--Advertisement--

शीतला माता को चढ़ाई ठंडे पकवानों की कंडवारी

शाहपुरा. सेडकाबास शीतला माता मंदिर में पूजा-अर्चना करती महिलाएं। शाहपुरा. सेडकाबास शीतला माता मंदिर में...

Danik Bhaskar | Mar 10, 2018, 07:05 AM IST
शाहपुरा. सेडकाबास शीतला माता मंदिर में पूजा-अर्चना करती महिलाएं।

शाहपुरा. सेडकाबास शीतला माता मंदिर में पूजा-अर्चना करती महिलाएं।

कार्यालय संवाददाता | शाहपुरा

शहर सहित आसपास के क्षेत्र में शुक्रवार को शीतलाष्टमी पर्व धूमधाम से मनाया गया। क्षेत्र में कई स्थानों पर शीतला माता के मेले लगे। अल्सुबह ही शहर के सेडकाबास स्थित शीतला माता मंदिर में पूजा अर्चना करने के लिए महिलाओं की भीड़ लगी रही। महिलाओं द्वारा सर्वप्रथम शीतला माता को शीतल जल से नहलाया गया। इसके बाद महिलाओं ने नये परिधान पहनकर घर में रांदापुआ में बनाए गए ठंडे पकवानों को मिट्टी की सराईयों में कंडवारी सजाकर गीत गाते हुए माता के दरबार में पहुंचे, जहां पर माता के ठंडे पकवानों का भोग लगाकर परिवार की सुख समृद्धि की कामना की। घरों में ठंडे पकवानों का ही भोजन किया गया।

इसी प्रकार धौला, गठवाड़ी, अजीतगढ़, पावटा ग्रामीण, भानपुर कलां में भी शीतला अष्टमी पर माता के मंदिरों में महिलाओं ने ठंडे पकवानों का भोग लगाकर पूजा-अर्चना की। इस मौके पर कई जगह माता का मेला भी भरा। मेले में बड़ी संख्या में महिलाओं की भीड़ रही।

बस्सी/बस्सीचक/तूंगा | शीतलाष्टमी पर श्रृद्धालुओं ने अपने अपने गांवों में स्थित शीतला माता के स्थानों पर सवेरे तडके ही जाकर ढोक लगाई एवं उनका पूजन कर परिवार की सुख समृद्धि की कामना की। इस अवसर पर लोगो ने माता को बासी और ठण्डे पकवानों का भोग लगाकर स्वयं भी बासी भोजन ही ग्रहण किया। वहीं महिलाओं ने माता की कथा भी सुनी।

बांसखो | कस्बे सहित झरए पाटनए भटेरीए राजपुरा पातलवास सहित आसपास क्षेत्र मे शीतलाष्टमी का पर्व शुक्रवार को श्रद्धा के साथ मनाई गई। इससे पूर्व शुभ मुहूर्त मे शीतला माता को महिलाओं ने पूजा अर्चना कर ठंडे पकवानों का भोग लगाकर सुख.समृध्दी की कामना की। अलसुबह से ही महिलाएं समूह बना कर शीतला माता के पूजन के लिए निकली तथा माता को पुए.पूड़ीए लापसीए छाछ.राबड़ी आदि के ठंडे पकवानों का भोग लगाया। महिलाओं ने समूह मे कथा सुनी।

जटवाड़ा | क्षेत्र में शीतलाष्टमी पर शुक्रवार को महिलाओं ने शीतला माता की पूजा अर्चना कर ठंडे पकवानों का भोग लगाया। इस अवसर पर माता के मंदिरों में महिलाओं की भारी भीड़ रही। महिलाओं ने शीतला माता को पुए.पूड़ीए लापसीए छाछ.राबड़ी आदि का भोग लगाया। शीतला माता मंदिर पर भीड़ के चलते महिलाओं को बारी का इंतजार करना पड़ा। सुबह से दिन चढ़ने तक मंदिर पर मेला लगा रहा। शीतला माता के मंदिरों में महिलाओं ने पूजा अर्चना की। दोपहर बाद गणगौर पूजन करने वाली युवतियों ने दूल्हा.दुल्हन का वेश बनाकर जुलूस निकाला। घरों में लोगों ने ठंडे पकवानों का सेवन किया।

सांभरिया (बस्सी) | कस्बा समेत आस .पास के क्षेत्र में शुक्रवार को शीतलाष्टमी हर्षोल्लास से मनाई गई। महिलाओं नें शीतला माता को ठंडे पकवानों का भोग लगाया। पर्व को लेकर सवेरे ही महिलाएं नए वस्त्र पहनकर एवं परिधान सजाकर मंगल गीत गाती हुई शीतला माता मंदिर पहुचकर माता की आरती की व पेठा, हलुवा, रोटी, चावल, राबडी, चावल, पुडी, भोगले, चिप्स, दही आदि ठंडे पकवानों का भोग लगाया।

मानसर खेड़ी | शीतला अष्टमी का पर्व शुक्रवार को धूमधाम से मनाया गया। श्रद्धालुओं ने शीतला माता को बासोड़ा का भोग लगाया तथा खुशहाली की कामना की। इस मौके शीतला माता के मंदिरों में मेलों का आयोजन किया गया। शीतला माता के मंदिरो में सुबह से ही विशेष पूजा- अर्चना की गई। मंदिर परिसर में दिनभर श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। मेलार्थियों ने मेले में सजी दुकानों पर खरीदारी की। श्रद्धालुओं ने शीतला माता को नारियल, गुड बासोड़ा का भोग लगाकर खुशहाली की कामना की। मंदिर में दर्शन किए। मान्यतानुसार इस अवसर पर कई माता पिता अपने बच्चों को लेकर पहुंचे और धोक दिलवाकर अच्छे स्वास्थ्य खुशहाली की कामना की।

नायला में विभिन्न प्रतियोगिताएं

बूज मानोता | नायला स्थित शील डूॅगरी पर शुक्रवार को शीतला माता का विशाल मेला भरा। मेले के दौरान ग्राम पंचायत द्वारा अनेक प्रतियोगिताएं आयोजित की गई। मेले में आसपास के गांवों से हजारों की संख्या में श्रृद्धालुओं ने भाग लिया। मेले में दिन भर पुुलिस व प्रशासन ने शांति व्यवस्था बनाएं रखी। प्र्रतियोगिताओं में विजयी रहे खिलाड़ियों को सरपंच मोहनलाल मीणा द्वारा सम्मानित किया गया।

अमरसर | हनूतपुरा में शुक्रवार को शीतला माता के विशाल मेला भरा। जिसमें आसपास के सभी भक्तों ने मां के दरबार में धोक लगाकर आशीर्वाद लिया।

मानसर खेडी. माता का पूजन करती महिलाएंं

पावटा ग्रामीण. शीतला माता की पूजा अर्चना करती महिलाएं।