--Advertisement--

कोर्ट के बाहर ग्रिड शिफ्ट करने पर वकीलों का धरना

कार्यालय संवाददाता | शाहपुरा कस्बे में न्यायालय परिसर के सामने दीवार से सटाकर 33 केवी ग्रिड सबस्टेशन लगाने की...

Danik Bhaskar | Mar 30, 2018, 07:05 AM IST
कार्यालय संवाददाता | शाहपुरा

कस्बे में न्यायालय परिसर के सामने दीवार से सटाकर 33 केवी ग्रिड सबस्टेशन लगाने की कवायद के विरोध में गुरुवार को अधिवक्ताओं ने दी बार एसोसिएशन अध्यक्ष मुकेश कुमार व्यास के नेतृत्व में न्यायालय के मुख्य गेट के सामने धरना- प्रदर्शन किया। अधिवक्ताओं ने विरोध जताकर बिजली ग्रिड अन्यत्र स्थापित करने की मांग की। अधिवक्ता देर शाम तक धरने पर बैठे रहे।

अध्यक्ष मुकेश व्यास, उपाध्यक्ष नरेश शर्मा, महासचिव अवधेश शर्मा, संयुक्त सचिव राहुल मिश्रा व कोषाध्यक्ष सोहनलाल ने कहा कि प्रशासन की ओर से पीपली तिराहे के पास स्थित 33 केवी बिजली ग्रिड को कोर्ट गेट के पास शिफ्ट करने की कवायद की जा रही है। इसके लिए निगम के सहायक अभियंता ने मौका मुआयना भी किया। उक्त स्थान कोर्ट परिसर से सटा है। कस्बे की मुख्य सड़क व ठीक सामने पेट्रोल पप होने से हादसे की आशंका रहेगी। इसके आसपास कई बैंक शाखाएं भी संचालित है। कस्बे का सबसे व्यस्ततम क्षेत्र है। अधिवक्ताओं ने कहा कि न्यायालय परिसर में रोजाना सैकड़ों लोगों की आवाजाही होती है। ऐसे में यहां ग्रिड शिफ्ट करने से हर समय हादसे की आशंका रहेगी। पिछले दिनों खातोलाई में ट्रांसफार्मर ब्लास्ट होने से 21 लोग हादसे का शिकार हो गए थे। उन्होंने बताया कि पहले यहां प्याऊ एवं सार्वजनिक शौचालय बना हुआ था, लेकिन सड़क निर्माण के दौरान तोड़ दिया। उक्त स्थान पर पुन: प्याऊ लगवाने और पार्किंग व्यवस्था करने की मांग की। इससे पहले वकीलों ने एसडीएम रवि विजय को ज्ञापन सौंपकर बिजली ग्रिड अन्यत्र स्थापित की मांग की।



कार्यालय संवाददाता | शाहपुरा

कस्बे में न्यायालय परिसर के सामने दीवार से सटाकर 33 केवी ग्रिड सबस्टेशन लगाने की कवायद के विरोध में गुरुवार को अधिवक्ताओं ने दी बार एसोसिएशन अध्यक्ष मुकेश कुमार व्यास के नेतृत्व में न्यायालय के मुख्य गेट के सामने धरना- प्रदर्शन किया। अधिवक्ताओं ने विरोध जताकर बिजली ग्रिड अन्यत्र स्थापित करने की मांग की। अधिवक्ता देर शाम तक धरने पर बैठे रहे।

अध्यक्ष मुकेश व्यास, उपाध्यक्ष नरेश शर्मा, महासचिव अवधेश शर्मा, संयुक्त सचिव राहुल मिश्रा व कोषाध्यक्ष सोहनलाल ने कहा कि प्रशासन की ओर से पीपली तिराहे के पास स्थित 33 केवी बिजली ग्रिड को कोर्ट गेट के पास शिफ्ट करने की कवायद की जा रही है। इसके लिए निगम के सहायक अभियंता ने मौका मुआयना भी किया। उक्त स्थान कोर्ट परिसर से सटा है। कस्बे की मुख्य सड़क व ठीक सामने पेट्रोल पप होने से हादसे की आशंका रहेगी। इसके आसपास कई बैंक शाखाएं भी संचालित है। कस्बे का सबसे व्यस्ततम क्षेत्र है। अधिवक्ताओं ने कहा कि न्यायालय परिसर में रोजाना सैकड़ों लोगों की आवाजाही होती है। ऐसे में यहां ग्रिड शिफ्ट करने से हर समय हादसे की आशंका रहेगी। पिछले दिनों खातोलाई में ट्रांसफार्मर ब्लास्ट होने से 21 लोग हादसे का शिकार हो गए थे। उन्होंने बताया कि पहले यहां प्याऊ एवं सार्वजनिक शौचालय बना हुआ था, लेकिन सड़क निर्माण के दौरान तोड़ दिया। उक्त स्थान पर पुन: प्याऊ लगवाने और पार्किंग व्यवस्था करने की मांग की। इससे पहले वकीलों ने एसडीएम रवि विजय को ज्ञापन सौंपकर बिजली ग्रिड अन्यत्र स्थापित की मांग की।

शाहपुरा एसडीएम को सौंपा ज्ञापन, बिजली ग्रिड अन्यत्र स्थापित करने की मांग