Hindi News »Rajasthan »Shahpura» मैड़ में चार भाइयों के पशुघरों में आग, तीन बंधी भैंसें झुलसीं

मैड़ में चार भाइयों के पशुघरों में आग, तीन बंधी भैंसें झुलसीं

स्थानीय पंचायत क्षेत्र के बस स्टैंड के समीप गुरुवार को चार किसानों के पशु आवास में एकाएक आग लग जाने से पशु घरों में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 06, 2018, 07:20 AM IST

मैड़ में चार भाइयों के पशुघरों में आग, तीन बंधी भैंसें झुलसीं
स्थानीय पंचायत क्षेत्र के बस स्टैंड के समीप गुरुवार को चार किसानों के पशु आवास में एकाएक आग लग जाने से पशु घरों में बंधे मवेशी आग की लपटों में जलकर जख्मी हो गए जहां पशुओं के रम्भाने के बावजूद आग के विकराल रूप धारण करने से खूटों से बंधे पशुओं को खोलकर नहीं बचाया जा सका। वहीं पशु घरों में रखा बेतहाशा चारा सहित अनेक घरेलू उपयोगी सामान आग में जलकर राख हो गया। परिजनों को बस स्टैंड पर लोगों ने देखकर तुरत फुरत दौड़कर आग बुझाने में पूरी मदद की। जनसहयोग से आग पर दो घंटे में काबू पा लिया गया। अन्यथा आग अनियंत्रित होकर पास में बने कच्चे-पक्के आवासों को भी अपने आगोश में लेकर भारी क्षति कर डालती।

बस स्टैंड के नजदीक रहने वाले किसान उमराव यादव, शिम्भू दयाल, मोहन लाल, गोरूराम यादव के रिहायशी आवासों से सटे हुए आठ से अधिक पशु घरों पर अचानक आग लग जाने के बाद ऊपर उठती हुई तेज लपटों को बस स्टैंड पर मौजूद खड़े सैकड़ों लोगों ने यकायक देखा तो आगजनी स्थल की ओर दौड़ पड़े। यहां कई हिम्मतवान लोगों ने पानी से भीगी गुदड़ियां ओढकर पशु घरों में घुसकर बंधे मवेशियों को खोलकर बचाने में कामयाबी हासिल तो की लेकिन लपटों से पशु बुरी तरह जलकर जख्मी हो गए। इसके बाद मददगारों ने पशु आवासों में रखा कीमती सामान पशुओं के लिए रखे बांट, काकड़े, खल की बोरियों को निकाला लेकिन तब तक वो सब जलकर खाक हो चुकी थी।

कोल्ड ड्रिंक के 20 कार्टन राख

हवा के तेज झोंकों से आगजनी की चपेट में दो पड़ोसी दुकानदार बल्लूराम सैनी के गोदाम में विक्रय करने के लिए रखे कोल्ड ड्रिंक के 20 काटून सहित श्यौराम चौधरी का रखा हजारों का उपयोगी सामान खिड़कियों से निकली लपटों से जलकर राख हो गया। जहां आसपास के लोगों ने बोरिंगे चलाकर आग पर कड़ी महनत कर काबू पाया।

पशु आवासों में लगी आग को बुझाने का जतन करते ग्रामीण

मौके पर पटवारी नहीं होता तो बेकाबू हो जाती आग

पंचायत मुख्यालय पर मौजूद पटवारी रमेश चंद मीणा ने जब किसानों के पशुओं के कच्चे घरों पर लगी आगजनी को देखा तो हवा के तेज झोंकों से विकराल रूप धारण करने वाली आग पर काबू पाने के लिए तुरन्त प्रभाव से बिजली ग्रिड पर फोन कर सप्लाई चालू करवाई जिससे आसपास के बोरिंग चालू करवाकर आग पर समय रहते नियंत्रण कर लिया गया।

विलाप करने लगी महिलाएं: जिस समय पशु आवासों पर भारी आगजनी हो रही थी वहीं अपने पशुओं को लपटों में घिरकर जलता देखकर पीड़ित परिवार की कृषक महिलाएं विलाप करती रही।

बीलवाड़ी में भी आग से तीन कच्चे घर जले

विराटनगर | बीलवाडी ग्राम पंचायत के चतरपुरा में गुरूवार दोपहर को तीन परिवारों के तीन कच्चे घर में आग लग गई। घरों में रखा सामान जल गया। आग पर बाेरिंग से पानी डालकर काबू पाया। जानकारी के अनुसार चतरपुरा में राजेन्द्र पुत्र सत्यनारायण स्वामी, रविप्रकाश पुत्र सत्यनारायण स्वामी, सावित्री प|ी सत्यनारायण स्वामी के तीन कच्चे घरों में आग लग गई। सूचना पर सरपंच सुनीता सिंधु, मुरारी सिंधु आदि पहुंचे। आग पर बाेरिंग चालू कर पानी डालकर काबू पाया। इधर सूचना पर शाहपुरा से दमकल भी रवाना हो गई,लेकिन रास्ता सहीं नहीं होने के चलते घटनास्थल पर दमकल नहीं पहुंच पाई।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shahpura

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×