• Hindi News
  • Rajasthan
  • Shahpura
  • मारपीट, गाली देकर दबाव बनाया: सचिव रिश्वत मांगी, मुझ पर रिवाल्वर ताना: सदस्य
--Advertisement--

मारपीट, गाली देकर दबाव बनाया: सचिव रिश्वत मांगी, मुझ पर रिवाल्वर ताना: सदस्य

कार्यालय संवाददाता | शाहपुरा स्थानीय पंचायत समिति में निठारा लेटकाबास ग्राम पंचायत के ग्राम सचिव व पंचायत...

Dainik Bhaskar

May 12, 2018, 06:55 AM IST
मारपीट, गाली देकर दबाव बनाया: सचिव 
 रिश्वत मांगी, मुझ पर रिवाल्वर ताना: सदस्य
कार्यालय संवाददाता | शाहपुरा

स्थानीय पंचायत समिति में निठारा लेटकाबास ग्राम पंचायत के ग्राम सचिव व पंचायत समिति सदस्य रामकुंवार कटारिया के बीच विवाद हो गया। विवाद थाने तक पहुंच गया। ग्राम सचिव सोहनलाल ने शाहपुरा पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई है। उनके पक्ष में पंचायत के कर्मचारियों ने भी धरना व प्रदर्शन किया। पंचायत समिति सदस्य ने भी ज्ञापन देकर ग्राम सचिव पर रिश्वत मांगने और रिवाल्वर तानने का आरोप लगाया है।

पंचायत कर्मचारियों ने 14 मई तक दोषियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होने पर 15 मई से सभी कार्यो व राजस्व शिविरों का बहिष्कार करने की चेतावनी दी। विरोध करने वालों में निठारा लेटकाबास के ग्राम विकास अधिकारी सोहन लाल, संघ के जिला प्रतिनिधि ईश्वर सिंह, तहसील अध्यक्ष बाबूलाल सैनी, मंत्री गणेश नारायण शर्मा, पीओ गजानंद, राजेश शर्मा, मुकेश शर्मा, आफताब अली, बिहारीलाल बुनकर, बालकृष्ण लाटा आदि शामिल थे।

चेतावनी : 14 मई तक कार्रवाई नहीं की गई तो पंचायतकर्मी अगले दिन से आंदोलन कर राजस्व सहित सभी शिविरों का करेंगे बहिष्कार

ग्राम सचिव की ओर से दर्ज एफआईआर में विवाद की पूरी कहानी

शुरुआत : पंचायत समिति में प्रधान ने फोन कर अपने चैंबर में बुलाया

ग्राम सेवक सोहनलाल बताया कि वो पंचायत के दस्तावेज जमा कराने के लिए पंचायत समिति गए थे, जहां प्रधान नंदलाल ने फोन कर मुझे चैंबर में बुलाया। यहां पंस सदस्य रामकुवार व प्रधान के पिता सुगनचंद बड़बड़वाला बैठे थे।

विवाद : मना करने पर मारपीट, गाली-गलौज की व धमकी

नाम जोड़ने से मना करने पर रामकुंवार ने मारपीट की और जातिगत गाली देकर जान से मारने की धमकी दी। घटना की सूचना लगते ही पंचायत समिति के अधीन काम करने वाले सभी कार्मिक धरने पर बैठ गए।

दबाव : अपात्र लोगों के नाम जबरन जुड़वाने का कहते रहे

जब प्रधान के चैंबर में गया तो पंचायत समिति सदसय रामकुवार व प्रधान के पिता सुगनचंद ने दबाव बनाकर कुछ अपात्र लोगों के नाम प्रधानमंत्री आवास योजना में जुड़वाने के लिए दबाव बनाया। इसके लिए वो मुझे धमकी देते रहे।

ग्राम सचिव ने प्रधान कक्ष में रिवाल्वर तानकर दी जान से मारने की धमकी

पंसस रामकुंवार कटारिया ने आरोप लगाया कि ग्राम विकास अधिकारी सोहन लाल के खिलाफ ग्रामीणाें की बार-बार रिश्वत मांगने की शिकायत की जा रही थी। शुक्रवार को वे प्रधान कक्ष में बैठे हुए थे, तभी सोहन वहां अाया तो उन्होंने उनसे बात करनी चाही। सोहनलाल ने कहा कि हम अपनी मर्जी से काम करेंगे। एससी एसटी का मुकदमा दर्ज कराने की धमकी दी। साथ ही 14 लोगों के नाम प्रधानमंत्री आवास सूची से हटा दिए और रिश्वत लेकर एक व्यक्ति का नाम जोड़ दिया। जब उन्होंने सचिव को पूछा तो सचिव ने उल्टे उन्हें ही धमका दिया। इतना कहते ही जब वे अपनी सीट से खड़े हुए तो सचिव ने उनके ऊपर रिवाल्वर तान दी। बाद में प्रधान एवं सरपंच पिता ने बीच बचाव कर मामला शांत किया। बाद में रामकुंवार कटारिया के पक्ष में भी लोगों ने विकास अधिकारी, एसडीएम, बीडीओ को ज्ञापन दिया। प्रधान नंदलाल गोठवाल, सरपंच पिता सुगनचंद बडबडवाल, अर्जुन बडबडवाल आदि मौज्ूद थे।

X
मारपीट, गाली देकर दबाव बनाया: सचिव 
 रिश्वत मांगी, मुझ पर रिवाल्वर ताना: सदस्य
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..