शाहपुरा

--Advertisement--

ब्रेकर नहीं होने से आएदिन होते है हादसे

पावटा ग्रामीण | केन्द्रीय सड़क निधि परियोजना के अन्तर्गत नारेहड़ा से पावटा वाया टसकोला तक बनाए गए मार्ग पर आबादी...

Danik Bhaskar

May 09, 2018, 06:30 AM IST
पावटा ग्रामीण | केन्द्रीय सड़क निधि परियोजना के अन्तर्गत नारेहड़ा से पावटा वाया टसकोला तक बनाए गए मार्ग पर आबादी क्षेत्रों में ब्रेकर नहीं होने से आएदिन हादसे होने लगे है जिससे अनेक लोग अकाल मौत के शिकार हो रहे है। टसकोला बस स्टैण्ड के आसपास रहने वाले दुकानदार बहादुरमल गुर्जर, जगदीश सैनी, लोकेश निरंकारी, देवाराम सैनी, रामेश्वर गुर्जर, पूर्व सरपंच देवकरण सैनी ने बताया कि केन्द्रीय सड़क निधि परियोजना के अन्तर्गत बनाए गए इस मार्ग पर आबादी क्षेत्रों में ब्रेकर नहीं लगाए गए है। ब्रेकर नहीं होने से वाहन चालक तेज गति से वाहन चलाते है जिससे आए दिन हादसे होने लगे है। इन हादसो में अनेक युवाओ की मौत हो चुकी है। ग्रामीणों ने बताया कि इस सम्बन्ध में अनेक बार उच्च अधिकारियो को आबादी क्षेत्रों व टसकोला बस स्टैण्ड़, टोरडा मोड़ रामपुरा स्टैण्ड आदि पर ब्रेकर लगाने की मांग की गई थी लेकिन आज तक कोई कार्यवाही नहीं होने से हादसों में अनेक लोगों की मौत हो चुकी है। ग्रामीणों ने बताया कि यदि उपरोक्त जगह ब्रेकर नहीं बनाए गए तो जल्द ग्रामीण आन्दोलन करने को विवश होंगे।

योगेश को एक करोड़ का इनाम

अजीतगढ़/शाहपुरा | सांवलपुरा निवासी योगेश गोयल को रोड्स ट्रस्ट के साथ भागीदारी में स्मिट विज्ञान फैलोशिप मिला। अमेरिका में आयोजित यह कार्यक्रम एक पोस्टडोक्टरल कार्यक्रम है जो “विज्ञान और समाज में विश्व-परिवर्तनकारी प्रगति की ओर बढ़ाने का प्रयास कर रहा है। योगेश का परिवार मूलरूप से अजीतगढ़ के पास स्थित सांवलपुरा गांव का निवासी है। योगेश के पिता गजानंद गोयल ने बताया कि योगेश बचपन से ही पढ़ाई में टॉपर रहा है। सेल्फ स्टडी से उसने अपने सपने को साकार किया। आईआईटी गांधी नगर से टॉपर रह चुका है। इसमें करीब 14 फैलोज को चयनित किया गया जिसमें 8 पुरुष और 6 महिलाएं शामिल थीं। इसके अन्तर्गत उन्हें करीब 1 करोड़ की राशि का इनाम दिया गया।

Click to listen..