शाहपुरा

--Advertisement--

पालने में आई 3 दिन की मासूम, नाम दिया शिवी

भास्कर संवाददाता | भीलवाड़ा महात्मा गांधी अस्पताल (एमजीएच) के पालने में मंगलवार देर रात कोई नवजात बच्ची को छोड़...

Danik Bhaskar

Feb 08, 2018, 07:30 AM IST
भास्कर संवाददाता | भीलवाड़ा

महात्मा गांधी अस्पताल (एमजीएच) के पालने में मंगलवार देर रात कोई नवजात बच्ची को छोड़ गया। नवजात को पालने में रखते ही घंटी बजी तब अस्पतालकर्मियों ने उसे संभाला व शिशु वार्ड में भर्ती कराया। बच्ची स्वस्थ है। हाथ पर लगे टैग से पता चला कि जन्म सोमवार (5 फरवरी) को हुआ था। महाशिवरात्रि भी नजदीक होने से उसे शिवी नाम दिया गया है।

मंगलवार देर रात करीब 12 बजे एमजी अस्पताल में लगे पालने की घंटी बजी। कर्मचारी बाहर आए तो पालने में नवजात थी। उसे शिशु वार्ड में भर्ती कर बाल कल्याण समिति को सूचना दी गई। समिति अध्यक्ष डॉ. सुमन त्रिवेदी अस्पताल पहुंची और बच्ची के स्वास्थ्य की जानकारी ली। त्रिवेदी का कहना है कि बच्ची का जन्म सोमवार को किसी अस्पताल में ही हुआ है। उसके हाथ पर नीले रंग की टैग लगी है। बालिका स्वस्थ है। उसका वजन करीब 2 किलो 190 ग्राम व ब्लड ग्रुप एबी पॉजीटिव है। तीन-चार दिन में नवजात को पालड़ी स्थित शिशु गृह भेजा जाएगा।

बच्ची के हाथ पर टैग लगा होने से पता चला जन्म 5 फरवरी को हुआ, पालड़ी शिशु गृह भेजेंगे

नवजात शिवी के साथ बाल कल्याण समिति अध्यक्ष।

पालने में अब तक छोड़े 12 नवजात, बेटियां ज्यादा... अस्पताल परिसर में जून 2014 में पालना लगवाया गया था। अब तक इसमें 12 नवजात छोड़े गए। इनमें पांच बच्चे व सात बच्चियां हैं। मंगलवार रात से पूर्व पालने में गत साल 3 अक्टूबर को भी नवजात बच्ची को छोड़ा गया था। उसे बाल कल्याण समिति ने मोना नाम दिया था। इसी तरह का एक पालना जिले के शाहपुरा स्थित सेटेलाइट हॉस्पिटल में भी लगा रखा, लेकिन वहां फिलहाल किसी नवजात को नहीं छोड़ा गया।

Click to listen..