Hindi News »Rajasthan »Shahpura» एक लाइसेंस से दो दुकानों पर बेच रहे थे शराब एसडीएम को देख भागा ठेकेदार, दुकान सीज

एक लाइसेंस से दो दुकानों पर बेच रहे थे शराब एसडीएम को देख भागा ठेकेदार, दुकान सीज

स्थानीय लोगों की शिकायत पर एसडीएम कार्रवाई करने पहुंचे। दुकान सीज की और आबकारी आयुक्त को भी इससे अवगत कराया, लेकिन...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 11, 2018, 05:15 AM IST

स्थानीय लोगों की शिकायत पर एसडीएम कार्रवाई करने पहुंचे। दुकान सीज की और आबकारी आयुक्त को भी इससे अवगत कराया, लेकिन जिला आबकारी अधिकारी इस तरह की कार्रवाई होने को लेकर पल्ला झाड़ते नजर आए। सवाल यह है कि एक लाइसेंस पर दो जगह दुकानें चल रही थी और स्थानीय लोग इस बारे में करीब 10 बार शिकायत भी कर चुके थे फिर भी अधिकारी को इस बारे में कुछ पता ही नहीं है। इतना ही नहीं एसडीएम ने जब आबकारी निरीक्षक से पूछा तो उन्होंने भी एक लाइसेंस पर दो जगह दुकानें चलने की बात से इनकार कर दिया। जब आबकारी निरीक्षक के साथ एसडीएम मौके पर पहुंचे तो शिकायत सही मिली।

आबकारी निरीक्षक की मिलीभगत सामने आई: एसडीएम

एसडीएम यादव ने बताया कि लाइसेंस नवीनीकरण के बाद दो मार्च से बेगूं मार्ग पर स्थित शराब की दुकान नई आबादी में शिफ्ट होना थी, लेकिन आबकारी निरीक्षक व ठेकेदार की मिलीभगत से नई आबादी में भी दुकान खोल दी गई और बेगूं मार्ग वाली दुकान पर भी शराब बेची जा रही थी। उन्होंने बताया कि स्थानीय लोगों ने आबकारी निरीक्षक को कई बार शिकायत भी की, लेकिन आबकारी निरीक्षक ने किसी की नहीं सुनी। आबकारी निरीक्षक की कार्यशैली से आबकारी आयुक्त को अवगत कराया गया है। बुधवार को कलेक्टर को आबकारी निरीक्षक के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई के लिए लिखा जाएगा।

दुकान सीज करने पहुंचे एसडीएम आबकारी निरीक्षक से सवाल जवाब करते।

शराब की दुकान हटाने की मांग को लेकर वार्डवासियों ने किया प्रदर्शन... वार्डवासी अब्दुल रईस शेख ने बताया कि बस्ती के बीच आबकारी विभाग ने देशी और अंग्रेजी शराब का ठेका दे रखा है। विरोध के बावजूद आबकारी अधिकारियों ने ठेका चलाने की स्वीकृति दे दी। इससे लोगों में आक्रोश है। गत सप्ताह ग्रामीणों ने ठेके पर तालाबंदी भी कर दी थी। इसके बावजूद आबकारी विभाग ने धर्मस्थल और आबादी क्षेत्र में ठेका खोल दिया। इसके विरोध में मंगलवार को ग्रामीणों ने भाजपा नगर मंडल अध्यक्ष रमेश मारू, पार्षद सिद्दीक पठान, अब्दुल रईस शेख की अगुवाई में उपखंड अधिकारी कार्यालय के बाहर प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया गया कि शराब ठेके से कुछ दूरी पर अंतरराष्ट्रीय रामस्नेही संप्रदाय का रामद्वारा, गोशाला, मदरसा व स्कूल हैं।

एक लाइसेंस पर दो जगह शराब की दुकानें चल रही थी, ऐसा कोई मामला मेरी जानकारी में नहीं है। एसडीएम ने दुकान सीज की यह भी पता नहीं है। कुछ दिन पहले शिकायत मिलने पर एक जगह आबकारी निरीक्षक ने कार्रवाई जरूर की थी। जीपी रंगा, जिला आबकारी अधिकारी

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shahpura

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×