Hindi News »Rajasthan »Shahpura» बदनौर के ठाकुर रघुराज सिंह की देह पंचतत्व में हुई विलीन, दी श्रद्धांजलि

बदनौर के ठाकुर रघुराज सिंह की देह पंचतत्व में हुई विलीन, दी श्रद्धांजलि

पंजाब के राज्यपाल वीपी सिंह के बड़े भाई रघुराज सिंह की पार्थिव देह बुधवार दोपहर एक बजे जलमहल पहुंची। इससे पहले...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 08, 2018, 06:45 AM IST

बदनौर के ठाकुर रघुराज सिंह की देह पंचतत्व में हुई विलीन, दी श्रद्धांजलि
पंजाब के राज्यपाल वीपी सिंह के बड़े भाई रघुराज सिंह की पार्थिव देह बुधवार दोपहर एक बजे जलमहल पहुंची। इससे पहले उनके बड़े बेटे रणंजय सिंह राठौड़ का राजपरिवार की रिवाज के अनुसार राजतिलक किया गया।

दोपहर 3 बजे पंजाब के अतिरिक्त मुख्य सचिव डीपी रेड्डी, वन एवं पर्यावरण मंत्री साड़ूसिंह धर्मसोठ आदि ने श्रद्धा-सुमन अर्पित किए। जलमहल से दोपहर 3:30 बजे अंतिम यात्रा शुरू हुई। अक्षय सागर तालाब में राजघराने के पूर्वजों की बारह खंभों की छतरी पहुंची। अनंजय सिंह ने मुखाग्नि दी। कलेक्टर मुक्तानंद अग्रवाल, मुख्यमंत्री प्रतिनिधि के रूप जिला प्रमुख शक्ति सिंह हाड़ा ने पुष्प चक्र अर्पित किए। अजमेर मेयो कॉलेज से आए 300 अधिकारियों व छात्रों ने श्रद्धांजलि दी। मेयो प्रिंसिपल जनरल सुरेंद्र कुलकर्णी, मेयो गर्ल्स प्रिंसिपल कंचन खंडके, अलंकार भारद्वाज, मंडावर ठाकुर केशर सिंह, रणधीर सिंह, विक्रम सिंह मंडावर, पूर्व डीजी बलभद्र सिंह, बाघसूरी ठाकुर अजय विक्रम सिंह, अमेरिका से 12 मेयो काॅलेज के पूर्व छात्रों ने भी श्रद्धांजलि दी। भाजपा जिला अध्यक्ष दामोदर अग्रवाल, रघुनंदन सोनी शाहपुरा, मोहन सिंह जहाजपुर, राजकुमार आंचलिया मांडलगढ़, उम्मेदसिंह राठौड़ भीलवाड़ा, शुशील नुवाल भीलवाड़ा, उपजिला प्रमुख रामचंद्र सेन, उपप्रधान घनश्याम सिकलीगर, मंडल अध्यक्ष गोविंद सिंह चुंडावत मौजूद थे।

प्रेम भंडारी ने रघुराजसिंह के निधन पर सांत्वना दी

जयपुर फुट के चेयरमैन प्रेम भंडारी ने राज्यपाल वीपी सिंह बदनौर को उनके भाई के निधन पर शोक संवेदना व्यक्त की है। भंडारी ने यूएसए से फोन कर राज्यपाल को सांत्वना दी। उनकी तरफ से एक पुष्प चक्र भी अर्पित किया गया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shahpura

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×