• Home
  • Rajasthan News
  • Shahpura News
  • अंबेडकर राष्ट्र को जोड़ने वाला संविधान बनाया : राव राजेंद्र सिंह
--Advertisement--

अंबेडकर राष्ट्र को जोड़ने वाला संविधान बनाया : राव राजेंद्र सिंह

शाहपुरा | शहर के खेल स्टेडियम के पास तमिया में अंबेडकर की ़127जयंती पर शनिवार को विधानसभा उपाध्यक्ष राव...

Danik Bhaskar | Apr 15, 2018, 02:50 AM IST
शाहपुरा | शहर के खेल स्टेडियम के पास तमिया में अंबेडकर की ़127जयंती पर शनिवार को विधानसभा उपाध्यक्ष राव राजेन्द्रसिंह ने अंबेडकर भवन के निर्माण के लिए भूमि पूजन कर शिलान्यास किया। समारोह में विधानसभा उपाध्यक्ष ने संबोधित करते हुए कहा कि संविधान के निर्माता डा.भीमराव अंबेडकर राष्ट्र को जोड़ने वाला संविधान बनाया था लेकिन कुछ लोग स्वार्थ पूर्ति के कारण अफवाह फैलाकर समाज को तोड़ने पर लगे हुए है ।

कार्यक्रम की अध्यक्षता नगरपालिका अध्यक्ष रजनी पारीक ने की। कार्यक्रम में संबोधित करते हुए कहा कि विधानसभा उपाध्यक्ष ने शाहपुरा क्षेत्र में विकास की गंगा बहाई है। यहां तमिया में भवन बनने से समाज के लोगों को काफी लाभ होगा। भाजपा नगर मंडल अध्यक्ष कैलाश खंडेलवाल ने कहा कि शाहपुरा क्षेत्र में विधानसभा उपाध्यक्ष ने सामाजिक समरसता का माहौल कायम किया है। पार्षद गुड्डू सैनी ने भी संबोधित करते हुए कहा कि विधानसभा उपाध्यक्ष ने क्षेत्र के विकास में कोई कमी नहीं छोड़ी है। समारोह में नगरपालिका उपाध्यक्ष रविश खटाणा, हिम्मत सिंह चौहान,पार्षद मनीषा माउरामका, विक्की किलेदार, पार्षद धोलूराम सैनी, किरण शर्मा, रेणू चौधरी, पूर्व पार्षद राजेन्द्र पलसानिया, सुभाष जोशी,सीताराम शर्मा, भाजपा नेता लल्लूराम अग्रवाल,जगदीश बल्लीवाल,महादेव छैला,भाजपा महिला मोर्चा की मंडल अध्यक्ष नीरज गौरा,भाजपा के पूर्व जिला उपाध्यक्ष नाथू मिस्त्री, महेश पारीक एसडीएम रवि विजय, डीएसपी भागचंद मीणा, ईओ फतेहसिंह मीणा, विकास अधिकारी कुलदीप सिंह, थाना प्रभारी वीरेंद्रसिंह राठौड़ ,सीडीपीओ सतपाल यादव,बीईओ बृजभूषण चौहान, समेत बड़ी संख्या में कर्मचारी एवं लोग मौजूद थे। पिछले दिनो तमिया में कई मकान तोड़ने से वहां रह रहे निवासियों को आने वाले समय में प्रशासन द्बारा अन्य मकानों के तोड़ने का का भय सता रहा था विधानसभा उपाध्यक्ष राव राजेंद्र सिंह ने कि अब तमिया में मकानों के पट्टे दिए जाएंगें यह घोषणा होते ही पांडाल लोगों की तालियों से काफी देर तक गूंजता रहा।