--Advertisement--

चौमू में टिकट काट दिए और रोडवेज बस आई ही नहीं

शहर के बस स्टैंड पर सोमवार देर शाम को उस समय हरिद्वार जाने वाले यात्रियों ने हंगामा खड़ा कर दिया, जब बस के लिए टिकट तो...

Danik Bhaskar | Feb 27, 2018, 08:05 AM IST
शहर के बस स्टैंड पर सोमवार देर शाम को उस समय हरिद्वार जाने वाले यात्रियों ने हंगामा खड़ा कर दिया, जब बस के लिए टिकट तो अधिक काट दिए और दो बसों में से एक बस ही बस स्टैंड पर पहुंची और रोडवेज स्टाफ ने दूसरे बस के यात्रियों को एडजेस्ट कर यात्रा करने के लिए कह दिया। यात्रियों का कहना था कि जब बस एक ही आने वाली थी, तो रोडवेज प्रबंधन ने रिजर्वेशन टिकटों के अलावा अधिक टिकट क्याें काट दिए। रिजर्वेशन करवाए हुए यात्रियों ने बताया कि जिन यात्रियों ने बाद में या रास्ते में कन्डक्टर से टिकट कटवाकर बस में बैठकर आए है वे उन्हें बैठने की सीट ही नहीं दे रहे है, जबकि उनका रिजर्वेशन पहले से ही हो चुका है। यदि सवारियां अधिक हो गई थी, तो रोडवेज वालों को दूसरी गाड़ी मंगवाकर यात्रियों को भिजवाना चाहिए। रोडवेज कर्मी यात्रियों से कह रहे है कि एक बस में ही एडजेस्ट होकर चले जाओ। इससे गुस्साए यात्रियों ने बस स्टैंड पर हंगामा करना शुरू कर दिया। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई और यात्रियों की पीड़ा सुनकर रोडवेज बुकिंग कर्मियों को दूसरी बस और मंगवाने के लिए कहा। हंगामा बढ़ने पर रोडवेज बुकिंग कर्मियों ने अधिकारियों से बात की और शाहपुरा से दूसरी बस मंगवाई। बाद में करीब 9 बजे शहर में 25 सीटर बस आई, जो यात्रियों को शाहपुरा तक छोड़ेगी। उसके बाद बड़ी बस में बैठकर यात्री हरिद्वार जाएंगे।

अव्यवस्था

कार्यालय संवाददाता | चौमू

शहर के बस स्टैंड पर सोमवार देर शाम को उस समय हरिद्वार जाने वाले यात्रियों ने हंगामा खड़ा कर दिया, जब बस के लिए टिकट तो अधिक काट दिए और दो बसों में से एक बस ही बस स्टैंड पर पहुंची और रोडवेज स्टाफ ने दूसरे बस के यात्रियों को एडजेस्ट कर यात्रा करने के लिए कह दिया। यात्रियों का कहना था कि जब बस एक ही आने वाली थी, तो रोडवेज प्रबंधन ने रिजर्वेशन टिकटों के अलावा अधिक टिकट क्याें काट दिए। रिजर्वेशन करवाए हुए यात्रियों ने बताया कि जिन यात्रियों ने बाद में या रास्ते में कन्डक्टर से टिकट कटवाकर बस में बैठकर आए है वे उन्हें बैठने की सीट ही नहीं दे रहे है, जबकि उनका रिजर्वेशन पहले से ही हो चुका है। यदि सवारियां अधिक हो गई थी, तो रोडवेज वालों को दूसरी गाड़ी मंगवाकर यात्रियों को भिजवाना चाहिए। रोडवेज कर्मी यात्रियों से कह रहे है कि एक बस में ही एडजेस्ट होकर चले जाओ। इससे गुस्साए यात्रियों ने बस स्टैंड पर हंगामा करना शुरू कर दिया। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई और यात्रियों की पीड़ा सुनकर रोडवेज बुकिंग कर्मियों को दूसरी बस और मंगवाने के लिए कहा। हंगामा बढ़ने पर रोडवेज बुकिंग कर्मियों ने अधिकारियों से बात की और शाहपुरा से दूसरी बस मंगवाई। बाद में करीब 9 बजे शहर में 25 सीटर बस आई, जो यात्रियों को शाहपुरा तक छोड़ेगी। उसके बाद बड़ी बस में बैठकर यात्री हरिद्वार जाएंगे।

यात्रियों ने खड़ा किया हंगामा, एक ही बस में 90 यात्री ठूंस कर ले जाने की बात से बिगड़ा मामला

90 सवारी और एक बस

चौमू से हरिद्वार की दूरी सैकड़ों किलोमीटर है। ऐसी स्थिति में शाहपुरा तक यात्रियों का एडजेस्ट होकर जाना भी मुश्किल है जबकि रोडवेज कर्मी यात्रियों को एडजेस्ट करके चलने की नसीहत दे रहे थे जिससे यात्री उखड़ पड़े। रोडवेज कर्मियों ने बताया कि चौमू से कुल 28 रिजर्वेशन हुए थे। जोबनेर से हरिद्वार जाने तक कुल 90 यात्री हो गए थे। हमने दूसरी बस की व्यवस्था की थी, जो शाहपुरा से आनी है। ऐसी स्थिति में हमने यात्रियों को शाहपुरा तक एक ही बस में एडजेस्ट होकर जाने की बात कही थी और यात्री हंगामा करने लग गए।

शाहपुरा तक गए यात्री, फिर दूसरी बस मिली

चौमू बुकिंग में कार्यरत ड्यूटी आॅफिसर धर्मपाल ने बताया कि हरिद्वार जाने वाले यात्रियों की संख्या बढ़ जाने पर और बसों की व्यवस्था की जाती है। आज भी 90 यात्री हो गए थे। इसलिए दो बसों को ही हरिद्वार जाना है, लेकिन एक बस खराब होने के कारण शाहपुरा में ब्रेक डाउन हो गया था। इसलिए यात्रियों का समय खराब न हो, इस कारण बुकिंग कर्मियों ने यात्रियों को शाहपुरा तक एडजेस्ट होकर जाने के लिए कहा था, लेकिन यात्रियों ने चौमू में बस बुलाने की मांग की। इसके तहत बस की व्यवस्था कर दी गई जो यात्रियों को शाहपुरा लेकर जाएगी और वहां से दूसरी बस से हरिद्वार के लिए यात्री रवाना होंगे।