• Home
  • Rajasthan News
  • Shahpura News
  • दस्तावेज खुद प्रमाणित कर जुड़वा सकेंगे खाद्य सुरक्षा में नाम, तीन दिन में मिलने लगेगी राहत
--Advertisement--

दस्तावेज खुद प्रमाणित कर जुड़वा सकेंगे खाद्य सुरक्षा में नाम, तीन दिन में मिलने लगेगी राहत

पात्र लाभार्थी स्वयं प्रमाणित दस्तावेज प्रस्तुत कर खाद्य सुरक्षा में नाम जुड़वा सकते हैं। पहले आवेदक को पालिका...

Danik Bhaskar | Feb 19, 2018, 06:20 AM IST
पात्र लाभार्थी स्वयं प्रमाणित दस्तावेज प्रस्तुत कर खाद्य सुरक्षा में नाम जुड़वा सकते हैं। पहले आवेदक को पालिका अथवा पंचायत समिति स्तर पर दस्तावेज का प्रमाणीकरण करवाना होता था। भास्कर से विशेष बातचीत में यह जानकारी खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री बाबूलाल वर्मा ने दी। वे रविवार को जालेश्वर जाते समय अल्प प्रवास के दौरान शाहपुरा में रुके थे।

दैनिक भास्कर से विशेष बातचीत में उन्होंने कहा कि खाद्य सुरक्षा के क्षेत्र में आ रही परेशानियों को दूर करने के लिए सरकार ने विभिन्न कदम उठाए हैं। अब सरकार ने आवेदक को निष्कासन की 6 श्रेणियों में नहीं आने की घोषणा स्वयं करके नाम जुड़वाने की प्रक्रिया का सरलीकरण कर दिया है। उपखंड अधिकारी व जिला रसद अधिकारी को अधिकृत कर दिया है। जिससे प्रक्रिया में होने वाले अनावश्यक विलंब को समाप्त किया गया है। अब तीन से चार दिन में खाद्य सुरक्षा में नाम जुड़ाया जा सकता है। उन्होंने बताया कि अक्सर यह शिकायत मिलती थी कि लाभार्थी की अंगूठा निशानी नहीं मिल रही है, अगर उसका अंगूठा निशानी नहीं मिल रही है तो सक्षम अधिकारी उसके खाते को बाईपास करने के बाद सीधा उसको लाभ दिला सकता हैं और प्रमाणीकरण की जरूरत नहीं रहती। इस सरलीकरण के बाद राज्यभर में 2 लाख से ज्यादा पात्र व्यक्तियों के नाम और खाद्य सुरक्षा योजना से जुड़े हैं।

बुजुर्ग व विकलांगों को राशन दुकान पर जाने की जरूरत भी नहीं

वर्मा ने बताया कि अब बुजुर्ग व विकलांगों को राशन लेने के लिए दुकान तक जाने की जरूरत भी नहीं रहेगी। वे किसी प्रतिनिधि को अधिकृत कर फूड कूपन प्राप्त कर सकते हैं। अधिकृत व्यक्ति तीन-तीन माह का राशन लाकर उन्हें दे सकेगा। संपूर्ण व्यवस्था ऑनलाइन होने से कार्य में पारदर्शिता आ गई है। अब जयपुर में बैठकर किसी भी लाभार्थी का खाता ऑनलाइन चेक कर सकते हैं। पहले लाभार्थी का वेरिफिकेशन आय के आधार पर होता था अब स्वघोषणा और स्व प्रमाणीकरण का फॉर्मेट बना दिया है। यह भी ऑनलाइन उपलब्ध है। इसे भरकर वह सीधा लाभ ले सकता है।

भास्कर संवाददाता | शाहपुरा

पात्र लाभार्थी स्वयं प्रमाणित दस्तावेज प्रस्तुत कर खाद्य सुरक्षा में नाम जुड़वा सकते हैं। पहले आवेदक को पालिका अथवा पंचायत समिति स्तर पर दस्तावेज का प्रमाणीकरण करवाना होता था। भास्कर से विशेष बातचीत में यह जानकारी खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री बाबूलाल वर्मा ने दी। वे रविवार को जालेश्वर जाते समय अल्प प्रवास के दौरान शाहपुरा में रुके थे।

दैनिक भास्कर से विशेष बातचीत में उन्होंने कहा कि खाद्य सुरक्षा के क्षेत्र में आ रही परेशानियों को दूर करने के लिए सरकार ने विभिन्न कदम उठाए हैं। अब सरकार ने आवेदक को निष्कासन की 6 श्रेणियों में नहीं आने की घोषणा स्वयं करके नाम जुड़वाने की प्रक्रिया का सरलीकरण कर दिया है। उपखंड अधिकारी व जिला रसद अधिकारी को अधिकृत कर दिया है। जिससे प्रक्रिया में होने वाले अनावश्यक विलंब को समाप्त किया गया है। अब तीन से चार दिन में खाद्य सुरक्षा में नाम जुड़ाया जा सकता है। उन्होंने बताया कि अक्सर यह शिकायत मिलती थी कि लाभार्थी की अंगूठा निशानी नहीं मिल रही है, अगर उसका अंगूठा निशानी नहीं मिल रही है तो सक्षम अधिकारी उसके खाते को बाईपास करने के बाद सीधा उसको लाभ दिला सकता हैं और प्रमाणीकरण की जरूरत नहीं रहती। इस सरलीकरण के बाद राज्यभर में 2 लाख से ज्यादा पात्र व्यक्तियों के नाम और खाद्य सुरक्षा योजना से जुड़े हैं।