Hindi News »Rajasthan »Shahpura» सेपटपुरा में 10 मोरोंं की मौत, 4 घायल

सेपटपुरा में 10 मोरोंं की मौत, 4 घायल

भास्कर न्यूज | अमरसर/शाहपुरा नयाबास ग्राम पंचायत के सेपटपुरा गांव में शनिवार को 10 मोरों की मौत हो गई एवं 4 मोर घायल...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 06:25 AM IST

भास्कर न्यूज | अमरसर/शाहपुरा

नयाबास ग्राम पंचायत के सेपटपुरा गांव में शनिवार को 10 मोरों की मौत हो गई एवं 4 मोर घायल हो गए। इससे पहले 27 मोर मर चुके हैं।

एक पखवाड़े मे कुल 37 मोर मर चुके है तथा 4 मोर घायल हो चुके हैं। घायल मोरों कोे गोवर्धन सेपट, विक्रम एवं हेमराज जाट के नेतृत्व में शहर के वन विभाग कार्यालय में सुपुर्द किए है। एक पखवाड़े से मोरों के मरने के सिलसिले तथा पोस्टमार्टम रिपोर्ट व बिसरा जांच नहीं आने तथा मोरों की मौत पर अंकुश नहीं लगने से ग्रामीणों मे रोष व्याप्त हो गया तथा ग्रामीणों ने पंसस रामसिंह सेपट के नेतृत्व में रोष व्यक्त कर शीघ्र कार्यवाही नहीं होने पर धरना प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है।

जानकारी के अनुसार सेपटपुरा गांव मे पिछले एक पखवाड़े से मोरों के मरने का सिलसिला जारी है। वन विभाग द्वारा चिकित्सकों से पोस्टमार्टम करवाकर जांच जयपुर तथा बरेली प्रयोगशाला में भिजवाई गयी थी। एक पखवाड़े मे प्रशासन द्वारा मोरों की मौत का वास्तविक कारण पता नहीं करने के कारण लोगो मे रोष फैल रहा है। शनिवार को एक एक कर 11 मोर मृत पाए गए तथा तीन मोर घायल अवस्था में पाये गये। ग्रामीणों की सूचना पर पंसस रामसिंह सेपट , समाज सेवी महावीर सेपट, गोवर्धन सेपट, विकास, योगेश गोस्वामी, बाबू लाल गोरा, मुकेश कुमार, मक्खन लाल सेपट, हेमराज सहित कई लोग मौके पर पहुंचे तथा प्रशासन को सूचना दी।

पंसस रामसिंह सेपट ने प्रशासन व वन विभाग के अधिकारियो को ग्रामीणों मे व्याप्त रोष से अवगत करवाया तथा मोरों की मौत की पोस्टमार्टम जांच शीघ्र मंगवाकर मौतों पर शीघ्र अंकुश लगाने की मांग की तथा शीघ्र रोकथाम नहीं होने पर धरने प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है।

प्रशासन की सूचना पर वनपाल दयाशंकर टेलर मय टीम मौके पर पहुंचे तथा मृत मोरों का पोस्टमार्टम करवाकर अंतिम संस्कार किया तथा घायलों का इलाज शुरु करवाया गया। वनपाल दयाशंकर टेलर ने बताया कि बरेली व जयपुर जांच रिपोर्ट आते ही मोरों की मौत पर रोकथाम के प्रयास किये जायेंगे। वैकल्पिक व्यवस्था के तौर पर पानी व दाने मे दवाई डाली गई है तथा साफ सफाई करवाई जा रही है। सरपंच भैरूराम घोसल्या व समाजसेवी भगवान सहाय गौरा ने बताया कि शीघ्र ही डिप्टी स्पीकर राव राजेंद्र सिंह को ज्ञापन देकर विशेषज्ञ डॉक्टर की अस्थायी तौर पर नियुक्ति की मांग की जायेगी।

इस संबंध में एसडीएम रवि विजय का कहना है संभवतया कोई बुखार या अन्य राेग से मर सकते है पिछले दिनो मरे हुए मोर का बिसरा बरेली भेजा था वहां से रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का पता चल पाएगा ।

इस संबंध में रेंजर रघुवीर मीणा का कहना है कि इन मरे हुए मोरों का पोस्टमार्टम डाक्टरों की नई टीम से कराया जाएगा इसके बाद ही कुछ पता लग पाएगा।

नहीं थम रहा मोरों की मौत का सिलसिला, प्रयोगशालाओं से अभी तक नहीं आई जांच रिपोर्ट

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shahpura

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×