Hindi News »Rajasthan »Shahpura» बच्छखेड़ा में निकाला वरघोड़ा, हेलीकॉप्टर से की पुष्पवर्षा

बच्छखेड़ा में निकाला वरघोड़ा, हेलीकॉप्टर से की पुष्पवर्षा

शाहपुरा क्षेत्र के बच्छखेड़ा स्थित श्री विमलनाथ जैन मंदिर की प्रतिष्ठा, कलश स्थापना व आराधना भवन के उद्घाटन...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 17, 2018, 07:00 AM IST

शाहपुरा क्षेत्र के बच्छखेड़ा स्थित श्री विमलनाथ जैन मंदिर की प्रतिष्ठा, कलश स्थापना व आराधना भवन के उद्घाटन महोत्सव मनाया जा रहा है। आचार्य जिनेंद्र सुरिश्वरजी के सुशिष्य आचार्य निपुणर| सुरिश्वरजी मसा आदि ठाणा एवं साध्वी गिनार्थ रेखा श्रीजी, हितार्थ रेखा श्रीजी, रुचि रेखा श्रीजी मसा के सानिध्य में आयोजित कार्यक्रम के दूसरे दिन शुक्रवार को वरघोड़ा निकाला गया।

प्रतिष्ठा, स्वर्ण कलश एवं ध्वजारोहण शनिवार को होगा। जैन श्वेतांबर संघ के तत्वावधान में सुबह 18 अभिषेक के बाद प्रवचन हुए। दोपहर में प्राचीन मंदिर से वरघोड़ा निकाला गया। गली-मोहल्लों को जैन पताकाओं से पाटा गया। जगह-जगह तोरण द्वार बनाए गए। वरघोड़ा में हाथी-घोड़ा पर बैठने के लिए बोली लगाई गई। भगवान विमलनाथ एवं अधिष्ठायक देव नाकोड़ा भैरूनाथ की प्रतिमा को रथ में विराजमान कराकर बोली लेने वाले ने चंवर से हवा की। वरघोड़ा जैन मंदिर से शुरू होकर मंदिर पहुंचा। इस दौरान महिलाएं सिर पर 16 सपनाजी लेकर निकलीं। संघ के हनुमान सिंह गोखरू ने बताया कि शनिवार को मंदिर पर कलश स्थापना, प्रतिष्ठा, ध्वजारोहण तथा आरती की जाएगी। रात्रि में भजन संध्या हुई। जिसमें उदयपुर के शुभम भक्ति ग्रुप ने भजनों की प्रस्तुति दी।

आयोजन

जैन मंदिर पर स्वर्ण कलश स्थापना आज, हाथी-घोड़े पर बैठने के लिए लगाई बोली, भजन कार्यक्रम आयोजित हुआ

धर्म में लगा पैसा व्यर्थ नहीं जाता: आचार्य निपुणर|

आचार्य निपुणर| सुरिश्वरजी मसा ने प्रवचन में कहा कि धर्म में लगा पैसा कभी व्यर्थ नहीं जाता है। व्यक्ति को अपनी आमदनी का निश्चित अंश दानकर पुण्य कमाना चाहिए। बोली लगाने वाले को निश्चित समय में ही संघ के पास जमा कराना चाहिए। बोली लगाने के बाद पैसा घर में रहना नुकसान का कारण बनता है। धर्म आराधना से नव युवाओं को धर्म के प्र्रति समजने तथा धर्म के पथ पर चलने के लिए अग्रसर करने का मौका मिलता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shahpura

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×