Hindi News »Rajasthan »Shahpura» तृतीय श्रेणी शिक्षकों का इंतजार खत्म, जारी हुई तबादला सूची

तृतीय श्रेणी शिक्षकों का इंतजार खत्म, जारी हुई तबादला सूची

कार्यालय संवाददाता | शाहपुरा सरकार द्वारा आठ साल बाद तृतीय श्रेणी शिक्षकों की तबादला सूची जारी हो जाने से लंबे...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 03, 2018, 06:15 AM IST

कार्यालय संवाददाता | शाहपुरा

सरकार द्वारा आठ साल बाद तृतीय श्रेणी शिक्षकों की तबादला सूची जारी हो जाने से लंबे समय से तबादला का इंतजार कर रहे शिक्षकों में खुशी की लहर है। स्थानांतरित कार्मिक को शाला दर्शन पोर्टल के माध्यम से ही कार्यमुक्त एवं कार्यग्रहण 10 जून तक करवाने के निर्देश जारी किए है। साथ ही पंडित दीनदयाल उपाध्याय ग्रीष्मकालीन शिक्षक प्रशिक्षण अपने पूर्व पदस्थापन जिले में ही निर्धारित अवधि में प्राप्त कर सकेंगे।

जानकारी के अनुसार सरकार ने इस साल मार्च में तबादलों से रोक हटा ली थी। इसके बाद से ही तृतीय श्रेणी शिक्षकों में तबादलों को बेसब्री से इंतजार था। शुक्रवार को जैसे ही एक के बाद एक जिलें की तबादला सूचियां जारी हुई तो शिक्षकों ने राहत की सांस ली है,क्योंकि कई सालों से घर से बाहर रहकर ही नौकरी करनी पड़ रही थी। रोक हटने के बाद से शिक्षक अपने इच्छित स्थान पर तबादले के लिए प्रयासरत थे और माध्यमिक शिक्षा विभाग में वरिष्ठ अध्यापक, व्याख्याता एवं प्रधानाचार्य की पहले ही तबादला सूचियां आ चुकी थी। ऐसे में तृतीय श्रेणी शिक्षकों के तबादलों का काम अंतिम चरण में चल रहा था। चुनावी साल होने के कारण सरकार ने इस बार बड़ी संख्या में शिक्षकों के तबादले किए है। प्रारंभिक शिक्षा एवं पंचायती राज विभाग के शासन उप सचिव की ओर से जारी की गई तबादला सूचियां में हजारों शिक्षकों के तबादले प्रतिबंधित जिलों से गृह जिलें में किए है। जयपुर जिलें में 968 शिक्षकों के तबादले किए गए है। विभाग ने तबादला आदेशों की पालना सुनिश्चित कराने की जिम्मेदारी जिला शिक्षा अधिकारियों को दी है। सभी शिक्षकों को 10 जून तक तबादले वाले स्थान पर कार्यग्रहण करना होगा। विभाग ने शिक्षकों की व्यक्तिगत समस्याओं को भी ध्यान में रखकर उनके इच्छित स्थान पर लगाया है।

पद विरुद्ध लगाए शिक्षकों को हाईकोर्ट के आदेश के बाद विभाग ने दी राहत

एडवोकेट संदीप कलवानिया ने समानीकरण की प्रक्रिया के तहत शिक्षा विभाग ने कई शिक्षकों को उनके पद के विरुद्ध अन्य ब्लॉक की स्कूलों में लगा दिया था। इसको लेकर महिला शिक्षक सविता दिवेश ने हाईकोर्ट में स्वयं के ब्लॉक में उसी पद पर लगाने के लिए याचिका दायर की थी। हाईकोर्ट ने मामले का निस्तारण कर पूर्व में रूपलता मीणा बनाम स्टेट ऑफ राजस्थान व अन्य के मामले में दिए निर्णय के प्रकाश में विभाग को प्रतिवेदन देने के निर्देश दिए। जिसकी पालन में विभाग ने महिला शिक्षक को उसी के पद पर लगाने आदेश जारी कर राहत दी है।

खुशी भी-गम भी

तबादला आदेश जारी होने के साथ ही शिक्षकों में खुशी एवं गम दोनों ही देखने को मिल रहे है। खुशी वे शिक्षक है जो वर्षों से बाहर रहकर नौकरी कर रहे थे और अब उन्हें इच्छित स्थान पर लगाया गया है। कई शिक्षकों का उनकी इच्छा के बिना ही तबादला कर दिया गया है और उन्हें दूसरी जगह जाना होगा। इस कारण उनमें सरकार के प्रति नाराजगी भी है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Shahpura

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×