• Home
  • Rajasthan News
  • Shahpura News
  • शहर में कभी बीनते थे कचरा, अब करेंगे सरकारी स्कूल में पढ़ाई
--Advertisement--

शहर में कभी बीनते थे कचरा, अब करेंगे सरकारी स्कूल में पढ़ाई

कार्यालय संवाददाता| शाहपुरा बंजारा जाति के बच्चे पहले कभी कचरे में पॉलिथीन की थैलियां बीना करते थो वो अब शिक्षा...

Danik Bhaskar | Jul 05, 2018, 06:15 AM IST
कार्यालय संवाददाता| शाहपुरा

बंजारा जाति के बच्चे पहले कभी कचरे में पॉलिथीन की थैलियां बीना करते थो वो अब शिक्षा की मुख्यधारा से जुड़कर सरकारी स्कूल में पढ़ाई कर अपना भविष्य संवारते नजर आएंगे। बुधवार को बिदारा ग्राम के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में सामाजिक संस्था रणवीर सेवा समिति ने बंजारा जाति के 22 बच्चों का आगे की पढ़ाई के लिए प्रवेश करवाया है। विद्यालय प्रशासन ने समारोहपूर्वक नवप्रवेशित बालकों का तिलक लगाकर स्वागत किया। वहीं दूसरी ओर एयू फाईनेंस के सीनियर वाइस प्रेसीडेंट सुल्तान चौधरी ने उक्त बच्चों को बैग उपलब्ध करवाकर मनोबल बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि समिति निरंतर रूप से समाज हित में कार्य करती रहती है। भामाशाह तेजपाल यादव की ओर से सभी बच्चों को जूते चप्पल उपलब्ध करवाए गए। प्रधानाध्यापक बद्री प्रसाद रैगर ने रणवीर सेवा समिति एवं भामाशाह सुल्तान चौधरी का धन्यवाद ज्ञापित किया।

चार माह से सीखा रहे थे अक्षर ज्ञान

समिति के जिलाध्यक्ष विजय चौहान व अरुण सैनी ने बिदारा ग्राम के पास हाइवे के नजदीक रहने वाले घुमंतु जाति के बच्चे शिक्षा की मुख्यधारा से दूर थे। समिति ने इनको चिह्नीकरण कर पिछले चार माह से निरंतर इन्ही की बस्ती में चलो पाठशाला अभियान के तहत शिक्षक संतोष कुम्हार ने पढ़ाई करवाकर अक्षर ज्ञान करवाने का कार्य करवाया था। प्रवेश दिलाने से पहले उक्त बच्चों की दिनेश कुमार सैन व सांवरमल सैन द्वारा निशुल्क कटिंग की गई। नगर महामंत्री जीतू सैनी, बिदारा अध्यक्ष चौथमल अटल, धर्मपाल यादव, रोहिताश भड़ाणा, अध्यापक कजोडमल यादव, ओमप्रकाश, रामसिंह गुर्जर, कमलेश, महेंद्र आदि मौजूद रहे।