Home | Rajasthan | Shahpura | ट्रक-पिकअप की भिड़ंत में 4 लोगों की मौत, घायलों को बचाने की बजाय ग्रामीण खरबूजे उठाने में लगे रहे

ट्रक-पिकअप की भिड़ंत में 4 लोगों की मौत, घायलों को बचाने की बजाय ग्रामीण खरबूजे उठाने में लगे रहे

45 दिन पहले ही शुरू हुए नागौर-सतुर व मांडल-सांगानेर मेगा हाईवे के चंबल प्रोजेक्ट चौराहा पर शनिवार सुबह ट्रक व पिकअप...

Bhaskar News Network| Last Modified - May 06, 2018, 06:45 AM IST

1 of
ट्रक-पिकअप की भिड़ंत में 4 लोगों की मौत, घायलों को बचाने की बजाय ग्रामीण खरबूजे उठाने में लगे रहे
45 दिन पहले ही शुरू हुए नागौर-सतुर व मांडल-सांगानेर मेगा हाईवे के चंबल प्रोजेक्ट चौराहा पर शनिवार सुबह ट्रक व पिकअप की भिड़ंत हो गई। हादसे में पिकअप सवार चार ग्रामीणों की मौत हो गई। दो घायल हैं। मौके पर पहुंचे लोग घायलों को अस्पताल पहुंचाने की बजाय ट्रक से बिखरे खरबूजे व पिकअप में भरी इसबगोल लूटने में लगे रहे। ट्रक चालक फरार है। दुर्घटनाओं में भीलवाड़ा जिला प्रदेश में 8वें स्थान पर है। गत साल भी 1223 सड़क दुर्घटनाएं हुई। इनमें 392 लोगों की मौत हुई तथा 831 लोग घायल हुए थे।

शाहपुरा पुलिस के अनुसार रहड़ क्षेत्र के ग्रामीण तड़के पिकअप में इसबगोल लेकर नीमच (मध्यप्रदेश) मंडी जा रहे थे। करीब 6 किमी चले थे कि माताजी का खेड़ा के पास मेगा हाईवे और नागौर-सतुर राष्ट्रीय राजमार्ग के चंबल चौराहा पर इन वाहनों में आमने-सामने भिड़ंत हो गई। पिकअप पलट गई और उसमें सवार ग्रामीण बोरियों सहित सड़क पर गिर गए। समय पर उपचार नहीं मिलने से तीन ने तड़पते हुए मौके पर तथा एक ने शाहपुरा अस्पताल में दम तोड़ दिया। दो घायलों को शाहपुरा अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद भीलवाड़ा रैफर किया गया। सूचना पर पूर्व उप प्रधान गोपाल धूपड़, शांतिलाल चौधरी, पूर्व पालिका अध्यक्ष रघुनंदन सोनी, एएसपी रामजीलाल चंदेल, तहसीलदार अशोक सोनी, एसएचओ देरावर सिंह भाटी, एसआई सुरेंद्र मिश्रा मौके पर पहुंचे। घायलों को शाहपुरा अस्पताल पहुंचाया। दुर्घटना में काशीपुरिया निवासी पप्पू (35) पुत्र खाना रैगर, रहड निवासी रामराज (25)पुत्र रामधन गुर्जर, काशीपुरिया का भवरलाल (55) पुत्र रामचंद्र लौहार व रहड निवासी रामेश्वर (55) पुत्र हीरालाल की मौत हो गई। रहड निवासी रामजस पुत्र हिंदू लाल गुर्जर, मालीखेड़ा का दल्ला पुत्र देवी लाल गुर्जर को शाहपुरा अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां हालत में सुधार नहीं होने पर दोनों को भीलवाड़ा रैफर किया गया। पुलिस ने दुर्घटनाग्रस्त वाहनों को क्रेन की मदद से मौके से हटवाया। हादसे को लेकर काशीपुरिया व रहड में शोक है।

भिड़ंत के बाद ट्रक में भरे खरबूजे हाईवे पर इस तरह बिखर गए।

हादसे में इनकी हुई मौत।

डेढ़ माह-पांच हादसों में गई नौ जान... उक्त चौराहे पर डेढ़ माह में करीब पांच हादसे हुए और उनमें 9 लोग असमय काल के ग्रास बन चुके। एक सप्ताह पूर्व शाहपुरा के उदयभान गेट पर रहने वाले नंदा कहार की जीप दुर्घटना में मौत हुई थी। तब यहां पर डिवाइडर अथवा स्पीड ब्रेकर बनाने की मांग की गई थी। इस जगह मांडल-सांगानेर मेगा हाईवे एवं नागौर-सतुर राष्ट्रीय राजमार्ग एक-दूसरे को समकोण पर काटते हैं। इसके चलते हर वक्त दुर्घटना का अंदेशा रहता है।

घायलों को अस्पताल पहुंचाने के बजाय खरबूजे लूटने ने किया मानवता को शर्मसार...दुर्घटना में घायलों को बीच सड़क पर तड़पता देखने के बावजूद ग्रामीणों का मन नहीं पसीजा और वे उन्हें अस्पताल पहुंचाने के बजाय ट्रक में भरे खरबूजे व पिकअप में भरी इसबगोल लूटने में व्यस्तता दिखा मानवता को शर्मसार किया। एक तरफ घायल तड़प रहे थे, वहीं दूसरी ओर शाहपुरा सहित आसपास के गांवों के ग्रामीण ट्रक व पिकअप से बिखरे खरबूजे व इसबगोल लूटने में व्यस्त थे तथा घायल मौके पर तड़पते रहे। घायलों को बचाने के बजाय ग्रामीणों में खरबूजे व इसबगोल लूटने की होड़ लगी रही। कई लोग खरबूजे कट्टे में भर दो पहिया वाहनों पर रख ले जाते भी दिखे।

ट्रक-पिकअप की भिड़ंत में 4 लोगों की मौत, घायलों को बचाने की बजाय ग्रामीण खरबूजे उठाने में लगे रहे
ट्रक-पिकअप की भिड़ंत में 4 लोगों की मौत, घायलों को बचाने की बजाय ग्रामीण खरबूजे उठाने में लगे रहे
ट्रक-पिकअप की भिड़ंत में 4 लोगों की मौत, घायलों को बचाने की बजाय ग्रामीण खरबूजे उठाने में लगे रहे
ट्रक-पिकअप की भिड़ंत में 4 लोगों की मौत, घायलों को बचाने की बजाय ग्रामीण खरबूजे उठाने में लगे रहे
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now