--Advertisement--

आकाशीय बिजली गिरी, एक ही परिवार के चार लोग झुलसे

शाहपुरा. आकाशीय बिजली हादसे में झुलसे लोग सरकारी अस्पताल में इलाज करवाते हुए। शाहपुरा | देवउठनी एकादशी पर ढाणी...

Danik Bhaskar | Mar 05, 2018, 06:35 AM IST
शाहपुरा. आकाशीय बिजली हादसे में झुलसे लोग सरकारी अस्पताल में इलाज करवाते हुए।

शाहपुरा | देवउठनी एकादशी पर ढाणी गुजरान में हुए ट्रांसफार्मर ब्लास्ट में जाजैकलां निवासी दादी-पोती की मौत का दर्द अभी तक परिजन भुला नहीं पाए थे कि रविवार दोपहर अलवर तिराहे के पास आकाशीय बिजली गिरने से इसी परिवार के चार लोग झुलस गए।

अलवर तिराहे के पास चारदीवारी बना रहे एक ही परिवार के चार लोग आकाशीय बिजली की चपेट में आ गए। इससे झुलसे चारों को शहर के राजकीय चिकित्सालय में भर्ती कराया। पुलिस के अनुसार जाजैकलां निवासी जयराम (48), रामजीलाल (52), लालीदेवी (30) खामोशी (32) अन्य परिजनों के साथ खेत में चारदीवारी का निर्माण कार्य करवा रहे थे। तभी अचानक तेज आवाज के साथ आकाशीय बिजली गिरी जिससे चारों लोग आकाशीय बिजली की चपेट में आ गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने 108 एंबुलेंस से सभी को कस्बे के सीएचसी में भर्ती कराया।

देवउठनी एकादशी पर बागावास चौरासी में शादी समारोह के दौरान ट्रांसफार्मर ब्लास्ट हादसे में जाजैकलां निवासी दादी केशरीदेवी प्रजापत व पोती सुनीता की मौत हो गई थी। रिश्ते में जयराम व रामजीलाल मृतका के देवर है जबकि लालीदेवी व खामोशी भी परिवार के ही है।

अंधड़ के कारण दिनचर्या अस्त-व्यस्त

बस्सी/जटवाड़ा | अंचल के कई क्षेत्र में रविवार को बूंदाबांदी हुई और अंधड़ आया। क्षेत्र के स्थानों पर बादलों की आवाजाही लगी रही। शाम को अंधड़ से एकबारगी दिनचर्या प्रभावित हो गई। क्षेत्र में अंधड के समय बिजली काट ली गई और करीब एक घंटे बाद बिजली सप्लाई को बहाल किया गया। कई इलाकों में अंधड से बिजली लाइनें भी फाल्ट हो गई। शाम को मामूली बरसात हुई। बूंदाबांदी व हवा चलने से रविवार को तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई जिसके कारण सर्दी का एहसास हुआ।

बांसखो | क्षेत्र में रविवार शाम मौसम ने अचानक मिजाज बदला और शाम के समय धूल भरी आंधी चली। आसपास क्षेत्र में हल्की बूंदाबांदी से मौसम में जरूर ठंडक घुली, लेकिन किसानों के लिए यह बारिश किसानों के लिए आफत बनकर बरस रही है।