• Home
  • Rajasthan News
  • Shahpura News
  • मरीजों को प्रतिदिन दूध पिलाकर सेवा में जुटे है महाराज
--Advertisement--

मरीजों को प्रतिदिन दूध पिलाकर सेवा में जुटे है महाराज

अस्पताल में मरीजों से मिलने के लिए जाने वाले सगे संबंधियों को उनके लिए फल फ्रूट ले जाते हुए तो देखा होगा। ऐसे ही एक...

Danik Bhaskar | Jul 02, 2018, 06:15 AM IST
अस्पताल में मरीजों से मिलने के लिए जाने वाले सगे संबंधियों को उनके लिए फल फ्रूट ले जाते हुए तो देखा होगा। ऐसे ही एक महाराज अपना कोई सगा संबंधी नहीं होने के बाद भी सबको अपना समझाकर बिना कोई स्वार्थ के मरीजों को अस्पताल में जाकर गर्म दूध पिलाकर पीड़ित मानव की सेवा करने का कार्य करने में जुटे हुए हैं। जो लोगों के लिए किसी प्रेरणास्रोत से कम नहीं है। जानकारी के अनुसार शाहपुरा तहसील के खोरी स्थित परमानंद जी धाम के महंत हरिओमदासजी महाराज प्रतिदिन शहर के लाल बहादुर शास्त्री राजकीय अस्पताल में सुबह जल्दी ही गर्म दूध की केतली लेकर पहुंच जाते हैं और एक एक करके सभी मरीजों को एक-एक गिलास दूध का वितरण करते हैं। महाराज द्वारा पिछले कई महीनों से मरीजों को प्रतिदिन दूध पिलाने का कार्य किया जा रहा है। कभी कभी तो दूध के साथ बिस्कुट भी मरीजों को खाने को देते हैं। महाराज की इस अनुकरणीय पहल लोगों में चर्चा का विषय बनी हुई है। महाराज का कहना है कि पीड़ित मानव की सेवा करना किसी भक्ति से कम नहीं है। पीड़ित के चेहरे पर मुस्कान आ जाने से उसकी आधी बीमारी अपने आप मिट जाती है। महाराज ने बताया कि मनुष्य को हमेशा पॉजीटिव सोच रखनी चाहिए, इससे शरीर में ऊर्जा का संचार होता है। गौरतलब है कि महाराज श्री ने सितम्बर 2017 में नौ कुंडीय भव्य श्रीसीताराम महायज्ञ का आयोजन भी किया था।

हरिआेमदासजी महाराज खोरी स्थित परमानंद जी महाराज के धाम पर पिछले कई सालों से रह रहे है। जगह का अभाव होने के बाद भी करीब 25-30 गायें पाल रखी है। जिनकी देखभाल स्वयं एवं भक्तों द्वारा की जाती है। पहले तो लोग ही गायों का दूध ले जाते थे महाराज किसी से कोई मोल भाव नहीं करते थे, जिसको जो देना होता था वह ठाकुरजी के दरबार में चढ़ा जाता था। लेकिन पिछले कुछ महीनों से महाराज करीब 18 लीटर गाय का दूध अच्छी तरह से गर्म करके एक बड़ी केतली में भरकर सुबह 6 बजे ही सरकारी अस्पताल में पहुंच जाते हैं। कई बार तो महाराज मरीजों को स्वयं जगाकर हाथ मुंह धुलाते है और फिर दूध पिलाते हैं। इतना ही नहीं महाराज के आश्रम पर छाछ दूध लेने के लिए भी लोगों का तांता लगा रहता है।

गायाें की करते हैं बेहतरीन परवरिश

मंदिर परिसर में जगह का अभाव होने के बावजूद भी गायों की देखभाल बेहतर तरीके से करते हैं। गायों को अलग अलग नाम से पुकारते हैं। गायों को नियमित रूप से पशु आहार आदि भी खिलाते हैं और गायों के लिए ताजी सब्जी भी खरीद कर ले जाते हैं। मंडी में कई दुकानदार वैसे भी सब्जी दे देते हैं। गायों की देखभाल के लिए मंदिर में एक दो सेवादार भी लगा रखे है, जिनको प्रतिमाह तनख्वाह भी देते हैं। कभी किसी को किसी सहयोग के लिए भी नहींं कहते हैं।

घासीपुरा गोशाला से भी पहुंचेगा दूध

अस्पताल में महाराज द्वारा प्रतिदिन दूध वितरण करने से प्रेरित होकर घासीपुरा गोशाला समिति की ओर से भी मरीजों को दूध पिलाया जाएगा। अध्यक्ष साधुराम चौधरी ने बताया कि मरीजों की सेवा से बढ़कर कोई सेवा नही है। गोशाला समिति द्वारा मरीजों का पोषण स्तर को बढाने के लिए प्रतिदिन शाम को दूध उपलब्ध कराया जाएगा।

शाहपुरा.शहर के राजकीय चिकित्सालय में महाराज मरीजों को दूध पिलाते हुए।