद रिश्ते को आगे बढ़ाना चाहते हैं। इसीलिए भारत आया हूं, ताकि द्विपक्षीय रिश्तों को 21वीं सदी में नई ऊंचाइयों तक ले जाया जा सके। ओली ने चीन की वन बेल्ट वन रोड पर कहा कि नेपाल, चीन और भारत के बीच में है। दोनों ही देशों से हमारे अच्छे रिश्ते हैं। दोनों ही हमसे ज्यादा विकसित हैं। इसलिए हम दोनों के साथ चलने का मौका चाहते हैं। इस योजना को लेकर हम तटस्थ हैं।

स्वागत: राष्ट्रपति भवन में हुआ

नेपाल के प्रधानमंत्री केपी ओली का शनिवार को राष्ट्रपति भवन में स्वागत किया गया। यहां उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और पीएम मोदी ने उनका स्वागत किया। ओली के साथ उनकी प|ी राधिका शाक्य और 54 सदस्यीय उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल भी आया है। ओली ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से भी मुलाकात की। इससे पहले शुक्रवार को भी उन्होंने मोदी से मुलाकात की थी।

2014 से बिहार-नेपाल के बीच रेल लाइन बंद है

भारत-नेपाल के बीच ओपन बॉर्डर पॉलिसी है, यानी दोनों देशों की सीमाओं पर पासपोर्ट की जरूरत नहीं पड़ती। भारत से नेपाल जाने के लिए कई बस सेवाएं पहले से मौजूद हैं। हालांकि, नेपाल के जनकपुर से बिहार के जयनगर को जोड़ने वाली रेल लाइन 2014 के बाद से ही बंद पड़ी है। इसे फिर शुरू करने की कोशिश की जा रही है।