• Hindi News
  • Rajasthan
  • Shahpura
  • विश्वमित्र इंडिया परिवार कम्पनी ऑफ ग्रुप का सीएमडी गिरफ्तार, डेढ़ करोड़ की ठगी का आरोप
--Advertisement--

विश्वमित्र इंडिया परिवार कम्पनी ऑफ ग्रुप का सीएमडी गिरफ्तार, डेढ़ करोड़ की ठगी का आरोप

Shahpura News - कार्यालय संवाददाता | शाहपुरा पुलिस ने फिक्स एफडी के नाम पर लोगों से करीब डेढ़ करोड़ की ठगी करने वाले मुख्य आरोपित...

Dainik Bhaskar

Apr 25, 2018, 06:40 AM IST
विश्वमित्र इंडिया परिवार कम्पनी ऑफ ग्रुप का सीएमडी गिरफ्तार, डेढ़ करोड़ की ठगी का आरोप
कार्यालय संवाददाता | शाहपुरा

पुलिस ने फिक्स एफडी के नाम पर लोगों से करीब डेढ़ करोड़ की ठगी करने वाले मुख्य आरोपित को गिरफ्तार किया। इसके खिलाफ 9 राज्यों में ठगी के करीब 96 मामले दर्ज है। एक हज़ार करोड़ रुपए से ऊपर की प्रॉपर्टी है जिसे सीआईडी व सेबी इंडिया ने जब्त की है।

एसआई शेर सिंह ने बताया कि यूपी के यशवंतपुरा हाल नंदलाल जीव रोड कोलकाता निवासी आरोपी मनोज कुमार चंद लक्ष्मीचंद राजपूत जो कि विश्वमित्र इंडिया परिवार कम्पनी ऑफ़ ग्रुप का सीएमडी है। आरोपित मनोज कुमार ने 2013 में विश्वमित्र इंडिया परिवार कम्पनी ऑफ़ ग्रुप के नाम से कंपनी बनाई। उसने देश के विभिन्न राज्यों में कंपनी की कई शाखाएं खोली। कंपनी के माध्यम से मनोज कुमार ने शाहपुरा क्षेत्र वासियों से दैनिक, साप्ताहिक व फिक्स एफडी के नाम पर करीब डेढ़ करोड़ रुपए वसूले। इसके बाद आरोपित ने 2016 में कंपनी बंद कर दी। कंपनी बंद होने के बाद छारसा निवासी ब्रांच के मैनेजर विष्णु पुत्र हनुमान सहाय शर्मा ने आरोपित के खिलाफ शाहपुरा पुलिस थाने में ठगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। मामला दर्ज होने पर पुलिस ने जाँच शुरू की। इस दौरान सामने आया कि आरोपित के खिलाफ विभिन्न राज्यों में 96 मामले दर्ज़ है तथा न्यायिक अभिरक्षा में था। पुलिस आरोपित को प्रोडक्शन वारंट पर जयपुर जेल से गिरफ्तार कर शाहपुरा थाने लेकर आई। पुलिस द्वारा आरोपित के गिरफ्तार करने की सूचना पर थाने में पीड़ितों की भीड़ लग गई। पुलिस आरोपित से पूछताछ कर रही है। पूछताछ में सामने आया कि आरोपित पर करीब 500 करोड़ रुपयों की देनदारी है। जबकि उसके पास एक हज़ार करोड़ रुपए से ऊपर की प्रॉपर्टी है जिसे सीआईडी व सेबी इंडिया ने जब्त कर ली है।

ठगी के रुपए लगाए व्यापार में

आरोपित ने देश के विभिन्न राज्यों में खोली गई ब्रांचों से वसूले गए करोडों रुपयों को व्यापार में लगा दिया। पुलिस पूछताछ में आरोपित ने बताया कि उसने वसूले गए रुपयों से वेस्ट बंगाल में 7 हज़ार एकड़ में चाय के 4 बागान खरीदे। इसके अलावा स्कूल, होटल, आवासीय डवलपमेंट के लिए 1500 बीघा जमीन व कोलकाता में ऑफिस, मकान में इन्वेस्ट किया।

आरोपित के नाम 106 वाहन

पुलिस पूछताछ में सामने आया कि आरोपित ने विभिन्न राज्यों में कंपनी की ब्रांच खोली थी जिसके तहत राजस्थान में 14 वाहन, वेस्ट बंगाल में 25 वाहन, बिहार में 16 वाहन, गुजरात में 23 वाहन, झारखंड में 4 वाहन एवं उत्तर प्रदेश में 24 वाहन है।

आरोपित के बैंक खाते में सीधे जमा होता था कलेक्शन

शाहपुरा स्थित कंपनी की ब्रांच में बड़ी संख्या में लोगों ने दैनिक, साप्ताहिक व फिक्स एफडी के नाम पर मोटी रकम जमा कराई थी। शाहपुरा शाखा के माध्यम से जो पैसा कलेक्शन होता था वह साप्ताहिक कलेक्शन आरोपित के कोलकाता खाते में जमा होता था।

शाहपुरा. पुलिस टीम के साथ डेढ़ करोड़ की धोखाधड़ी का आराेिपत।

X
विश्वमित्र इंडिया परिवार कम्पनी ऑफ ग्रुप का सीएमडी गिरफ्तार, डेढ़ करोड़ की ठगी का आरोप
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..