• Home
  • Rajasthan News
  • Shahpura News
  • पीड़ित पक्ष बोला- नामजद लोगों को गिरफ्तार करो, स्वैच्छिक गवाहों के बयान रिकॉर्ड पर लो
--Advertisement--

पीड़ित पक्ष बोला- नामजद लोगों को गिरफ्तार करो, स्वैच्छिक गवाहों के बयान रिकॉर्ड पर लो

शाहपुरा. अमरसर पुलिस थाने में दर्ज हत्या के मामले में निष्पक्ष जांच और नामजद आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने की...

Danik Bhaskar | May 11, 2018, 06:55 AM IST
शाहपुरा. अमरसर पुलिस थाने में दर्ज हत्या के मामले में निष्पक्ष जांच और नामजद आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग को लेकर गुरुवार को रामपुरा गांव के करीब 200 लोगों ने डीएसपी कार्यालय परिसर में तीन घंटे तक धरना दिया। ये सभी इस मामले में नामजद लोगों को गिरफ्तार करने और स्वैच्छिक गवाहों के बयान रिकार्ड पर लेने की मांग की। लोगों ने डीएसपी भागचंद्र मीणा को ज्ञापन सौंपा। डीएसपी मीणा ने भरोसा दिलाया,लेकिन गुस्साए लोग नामजद व्यक्तियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने और उच्चाधिकारियों को मौके पर बुलाने की मांग पर अड़ गए।

बाद में देर शाम को लोगों की ओर से बताए गए बिंदुओं को दर्ज मामले में शामिल कर गहनता से जांच कराने के डीएसपी के आश्वासन पर माने और वापस लौटे। गौरतलब है कि ससुराल गए नाथूराम की मोरखी गांव में मौत हो गई थी। मृतक के भाई ने उसकी प|ी सहित अन्य रिश्तेदारों के खिलाफ मामला दर्ज कराया था।

पुलिस पर आरोप : अमरसर पुलिस थाने में 13 दिन पहले हत्या का नामजद मुकदमा दर्ज कराया, लेकिन पुलिस ने न तो आरोपितों को गिरफ्तार किया न उनसे कोई पूछताछ की

शाहपुरा. डीएसपी कार्यालय पर धरना देते लोग एवं डीएसपी काेज्ञापन सौपते रामपुरा गांव के लोग।

क्या है मामला करीब 13 दिन पहले रामपुरा निवासी नाथूराम रुण्डला अपनी प|ी संतोष देवी को लेने अपने ससुराल मारखी गांव में गया था। उन्होंने आरोप लगाया कि वहां ससुराल पक्ष के लोग और प|ी संतोष ने मिलकर उसकी हत्या कर दी।

जांच पर सवाल मृतक के भाई ने थाने में 30 अप्रेल को मामला दर्ज करवाया था। 13 दिन बीत गए, लेकिन पुलिस ने अभी तक नामजद आरोपितों से न तो सख्ती से पूछताछ की और ना ही गिरफ्तार किया है। इससे मृतक के परिजनों समेत गांव में लोगों में भारी रोष व्याप्त है।

जवाब, जांच कर लेंगे इस संबंध में डीएसपी भागचंद मीणा का कहना कि मृतक के परिजनों एवं गांव बालों ने तफ्तीश के लिए 12 बिंदु ओर बताए है उन पर भी निष्पक्ष जांच करा ली जावेगी।

इन बिंदुओं पर जांच की मांग

धमकी देने वाले नामजद आरोपितों की कॉल डिटेल की जांच हो

नामजद व्यक्तियों को शीघ्र गिरफ्तार करने, मामले की निष्पक्ष एवं तेजी से जांच करने, नामजद व्यक्तियों की कॉल डिटेल खंगालने, स्वेच्छा से बयान दर्ज करवाने चाहते है, उनके बयान रिकॉर्ड मेंं लिए जाने, घटना के दौरान पीडि़त पक्ष के लोगों से नामजद व्यक्तियों की वार्ता हुई, उसकी सभी मोबाइल रिकॉर्डिंग रिकॉर्ड में लेने समेत विभिन्न12 बिंदुओं पर जांच करने की मांग की है।

पुलिस कर्मी ने पीड़ितों के साथ की गाली गलौज

आक्रोशित लोगों ने डीएसपी भागचंद मीणा को शिकायत की कि जब मृतक के परिजन एवं गांव के प्रबुद्ध लोग आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई कि मांग कि तभी वहां मौजूद कांस्टेबल जगदीप ने गाली गलोच किया ।जिस पर डीएसपी ने जांचकर कार्रवाई की बात कही ।