• Hindi News
  • Rajasthan
  • Shahpura
  • घरटा गांव में कलश स्थापना महोत्सव, हरिबोल प्रभात फेरियों का समागम, 63 जोड़ों ने यज्ञ में दी आहुतियां
--Advertisement--

घरटा गांव में कलश स्थापना महोत्सव, हरिबोल प्रभात फेरियों का समागम, 63 जोड़ों ने यज्ञ में दी आहुतियां

Dainik Bhaskar

Feb 22, 2018, 07:40 AM IST

Shahpura News - घरटा गांव के देवनारायण मंदिर में दो दिवसीय कलश स्थापना महोत्सव के अंतिम दिन बुधवार को हरिबोल प्रभात फेरियों का...

घरटा गांव में कलश स्थापना महोत्सव, हरिबोल प्रभात फेरियों का समागम, 63 जोड़ों ने यज्ञ में दी आहुतियां
घरटा गांव के देवनारायण मंदिर में दो दिवसीय कलश स्थापना महोत्सव के अंतिम दिन बुधवार को हरिबोल प्रभात फेरियों का समागम हुआ। पहले दिन मंगलवार रात मंदिर परिसर में बद्री लाल एण्ड पार्टी,घीसू लाल गाडरी व देवबक्ष गाडरी द्वारा भगवान देवनारायण की कथा का वाचन किया गया। कॉमेडियन देबीलाल गाडरी ने लोगों को गुदगुदाया। जग्गू राणा नारायण चीता ने नृत्य की प्रस्तुति दी। बद्री लाल ने साड़ू माता) का नाट्य मंचन किया। सुबह 8 बजे देवनारायण मंदिर से बैंडबाजों के साथ हरिबोल प्रभात फेरियों का आयोजन शुरू हुआ। तेली मोहल्ला माता मंदिर, गुर्जर मोहल्ला, जाट मोहल्ला होकर वापस देवनारायण मंदिर पहुंची। कलश स्थापना महोत्सव की पूर्णाहुति महायज्ञ में 63 जोड़ों ने आहुतियां दी। सुबह 11:30 बजे भगवान देवनारायण मंदिर के शिखर पर कलश स्थापना की गई। इस दौरान पंचायत समिति सदस्य घेवर चंद बाफना, सरपंच रणजीत जाट, डेयरी अध्यक्ष भाग चंद जाट, नारायण गुर्जर, शाहपुरा ब्लाॅक कांग्रेस अध्यक्ष दिलीप गुर्जर, ब्लाॅक उपाध्यक्ष रामेश्वर सौलंकी, रमेश वैष्णव, पूर्व पार्षद राजेश कुमार आदि मौजूद थे।

देवनारायण मंदिर में हवन में दी आहुतियां

मांडलगढ़ | महुआ के पास देवनारायण मंदिर परिसर में सप्तमी बंधेज पर हवन पूजन किया गया। इस मौके पर रात्रि में भजन संध्या हुई। जिसमें भजन कलाकारों ने भजनों की प्रस्तुति दी।

X
घरटा गांव में कलश स्थापना महोत्सव, हरिबोल प्रभात फेरियों का समागम, 63 जोड़ों ने यज्ञ में दी आहुतियां
Astrology

Recommended

Click to listen..