• Hindi News
  • Rajasthan
  • Shahpura
  • आपस में भाईचारा एवं शांति बनाए रखना ही लोगों का परम दायित्व
--Advertisement--

आपस में भाईचारा एवं शांति बनाए रखना ही लोगों का परम दायित्व

कार्यालय संवाददाता | शाहपुरा शहर के थाना परिसर में शनिवार को थाना प्रभारी विरेंद्र सिंह राठौड की अध्यक्षता में...

Dainik Bhaskar

Apr 09, 2018, 07:05 AM IST
आपस में भाईचारा एवं शांति बनाए रखना ही लोगों का परम दायित्व
कार्यालय संवाददाता | शाहपुरा

शहर के थाना परिसर में शनिवार को थाना प्रभारी विरेंद्र सिंह राठौड की अध्यक्षता में सीएलजी की बैठक आयोजित हुई। जिसमें 10 अप्रैल को व्हाट्सएप एवं फेसबुक ग्रुप पर चल रहे भारत बंद के लिए जिम्मेदार लोगों से सुझाव मांगे। लेकिन प्रमाणिक रुप से किसी भी वर्ग ने भारत बंद का समर्थन नहीं किया। जिस पर थाना प्रभारी ने सभी समुदाय के लोगों से आपसी भाईचारे, प्रेम, सोहार्द एवं सांप्रदायिक सौहार्द की भावन रखने की अपील की।

उन्होने कहा कि बंद को लेकर लोगों को उग्रता के लिए भडकाने वाले एवं दंगा कराने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। सभी को शांती व्यवस्था में योगदान देना होगा। समाज सेवी भगवान सहाय बेनीवाल ने कहा कि देश में कई बार जातिगत आंदोलन हुए जैसे मीणा, गुर्जर, पद्मावत फिल्म विवाद। उन आंदाेलनों को किसी दूसरे समुदाय के लोगों ने विरोध नहीं किया, लेकिन हाल ही में एससी एसटी एक्ट को लेकर किए गए आंदोलन का दूसरे वर्ग द्वारा विरोध किया जाना गलत हैं। इससे आपसी भाईचारे एवं जातिगत विद्रोह होने की संभावना हो सकती हैं। हमें एक दूसरे का विरोध नहीं कर देश की शांती व्यवस्था में योगदान देना होगा। बैठक में रोहिताश गुर्जर, विक्रम कसाणा, किशन लाल जांगिड, अर्जुन लाल सारण, साधुराम पलसानिया, किशन लाल चौधरी, श्याम सुंदर शर्मा, मोईनुद्दीन लुहार, रमेशचंद मीणा, कमल कुमावत, विजय अग्रवाल, पूरणमल बुनकर व गोमाराम सहित कई लोग मौजूद थे।

बंद की किसी ने भी नहीं ली जिम्मेदारी

मनोहरपुर| कस्बे के थाना परिसर में शनिवार को थाना प्रभारी नरेंद्र सिंह भडाणा की अध्यक्षता में सीएलजी की बैठक आयोजित हुई। जिसमें 10 अप्रैल को व्हाट्सएप एवं फेसबुक ग्रुप पर चल रहे भारत बंद के लिए जिम्मेदार लोगों से सुझाव मांगे। लेकिन प्रमाणिक रुप से किसी भी वर्ग ने भारत बंद का समर्थन नहीं किया। इस पर थाना प्रभारी ने कहा कि आपसी सहयोग एवं सौहार्द कायम रखना हर समाज का दायित्व हैं। देश की न्यायपालिका का विरोध एवं समर्थन करने का तरीका हिंसा नहीं होकर अहिंसात्मक ही रहना होगा।

आपसी विरोध से भाईचारे में एवं सामाजिक सदभाव में खला पड सकती हैं। बैठक में पूर्व जिला पार्षद पूरणमल बेनीवल, अल्लाउद्दीन खां, मामराज जांगिड, संपूर्णानंद शर्मा, बाबूलाल यादव, भाजपा मंडल अध्यक्ष गिरधारी लाल मीणा, बाबूलाल नौगिया, मंगल चंद ठुकरान सहित कई लोग मौजूद थे।

अापसी सौहार्द की अपील

अमरसर| कस्बे के दादापोता छतरी स्थित पुलिस थाना भवन में शनिवार को सीएलजी की बैठक एएसआई मुकेश सिंह की अध्यक्षता में आयोजित हुई। इस दौरान एएसआई मुकेश सिंह ने कहा कि समाज में आपसी सौहार्द्र व सदभाव से रहने पर ही व्यक्ति का जीवन सुखी रह सकता है। अमरसर सरपंच ओम प्रकाश सैनी व नायन सरपंच महेश शर्मा ने कहा कि अमरसरवाटी क्षेत्र प्राचीन समय से ही धार्मिक सौहार्द्र का प्रतीक रहा है तथा सभी जातियो व उपजातियो के लोग आपसी सहयोग व सद्भाव से रहते हैं। इस दौरान प्रवक्ता श्रीराम ने आगामी दस अप्रैल व अंबेडकर जयंती पर शांति व्यवस्था में सीएलजी सदस्यो से सक्रिय भूमिका निभाकर लोगो को आपसी सौहार्द्र कायम रखने के लिए जागरुक करने की अपील की।इस दौरान मुरलीपुरा सरपंच प्रतिनिधि शीशराम कलवानिया, किसान नेता कैलाश डोडवाडिया, कृपाशंकर मीना, शंकर लाल जाट आदि मौजूद थे।

X
आपस में भाईचारा एवं शांति बनाए रखना ही लोगों का परम दायित्व
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..