Hindi News »Rajasthan »Shahpura» दो साल से म्याना की ढाणी में पेयजल किल्लत, महिलाओं ने किया प्रदर्शन

दो साल से म्याना की ढाणी में पेयजल किल्लत, महिलाओं ने किया प्रदर्शन

कार्यालय संवाददाता | शाहपुरा नगरपालिका क्षेत्र के वार्ड 18 स्थित म्याना की ढाणी में पालिका एवं जलदाय विभाग की...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 30, 2018, 06:10 AM IST

  • दो साल से म्याना की ढाणी में पेयजल किल्लत, महिलाओं ने किया प्रदर्शन
    +1और स्लाइड देखें
    कार्यालय संवाददाता | शाहपुरा

    नगरपालिका क्षेत्र के वार्ड 18 स्थित म्याना की ढाणी में पालिका एवं जलदाय विभाग की अनदेखी के कारण पिछले दो साल से पेयजल किल्लत बनी हुई। अधिकारियों को कई बार अवगत कराने के बाद भी कोई समाधान नहीं होने पर नाराज महिलाएं मंगलवार पालिका में पहुंची, लेकिन ईओ के नहीं मिलने पर एसडीएम कार्यालय पहुंच गई जहां पर महिलाओं ने विरोध प्रदर्शन किया। महिलाओं की समस्या सुनकर एसडीएम ने तुरंत जलदाय विभाग को ढाणी में टैंकर भिजवाने के निर्देश दिए। इसके बाद ढाणी में एक टैंकर से जलापूर्ति हो पाई।

    म्याना की ढाणी निवासी रोशन लाल मीणा, प्रकाशचंद, राकेश, श्रवण ने बताया कि वार्ड 18 की म्याना की ढाणी में पिछले दो साल से पेयजल किल्लत चली आ रही है। इस बारे में कई बार जलदाय विभाग के अधिकारी एवं पालिका प्रशासन को अवगत कराया जा चुका है, लेकिन कोई सुनवाई नहीं की जा रही है। रोशनलाल मीणा, भूपेंद्र मीणा, आेमप्रकाश मीणा, सुभाष, राकेश व विनोद ने बताया कि पालिका को समस्या बताते है तो वार्ड 18 के लिए बोरिंग एवं पाइप लाइन स्वीकृत होने की बात कहकर टरका देते है। आक्रोशित लोग मामले को लेकर पालिका पहुंचे, लेकिन यहां कोई सुनवाई नहीं होने पर विरोध जताते हुए एसडीएम कार्यालय में पहुंचे, जहां पर एसडीएम रवि विजय को ज्ञापन देकर पेयजल व्यवस्था करवाने की गुहार लगाई। एसडीएम रवि विजय ने जलदाय जेईएन विकास गुप्ता को तुरंत ढाणी में नियमित रूप से पानी के 2 टैंकर भिजवाने के निर्देश दिए। एसडीएम ने ईओ को स्वीकृत बोरिंग करवाकर एक सप्ताह में रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं।

    एक किलोमीटर दूर से लाते हैं पानी

    महिला माया देवी, शांति देवी, सरबती देवी, मूली देवी, निर्मला, करिश्मा, आशा देवी आदि ने बताया कि गर्मी में ढाणी में पानी की भयंकर किल्लत बनी हुई है। यहां पर पानी का कोई अन्य स्त्रोत तक नहीं है।

    पीने के पानी के साथ साथ पशुओं के लिए पानी जुटाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ती है। ढाणी में पेयजल व्यवस्था नहीं होने से करीब एक किलोमीटर दूर भरभुटयावाली ढाणी के निजी बोरिंगों से पानी लाना पड़ता है। गर्मी में इतनी दूर से पानी लाना काफी मुश्किल हो रहा है। महंगे दामों में निजी टैंकरों से पानी खरीदना पड़ रहा है।

    शाहपुरा. पेयजल किल्लत को लेकर नगरपालिका में पहुंची आक्रोशित महिलाएं।

    ढाणी में पहुंचा पानी का टैंकर

    जलदाय विभाग के जेईएन विकास गुप्ता ने बताया कि एसडीएम निर्देश के तुरंत बाद म्याना की ढाणी में पानी के दो टैंकर भिजवाने के ठेकेदार को निर्देश दिए। तुरंत एक टैंकर ने ढाणी में पहुंचकर जलापूर्ति कर लोगों को राहत पहुंचाई।

    कार्यालय संवाददाता | शाहपुरा

    नगरपालिका क्षेत्र के वार्ड 18 स्थित म्याना की ढाणी में पालिका एवं जलदाय विभाग की अनदेखी के कारण पिछले दो साल से पेयजल किल्लत बनी हुई। अधिकारियों को कई बार अवगत कराने के बाद भी कोई समाधान नहीं होने पर नाराज महिलाएं मंगलवार पालिका में पहुंची, लेकिन ईओ के नहीं मिलने पर एसडीएम कार्यालय पहुंच गई जहां पर महिलाओं ने विरोध प्रदर्शन किया। महिलाओं की समस्या सुनकर एसडीएम ने तुरंत जलदाय विभाग को ढाणी में टैंकर भिजवाने के निर्देश दिए। इसके बाद ढाणी में एक टैंकर से जलापूर्ति हो पाई।

    म्याना की ढाणी निवासी रोशन लाल मीणा, प्रकाशचंद, राकेश, श्रवण ने बताया कि वार्ड 18 की म्याना की ढाणी में पिछले दो साल से पेयजल किल्लत चली आ रही है। इस बारे में कई बार जलदाय विभाग के अधिकारी एवं पालिका प्रशासन को अवगत कराया जा चुका है, लेकिन कोई सुनवाई नहीं की जा रही है। रोशनलाल मीणा, भूपेंद्र मीणा, आेमप्रकाश मीणा, सुभाष, राकेश व विनोद ने बताया कि पालिका को समस्या बताते है तो वार्ड 18 के लिए बोरिंग एवं पाइप लाइन स्वीकृत होने की बात कहकर टरका देते है। आक्रोशित लोग मामले को लेकर पालिका पहुंचे, लेकिन यहां कोई सुनवाई नहीं होने पर विरोध जताते हुए एसडीएम कार्यालय में पहुंचे, जहां पर एसडीएम रवि विजय को ज्ञापन देकर पेयजल व्यवस्था करवाने की गुहार लगाई। एसडीएम रवि विजय ने जलदाय जेईएन विकास गुप्ता को तुरंत ढाणी में नियमित रूप से पानी के 2 टैंकर भिजवाने के निर्देश दिए। एसडीएम ने ईओ को स्वीकृत बोरिंग करवाकर एक सप्ताह में रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं।

    एक किलोमीटर दूर से लाते हैं पानी

    महिला माया देवी, शांति देवी, सरबती देवी, मूली देवी, निर्मला, करिश्मा, आशा देवी आदि ने बताया कि गर्मी में ढाणी में पानी की भयंकर किल्लत बनी हुई है। यहां पर पानी का कोई अन्य स्त्रोत तक नहीं है।

    पीने के पानी के साथ साथ पशुओं के लिए पानी जुटाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ती है। ढाणी में पेयजल व्यवस्था नहीं होने से करीब एक किलोमीटर दूर भरभुटयावाली ढाणी के निजी बोरिंगों से पानी लाना पड़ता है। गर्मी में इतनी दूर से पानी लाना काफी मुश्किल हो रहा है। महंगे दामों में निजी टैंकरों से पानी खरीदना पड़ रहा है।

  • दो साल से म्याना की ढाणी में पेयजल किल्लत, महिलाओं ने किया प्रदर्शन
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shahpura

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×