--Advertisement--

बारिश से तापमान गिरा, खेतों में बोआई में जुटे किसान

बस्सी| नौतपा के बाद से ही भीषण गर्मी से जूझ रहे आमजन के लिए बुधवार को आसमान से राहत के छींटे बरसे। शुक्रवार को...

Danik Bhaskar | Jun 28, 2018, 06:00 AM IST
बस्सी| नौतपा के बाद से ही भीषण गर्मी से जूझ रहे आमजन के लिए बुधवार को आसमान से राहत के छींटे बरसे। शुक्रवार को क्षेत्र में हुई बारिश से तापमान में गिरावट देखी गई। वहीं आसमान से बरसे अमृत ने किसानों को भी राहत दी।

जटवाड़ा| गर्मी से परेशान क्षेत्र के लोगों के लिए बुधवार का दिन राहत भरा रहा। क्षेत्र में बारिश ने लोगों के चेहरों पर प्रसन्ना ला दी। बारिश के बाद बुधवार को दिन और रात के तापमान में भी काफी अंतर दर्ज किया गया। नौतपा के पहले और बाद से लगातार तप रही धरती को बुधवार को हुई बारिश ने शीतलता प्रदान की। वहीं लोगों को भी तापमान में गिरावट आने से काफी राहत मिली। इस बारिश से किसान खेत तो तैयार कर बुवाई अभी शुरू कर दी। वहीं बुधवार को दिन की शुरुआत धूप निकलने के कारण उमस से हुई।

जमवारामगढ़| क्षेत्र मेंसुबह से ही कभी हल्की तो कभी तेज बारिश का दौर जारी रहा। कस्बे सहित लाली, नयाबास, सायपुरा व आसपास क्षेत्र में बारिश होने से लोगों को गर्मी में राहत मिली है। जानवरों के लिए छोटे बडे गढ्ढों में पानी जमा हुआ है। बारिश से पेड पौधों को भी अमृत जल मिला है।

जमवारामगढ़ ग्रामीण। बीते दिनों पड़ी भीषण गर्मी के बाद लोगों को तेज गर्मी से राहत मिली है। लगभग 48 डिग्री पारे की गर्मी सहन करने के बाद अब क्षेत्र में हुई बरसात से लोगों को गर्मी से राहत मिली। वही खरीफ की फसल बोने के लिए तैयार बैठे किसानों के चेहरे भी बरसात से खिल उठे हैं। मंगलवार देर रात से हुई तेज बरसात का दौर बुधवार शाम तक चलता रहा। इस दौरान कई बार तेज बरसात आई। जिससे सड़कों एवं गली-मोहल्लों सहित नालियों में पानी बहने लगा। कई जगहों पर गहरे गड्डे होने के कारण पानी भर गयाज़ जिससे आने जाने वाले लोगों को परेशानी उठानी पड़ी।

तेज बारिश से सड़कों पर बहा पानी, किसान खुश

भौनावास व टसकोला में तीसरे दिन भी अनेक जगह बिजली सप्लाई ठप रही

भास्कर न्यूज | पावटा ग्रामीण

भौनावास, टसकोला सहित आसपास के अनेक गांवो में सोमवार की रात आए अंधड़ से अनेक टूटे बिजली के खम्बे व बिजली लाइनें तीसरे दिन भी ठीक नहीं होने से अनेक जगह बिजली सप्लाई ठप रही जिससे लोगों को अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ा। ग्रामीणों ने बताया कि भौनावास व टसकोला में सोमवार देर शाम आए अंधड़ से चार पांच बिजली पोल व ट्रांसफार्मर जमीन पर गिर गया जिससे बिजली व्यवस्था ठप हो गई। सूचना बिजली वितरण निगम के अधिकारियों को दी। सूचना मिलने पर दूसरे दिन बिजली वितरण के कर्मचारियों ने मौके पर पहुंचकर दूसरे पोल व लगाने का कार्य शुरू किया, लेकिन सायंकाल तक अनेक जगह कार्य पूरा नहीं होने से बिजली सप्लाई ठप रही।

बांसखो| क्षेत्र में प्री.मानसून की झमाझम बारिश से माहौल खुशनुमा हो गया। दोपहर एक घंटे झमाझम बारिश हुई, वही अन्य गाँवों में हल्की बूंदाबांदी होने से लोगों को उमस से राहत मिली। क्षेत्र में बादलों ने सुबह से डेरा डाल दिया था। हालांकि तेज गर्मी व उमस ने लोगों को खूब परेशान किया।

पावटा ग्रामीण. अंधड़ से टूटे पेड़ व पोल।

जमवारामगढ ग्रामीण.

शाहपुरा क्षेत्र में दूसरे दिन भी बरसे बदरा

कार्यालय संवाददाता| शाहपुरा

शहर सहित आसपास क्षेत्र में बुधवार को भी दूसरे दिन बारिश का दौर रूक रूककर चलता रहा। लगातार दो दिन से बारिश होने से पारा गिर जाने से गर्मी कम होने से लोगों को राहत मिली। दो दिन में अच्छी बारिश होने से किसान खरीफ फसल की बाेअाई के लिए खेत तैयार करने में जुट गए। वहीं शहर के बिजली ग्रिड के पास सड़क के पास गड्‌ढा होने से एक मारुति कार फंस गई जिसको लोगों ने बड़ी मशक्कत से बाहर निकाला। लोगों ने बताया कि पिछले दिनों बीएसएनएल द्वारा केबल डाली गई थी। बारिश का पानी जाने से मिट्‌टी धंस गई। इसी प्रकार खोरी रोड स्थित स्वामियों की डूंगरी की तरफ जाने वाले आम रास्ते में पानी भर जाने से लोगों को आवाजाही में परेशानी हुई।

भानपुर कलां| कस्बा सहित नांगल तुलसीदास, टोडामीना एवम् बासना में सुबह करीब 8 बजे से झमाझम बरसात शुरू हुई जो करीब दोपहर 2 बजे तक रुक रुक कर चलती रही। बरसात से लोगों को गर्मी से राहत मिली है। गर्मी से परेशान बच्चे बरसात में भीगते नजर आए। वही किसानों के चेहरे पर मुस्कान देखी गई।

अजीतगढ़. ग्रामीण क्षेत्र में सुबह बारिश होने से मौसम में बदलाव आया है। बारिश से किसानों के चेहरों पर खुशी है। इनका कहना है कि बारिश आगामी फसल के लिए काफी अच्छी है। मुख्य बाजारों में अनेक स्थानों पर नालियां साफ नहीं होने से बारिश का पानी रास्तों में अवरूद्व होने के कारण भर गया, जिससे आमजन को आवागमन करने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

अजीतगढ़.कस्बे में बारिश का दृश्य।