--Advertisement--

सगाई की अंगूठी पहनी तो सपना जी उठा

कार्यालय संवाददाता | शाहपुरा त्रिवेणीधाम में रविवार को ब्रह्मपीठाधीश्वर नारायणदासजी महाराज एवं श्रीयादे...

Danik Bhaskar | Jun 25, 2018, 06:05 AM IST
कार्यालय संवाददाता | शाहपुरा

त्रिवेणीधाम में रविवार को ब्रह्मपीठाधीश्वर नारायणदासजी महाराज एवं श्रीयादे माता मंदिर के महंत प्रहलाददासजी महाराज के सान्निध्य में श्रीयादे माता प्रजापति विकास समिति की ओर विवाह सम्मेलन को लेकर युवक युवती परिचय सम्मेलन व सगाई समारोह कार्यक्रम हुआ। मुख्य अतिथि भामाशाह गोकूल प्रजापति थे। अध्यक्षता समिति अध्यक्ष एवं बागावास चौरासी सरपंच भौरीलाल कुम्हार ने की। विशिष्ट अतिथि बसंतलाल बबई, देवन के पूर्व सरपंच बल्लूराम कुम्हार, हनुमान बकवास्या, बंशीलाल, सागरमल, कालूराम माचीवाल, शंकरलाल, रामावतार हासपुर, नारायणलाल आदि थे। वक्ताओं ने समाज में व्याप्त कुरीतियों को मिटाकर समाज को उन्नति की तरफ लेने का आह्वान किया।

उन्होंने कहा कि सामूहिक विवाह सम्मेलन से समाज में अमीर गरीब की खाई मिटती है। ऐसे आयोजनों को सफल बनाने के लिए समाज के प्रत्येक व्यक्ति को तन मन धन से सहयोग करना चाहिए। समाज में किसी प्रकार की समस्या का समाधान समाजबंधुओं को एक जगह बैठकर करना चाहिए ताकि समाज में एकजुटता बनी रहे। रामेश्वर फाडवा व कालूराम माचीवाल ने समाजबंधुओं को 14 जुलाई को श्रीयादे माता का 23वां पाटोत्सव, भंडारा एवं सामूहिक विवाह सम्मेलन के बारे में जानकारी देकर सहयोग करने का आह्वान किया। उन्होंने बताया कि 30 जून तक ही विवाह सम्मेलन के लिए योग्य युवक युवतियों का पंजीयन किया जाएगा। आगामी बैठक 1 जुलाई की रखी गई। मुकेश कुमार, मातादीन कुम्हार, संतुराम, बनवारीलाल, भैरूराम, कालूराम दुहारिया, सुरेश प्रजापति, मालीराम, बनवारीलाल, शंकरलाल, प्रभुदयाल, सुवालाल, पूर्व पार्षद ओमप्रकाश ने भाग लिया।

समारोह में आए युवक युवतियों ने अपना अपना परिचय दिया। इसके बाद अब तक पंजीकृत 18 जोड़ों ने एक दूसरे को अंगूठी पहनाकर सगाई की रस्म निभाई। सगाई के लिए एक अंगूठी समिति व एक भामाशाह मामराज लोहरवाडा ने प्रदान की। कपड़े कालूराम माचीवाल जयपुर ने भेंट किए। समारोह में जुगलपुरा के लीलाराम प्रजापति ने विवाह सम्मेलन व पाटोत्सव का सम्पूर्ण आटा देने की घोषणा की।

शाहपुरा. त्रिवेणीधाम में प्रजापति समाज के परिचय सम्मेलन एवं सगाई समारोह में उपस्थित समाजबंधु।

शाहपुरा. त्रिवेणीधाम में प्रजापति समाज के समारोह में एक दूसरे को सगाई की अंगूठी पहनाते।