--Advertisement--

‘बेटी है वरदान’ अभियान में 108 बेटियां सम्मानित

धानोता ग्राम में शुक्रवार को विवेकानंद युवा मंडल तिगरिया के तत्वावधान में बेटी है वरदान के तहत हुए कार्यक्रम में...

Danik Bhaskar | Jun 30, 2018, 06:25 AM IST
धानोता ग्राम में शुक्रवार को विवेकानंद युवा मंडल तिगरिया के तत्वावधान में बेटी है वरदान के तहत हुए कार्यक्रम में 108 बेटियों को सम्मानित किया गया। मुख्य अतिथि प्रिया फाउंडेशन की सीमा शर्मा ने कहा कि बेटिया अबला नहीं बल्कि शक्ति स्वरुप होती है। अभिभावकों को बचपन से ही बेटियों के मन में स्वाभिमान व आत्मबल बढ़ाने की प्रेरणा देनी चाहिए। विशिष्ट अतिथि जिला पार्षद टीना मीणा ने कहा कि अभिभावकों को बच्चियों को वीरांगनाओं की गाथाए सुनाकर निर्भीक बनाने का प्रयास करना चाहिए। अध्यक्षता पंसस कविता सैणा ने की। कहा, प्राचीन समय से ही भारत में नारी को शक्ति का स्वरूप माना गया है। सरपंच श्रीराम घोसल्या, समाजसेवी संदीप मीणा, आयोजक मुकेश शर्मा, सविता देवी, अलका अग्रवाल, विनोद शर्मा, धर्मेंद्र शर्मा ने विचार व्यक्त किए। आयोजक मुकेश शर्मा ने कहा कि शाहपुरा क्षेत्र में बाकी सभी पंचायतों में स्कूलों व कॉलेजों में जल्द कार्यक्रम करेंगे।

अवैध कनेक्शन नहीं पहुंचने दे रहे पानी

अजीतगढ़ | कस्बे के नीमकाथाना रोड़ स्थित बसंत विहार कॉलोनी में अनेक अवैध कनेक्शन होने से उपभोक्ताओं तक पानी नहीं पहुंच पा रहा है। इससे उपभोक्ताओं में आक्रोश है। पूरणमल रैय्या ने बताया कि बसंत विहार कॉलोनी में हजारों की आबादी निवास करती है, विभाग की यहां पर सप्लाई लाइन है तथा नल कनेक्शन दे रखे है, लेकिन यहां पर अवैध कनेक्शनों की संख्या विभागीय अधिकारियों एवं कार्मिकों की मिलीभगत से निरन्तर बढ़ रही है। कॉलोनी में हालात ये हो रहे है कि बगैर बिल देने वाले लोग अवैध कनेक्शनों से अनावश्यक पानी की बर्बादी कर रहे है तथा निरन्तर बिल देने वाले उपभोक्ताओं को पानी नहीं मिल रहा है।

ग्रामीणों की शिकायत के बाद जलदाय विभाग की टीम ने जांच करते हुए पाया कि करीब 20 से अधिक फर्जी एवं अवैध कनेक्शन है। बावजूद इसके विभाग इन अवैध कनेक्शनों को हटाने के लिए कोई प्रभावी कार्रवाई नहीं कर रहा है जिससे उपभोक्ताओं में आक्रोश है। लोगों ने ग्रामीण अधीक्षण अभियंता एवं अधिशासी अभियंता को ज्ञापन भेजकर अवैध कनेक्शनों को कटवाने की मांग की। ग्रामीणों ने चेतावनी दी कि कॉलोनी के अवैध कनेक्शनों को शीघ्र नहीं हटवाया गया तो मजबूरन जलदाय कार्यालय का घेराव कर प्रदर्शन किया जाएगा।