• Home
  • Rajasthan News
  • Shahpura News
  • दो साल में पचास से अधिक चोरियां करने के चार आरोपी गिरफ्तार, 8 बाइक व वाहनों के पुर्जे जब्त
--Advertisement--

दो साल में पचास से अधिक चोरियां करने के चार आरोपी गिरफ्तार, 8 बाइक व वाहनों के पुर्जे जब्त

भास्कर संवाददाता | मांडल/भीलवाड़ा मांडल पुलिस ने चोर गैंग का खुलासा किया है। ये गैंग हाईवे स्थित होटल, ढाबा,...

Danik Bhaskar | Apr 10, 2018, 05:05 AM IST
भास्कर संवाददाता | मांडल/भीलवाड़ा

मांडल पुलिस ने चोर गैंग का खुलासा किया है। ये गैंग हाईवे स्थित होटल, ढाबा, भोजनालय आदि से छिटपुट सामान के साथ ही उनके बाहर से दो व चार पहिया वाहन चोरी करती हैं। दो साल में 50 से अधिक वारदात को अंजाम देने के आरोप में पुलिस ने चार बदमाशों को गिरफ्तार किया।

आरोपी करीब दो साल से भीलवाड़ा के साथ ही अजमेर व पाली जिलों में वारदात कर रहे थे। पकड़े गए चार में से एक बदमाश को शहर के चारों थानों की पुलिस चोरी के आरोप में गिरफ्तार कर चुकी है। आरोपियों की निशानदेही से पुलिस ने चोरी की 8 बाइक के साथ ही चार व दो पहिया वाहनों के टायर, बैटरी आदि सामान भी बरामद किया है।

मांडल एसएचओ दिनेश कुमावत ने बताया कि हाईवे सहित अन्य क्षेत्रों में हुई वाहन चोरी की घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए एसपी प्रदीप मोहन शर्मा ने एएसपी सहाड़ा अरुण माचा व डीएसपी मांडल चंचल मिश्रा को वारदात के खुलासे के लिए कहा। इस पर एएसपी ने मांडल एसएचओ दिनेश कुमावत के नेतृत्व में एएसआई साबिर मोहम्मद आदि को शामिल करते हुए टीम का गठन कर चोरी के आरोप में बनेड़ा थानान्तर्गत रामपुरिया निवासी तारु उर्फ सुल्तान पुत्र घीसू खां मेरात, सदर क्षेत्र के बड़ा महुआ हाल मांडल चौराहा पर रहने वाले हेमराज पुत्र गणेश लुहार, बनेड़ा के ही चमनपुरा के गणेश पुत्र हीरानाथ व चित्तौड़ जिले के राशमी थानान्तर्गत हीराखेड़ी निवासी किशन पुत्र नारायण अहीर को गिरफ्तार कर उनके पास से चुराया गया कुछ सामान बरामद किया।

मंदिर में दर्शन करने गए, आस-पास चोरियां कर आपस में बांट लिए रुपए


भास्कर संवाददाता | मांडल/भीलवाड़ा

मांडल पुलिस ने चोर गैंग का खुलासा किया है। ये गैंग हाईवे स्थित होटल, ढाबा, भोजनालय आदि से छिटपुट सामान के साथ ही उनके बाहर से दो व चार पहिया वाहन चोरी करती हैं। दो साल में 50 से अधिक वारदात को अंजाम देने के आरोप में पुलिस ने चार बदमाशों को गिरफ्तार किया।

आरोपी करीब दो साल से भीलवाड़ा के साथ ही अजमेर व पाली जिलों में वारदात कर रहे थे। पकड़े गए चार में से एक बदमाश को शहर के चारों थानों की पुलिस चोरी के आरोप में गिरफ्तार कर चुकी है। आरोपियों की निशानदेही से पुलिस ने चोरी की 8 बाइक के साथ ही चार व दो पहिया वाहनों के टायर, बैटरी आदि सामान भी बरामद किया है।

मांडल एसएचओ दिनेश कुमावत ने बताया कि हाईवे सहित अन्य क्षेत्रों में हुई वाहन चोरी की घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए एसपी प्रदीप मोहन शर्मा ने एएसपी सहाड़ा अरुण माचा व डीएसपी मांडल चंचल मिश्रा को वारदात के खुलासे के लिए कहा। इस पर एएसपी ने मांडल एसएचओ दिनेश कुमावत के नेतृत्व में एएसआई साबिर मोहम्मद आदि को शामिल करते हुए टीम का गठन कर चोरी के आरोप में बनेड़ा थानान्तर्गत रामपुरिया निवासी तारु उर्फ सुल्तान पुत्र घीसू खां मेरात, सदर क्षेत्र के बड़ा महुआ हाल मांडल चौराहा पर रहने वाले हेमराज पुत्र गणेश लुहार, बनेड़ा के ही चमनपुरा के गणेश पुत्र हीरानाथ व चित्तौड़ जिले के राशमी थानान्तर्गत हीराखेड़ी निवासी किशन पुत्र नारायण अहीर को गिरफ्तार कर उनके पास से चुराया गया कुछ सामान बरामद किया।

करीब चार माह पूर्व पाली की तरफ से आते ओम बन्ना मंदिर गए, वहां आसपास में चोरियां की। चुराए रुपए आपस में बांट लिए। पांच माह पूर्व नानकपुरा गुरुद्वारा के सामने मकान से चुराए रुपए भी आपस में बांट लिए। मोबाइल तारु ले गया। चार माह पूर्व बंकिया राणी माताजी के पास दुकानों से रुपए चुराए, जो आपस में बांट लिए। चार माह पूर्व पायरा चौराहा से एक आदमी का पर्स व फोन चुराया था। पर्स मे रुपए व एटीएम था। एटीएम कार्ड से गांधीनगर स्थित एटीएम से 2 हजार रुपए निकाले और आपस में बांट लिए। मोबाइल तारु ले गया। चार माह पूर्व मेजा बांध स्थित जोगणिया मंदिर के पास से बाइक चुराई। दो माह पूर्व मजदूर चौराहा से एक बाइक जबकि दो माह पूर्व शाहपुरा के पास से बाइक चुराना कबूला। इसके अलावा बंकिया राणी मंदिर से चुराई बाइक तारु ने बेच दी। सेंदड़ा के पास होटल से बाइक व दो मोबाइल चुराए। हरीपुरा चौराहा से आगे आसींद रोड से चुराई बाइक तारु ले गया। ब्यावर पेट्रोल पंप के पास से भी बाइक चुराई।