• Hindi News
  • Rajasthan
  • Shahpura
  • सड़क निर्माण कम्पनी की अनदेखी के चलते कस्बे के सभी मार्ग में एंट्री व बाहर निकलना दूभर
--Advertisement--

सड़क निर्माण कम्पनी की अनदेखी के चलते कस्बे के सभी मार्ग में एंट्री व बाहर निकलना दूभर

Dainik Bhaskar

Mar 04, 2018, 04:20 AM IST

Shahpura News - कस्बे मे निर्माण कम्पनियों की लापरवाही और भुगते जयपुर से दिल्ली जाने वाले राहगीरों के साथ-साथ क्षेत्रवासियों को...

सड़क निर्माण कम्पनी की अनदेखी के चलते कस्बे के सभी मार्ग में एंट्री व बाहर निकलना दूभर
कस्बे मे निर्माण कम्पनियों की लापरवाही और भुगते जयपुर से दिल्ली जाने वाले राहगीरों के साथ-साथ क्षेत्रवासियों को भुगतना पड़ रहा है। असल मामला पावटा कस्बे का है जहां सड़क निर्माण कम्पनी की लापरवाही व अनदेखी के चलते वाहन चालकों को कस्बे में अंदर आने के लिए नेशनल हाइवे के पास से केवल राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पावटा के समीप से कस्बे के अंदर से ही आ सकते है, जिससे वाहन चालकों को बडी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है और बाहर वापस जाने के लिए भी यही मार्ग है।

यादव महासभा पावटा इकाई अध्यक्ष प्रहलाद भगत यादव ने बताया कि वर्तमान में कस्बे के एक को छोड़कर सभी एंट्री पोइंट बंद है और वर्तमान में पिछले दो सप्ताह से पावटा पुराने पेट्रोल पम्प से विश्रामगृह तक सड़क निर्माण का भी कार्य तीव्र गति से प्रगतिशील है जिसकी वजह से पावटा के अंदर से आने जाने के लिए पावटा अस्पताल वाला ही मार्ग चालू है जिसकी वजह से वाहन चालकों को बडी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। दवा विक्रेता संघ पावटा वरिष्ठ सदस्य पवन गोयल ने बताया कि इन दिनो पावटा कस्बे के मुख्य बस स्टैंड, राणी सती मंंदिर, समस्त काम्पलेक्स, पावटा पुराने पेट्रोल पम्प के सामने टसकोला भोणावास मोड सड़क मार्ग बंद कर रखा है, जिसके कारण आवागमन बंद है। निर्माण कार्य से पूर्व क्या होना चाहिए था

राजस्थान मिनरल संघ जयपुर अध्यक्ष कैलाश ताखर ने बताया कि पुलिया निर्माण से पूर्व या बाद में पावटा पुराने पेट्रोल पम्प से विश्राम गृह तक सड़क निर्माण कार्य कार्य शुरू करना चाहिए था व पावटा कस्बे मे चौपहिया वाहनों के लिए एक मार्ग को सुचारू रूप से चालू रखना चाहिए था। जिससे वाहन चालकों को आवागमन में राहगीरों को परेशानी नहीं आती।

वाल्मीकि समाज की बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा

शाहपुरा|
कबीर पंथियों की बैठक गोपालदास यादव की अध्यक्षता में हुई।

दामोदर प्रसाद वाल्मीकि ने बताया कि बैठक में विशाल सत्संग एवं दहेज मुक्त शादी करने सहित कई मुद्दों पर विचार विमर्श किया गया। बैठक में राजेंद्र दास, मालीराम, सुवालाल, रोहिताश, माधोदास, पूर्णदास, पप्पूदास, मालीराम आदि मौजूद रहे।

X
सड़क निर्माण कम्पनी की अनदेखी के चलते कस्बे के सभी मार्ग में एंट्री व बाहर निकलना दूभर
Astrology

Recommended

Click to listen..