--Advertisement--

84 जोड़ों ने लिए 7 फेरे, 52 प्रतिभाओं का सम्मान

भास्कर संवाददाता| बिजौलिया ऊपरमाल धाकड़ समाज के 21वें सामूहिक विवाह सम्मेलन में रविवार को 84 जोड़े परिणय सूत्र में...

Dainik Bhaskar

Apr 30, 2018, 06:10 AM IST
84 जोड़ों ने लिए 7 फेरे, 52 प्रतिभाओं का सम्मान
भास्कर संवाददाता| बिजौलिया

ऊपरमाल धाकड़ समाज के 21वें सामूहिक विवाह सम्मेलन में रविवार को 84 जोड़े परिणय सूत्र में बंध गए। नयागांव स्थित धाकड़ विद्यापीठ संस्थान में विवाह की रस्म हुई।

दो दिवसीय सम्मेलन में रविवार कोे मंदाकिनी महादेव मंदिर स्थित कुंड से सुबह 7:30 बजे कलश यात्रा निकाली गई। विभिन्न मार्गों से होकर कलश यात्रा सुबह 10 बजे सम्मेलन स्थल पहुंची। कलश यात्रा का जगह-जगह पुष्पवर्षा कर स्वागत किया गया। कलश यात्रा के बाद 11 बजे मायरा हुआ। जिसमें 30 बहनों को उनके भाइयों ने मायरा पहनाया। दोपहर 2 बजे प्रतिभा सम्मान समारोह हुआ। जिसमें समाज की 52 प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया। शाम 7 बजे तोरण की रस्म हुई। रात 8 बजे आशीर्वाद समारोह हुआ। इसके बाद रात में दूल्हा-दुल्हन को विदाई दी गई।

ऊपरमाल धाकड़ समाज का 21वां विवाह सम्मेलन नयागांव के धाकड़ विद्यापीठ में हुआ

तिलस्वां में सेन समाज के 33 जोड़े परिणय सूत्र में बंधे

तिलस्वां| तिलस्वां महादेव में रविवार को सेन समाज धर्मशाला कमेटी तिलस्वां के तत्वावधान में सेन समाज का 10वां सामूहिक विवाह सम्मेलन हुआ। इसमें 33 जोड़े परिणय सूत्र में बंधे। कार्यक्रम की अध्यक्षता केश कला बोर्ड के अध्यक्ष मोहन मोरवाल ने की। मांडलगढ़ के पूर्व प्रधान गोपाल मालवीय, सुरेश कटार भीलवाड़ा, अध्यक्ष सेन समाज रामनारायण सेन, समाजसेवी पीरूलाल सेन छोटी बिजौलिया, तिलस्वां सरपंच राजकुमार सेन, अध्यक्ष तिलस्वां महादेव सेन समाज धर्मशाला रमेश चंद्र सेन की मौजूदगी में आयोजन हुआ। सम्मेलन तिलस्वां मंदिर परिसर में हुआ। रविवार सुबह कलशयात्रा, मायरा की रस्म हुई। दोपहर में पंडित मनीष व्यास ने पाणिग्रहण संस्कार कराया। सम्मेलन में कोटा, बूंदी, नीमच, चित्तौड़, भीलवाड़ा से समाज के लोग पहुंचे।

गंधेर में वैष्णव बैरागी समाज के 47 जोड़े परिणय सूत्र में बंधेंगे आज

पंडेर. गंधेर में वैष्णव बैरागी सेवा समिति समाज समस्त चौखला जहाजपुर के तत्वावधान में तृतीय आदर्श सामूहिक विवाह सम्मेलन एवं पीपल व तुलसी विवाह सोमवार को होगा। संरक्षक रामस्वरूप वैष्णव किशनगढ़ और संयोजक घीसा दास वैष्णव लसाड़िया (शाहपुरा) ने बताया कि सम्मेलन में जहाजपुर-कोटड़ी विधायक धीरज गुर्जर शिरकत करेंगे। सम्मेलन में तुलसी व पीपल विवाह सहित 47 जोड़े परिणय सूत्र में बंधेंगे। शोभायात्रा सुबह 7.15 बजे निकाली जाएगी। पाणिग्रहण संस्कार सुबह 11.15 बजे होगा। दोपहर 1.15 बजे आशीर्वाद समारोह होगा। रविवार को आयोजित बैठक में केसर दास, महावीर वैष्णव, जगदीश दास, लोकेश वैष्णव, मुकेश वैष्णव आदि ने व्यवस्थाओं को लेकर चर्चा की।

84 जोड़ों ने लिए 7 फेरे, 52 प्रतिभाओं का सम्मान
84 जोड़ों ने लिए 7 फेरे, 52 प्रतिभाओं का सम्मान
X
84 जोड़ों ने लिए 7 फेरे, 52 प्रतिभाओं का सम्मान
84 जोड़ों ने लिए 7 फेरे, 52 प्रतिभाओं का सम्मान
84 जोड़ों ने लिए 7 फेरे, 52 प्रतिभाओं का सम्मान
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..