Hindi News »Rajasthan »Shahpura» अवैध बजरी परिवहन पर नहीं लग पा रही रोक

अवैध बजरी परिवहन पर नहीं लग पा रही रोक

सांभरिया (बस्सी)| सुप्रीम कोर्ट की रोक के बाद भी खनिज विभाग के अधिकारियों व पुलिस प्रशासन की अनदेखी से सुबह-शाम अवैध...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 14, 2018, 06:00 AM IST

अवैध बजरी परिवहन पर नहीं लग पा रही रोक
सांभरिया (बस्सी)| सुप्रीम कोर्ट की रोक के बाद भी खनिज विभाग के अधिकारियों व पुलिस प्रशासन की अनदेखी से सुबह-शाम अवैध बजरी से भरे ट्रक और ट्रैक्टर सांभरिया- कानोता मार्ग पर तेज गति से दौड़ रहे है। इससे हादसे का खतरा है। रेत का अवैध कारोबार जोरशोर से चल रहा है। बजरी खेल में लिप्त लोगों को न तो कानून का डर है और न ही किसी कार्यवाही का भय। नदियों काे छलनी कर रेत निकालने और उसे बेचने के गोरखधंधे में शासन को लाखों की चपत लग रही हैं। रोज शाम-सुबह अवैध बजरी से भरे ट्रक और ट्रैक्टर-टॉलिया बडी संख्या में बचने के लिए जयपुर जाते है। खनन कार्यादेशक केशु सिंह का कहना है कि शीघ्र अवैध बजरी परिवहन को लेकर कार्रवाई की जाएगी।

नारदपुरा को 23 वर्ष बाद मिली श्मशान के लिए भूमि

जमवारामगढ़| ग्राम पंचायत सायवाड में नारदपुरा जेडीए कालोनी को बसे 23 वर्ष हो गए लेकिन वहां के निवासी आज भी शिक्षा, स्वास्थ्य व पानी जैसी मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं। वहां श्मशान नहीं होने से वहां के वासियों को दाहसंस्कार के लिए भी 20 किमी दूर कंवरनगर जयपुर जाना पड़ता था। अब जेडीए ने नारदपुरा में खसरा नंबर 253 में एक बीघा भूमि श्मशान के लिए दी। जेडीए आयुक्त जोन-10 ने जुलाई माह में आदेश जारी किया थे। जेडीए ने सरपंच रामस्वरूप मीना को गुरुवार को आयुक्त के आदेश सौंप दिए। सरपंच रामस्वरूप मीना ने तीन वर्ष पहले जेडीए में नारदपुरा के लिए श्मशान भूमि आवंटन करने के लिए आवेदन किया था। सरपंच ने बताया कि जेडीए ने 1995 में नारदपुरा जेडीए कालोनी बसाई थी लेकिन वहां मूलभूत सुविधाओं के अभाव से लोग काफी परेशान हैं। श्मशान के लिए भूमि आवंटित होने से यहां के लोगों में खुशी है। पंचायत द्वारा श्मशान को जल्द विकसित किया जाएगा।

तूंगा के 11 व नारदपुरा के दो बच्चों को लैपटॉप मिले

तूंगा| राउमावि में अध्ययनरत 11 छात्र-छात्राओं को शुक्रवार को संस्था प्रधान नरेन्द्र कटियार की अध्यक्षता में निशुल्क लैपटॉप दिए। व्याख्याता रामकिशन मीना ने बताया कि स्कूल में अध्ययनरत 80 फीसदी से ज्यादा अंक प्राप्त करने वाले 11 बालक- बालिकाओं को लैपटॅाप वितरण किए। सरपंच उमाकांत शर्मा ने कहा कि परिश्रम एवं सच्ची लगन का फल हर इंसान को मिलता है। ललित प्रसाद काठ, रामनिवास पटेल, प्रभुदयाल लाटा, रमेशचंद गुप्ता, बिरदीचंद मीना सहित स्कूल स्टाफ मौजूद रहा। इसी प्रकार राजकीय वरिष्ठ उपाध्याय संस्कृत विद्यालय नारदपुरा में भी दो बच्चों को लैपटॉप मिले।

योग भारतीय संस्कृति की अमूल्य धरोहर

शाहपुरा| शहर की श्याम कॉलोनी स्थित सत्यम गार्डन में पतजंलि योग समिति, भारत स्वाभिमान व मोक्षधाम विकास समिति के संयुक्त तत्वावधान में चल रहे पांच दिवसीय निशुल्क महिला योग शिविर के दूसरे दिन शुक्रवार को बड़ी संख्या में महिलाओं ने योगाभ्यास किया। योगाचार्य स्वामी अर्जुन देव महाराज ने कहा कि योग भारतीय संस्कृति की एक अमूल्य धरोहर है। भारत की पावन भूमि पर ही योग ने विभिन्न ऊंचाईयों को छुआ है और योग के क्षेत्र में पूरे विश्व में नये आयामों को स्थापित कर भारत का गौरव बढ़ाया है। समाज सेविका गीता अग्रवाल ने कहा कि शहर में योग शिविर लगाने से महिलाओं में स्वास्थ्य के प्रति जागृति बढ़ रही है। योगाचार्य ने दूसरे दिन महिला शिविरार्थियों को भस्त्रिका, उंज्जायी प्राणायाम, श्वासन, भुजंगासन, शलभासन, व्रजासन सहित अनेक योग क्रियाओं का अभ्यास करवाया। रचना अग्रवालव पिंकी अग्रवाल ने बताया कि शिविर में शनिवार को महिलाओं का रक्तचाप नापा जाएगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shahpura

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×