--Advertisement--

लाल देह लाली लसे अरु धरि लाल लंगूर

घाटी धाम में 9 दिन से चल रही श्रीराम कथा की गुरुवार को पूर्णाहूति हुई। लोग घाटी धाम पहुंचे। व्यास पीठ पर विराजित...

Dainik Bhaskar

Aug 10, 2018, 07:21 AM IST
लाल देह लाली लसे अरु धरि लाल लंगूर
घाटी धाम में 9 दिन से चल रही श्रीराम कथा की गुरुवार को पूर्णाहूति हुई। लोग घाटी धाम पहुंचे।

व्यास पीठ पर विराजित श्री रामबाबूदास जी महाराज ने भगवान श्री रामचन्द्र जी के लंका विजय के बाद अयोध्या आगमन एवं राजतिलक की कथा सुनाई। हनुमान जी को सिंदूर चढ़ाए जाने का रहस्य बताते हुए इस प्रसंग की कथा का भी संगीतमय सुंदर वर्णन किया। इस दौरान प्रस्तुत भजनों पर श्रद्धालु जमकर नाचे। कथा समापन के बाद हवन किया गया।भगवान श्रीराम की आरती उतारी गई।

पूर्णाहुति व भण्डारे के साथ भागवत कथा का समापन

पावटा ग्रामीण | टसकोला ग्राम पंचायत के अन्तर्गत भुडावाली ढाणी के भैंरू बाबा मंदिर में गत दिनो से चल रही श्रीमद भागवत कथा का गुरुवार को पूर्णाहुति व भण्डारे के साथ समापन हुआ।

इससे पूर्व कथा वाचक विजय कृष्ण भारद्वाज ने भागवत कथा के महत्व पर प्रकाश डालते हुए बताया कि भागवत कथा सुनने से पापो से मुक्ति मिलती है। मानव को जीवन में भागवत कथा सुनकर उसका अनुकरण करना चाहिऐ। भण्डारे का आयोजन किया जिसमें सैकडों भक्तों ने पंगत प्रसादी पाई। इस दौरान लादूराम, बनवारी लाल, बृजेश, भैंरूराम, बोदूराम मौजूद थे।

भगवान शिव का भक्तों ने किया रूद्राभिषेक

शाहपुरा | शहर के पंचायत समिति के पास रामेश्वरदासजी महाराज के स्थान पर गुरुवार को महंत रामशरणदासजी महाराज के सानिध्य में भगवान शिव का रूद्राभिषेक व पंचामृत अभिषेक किया गया। पंडित कमलेश शर्मा खोरी के आचार्यत्व में 13 पंडितों ने रूद्राभिषेक कराया। कार्यक्रम में छारसा के छीतरदासजी महाराज,करणी सागर सुखधाम के रामकृष्णदासजी महाराज भी पहुंचे। मुख्य यजमान किशन दादरवाल, मालीराम जोशी, सुरेश, गिरधारी, रामू आदि मौजूद रहे।

गठवाड़ी. घाटी धाम में श्री राम कथा के दौरान प्रस्तुत भजनों पर नाचते श्रद्धालु।

X
लाल देह लाली लसे अरु धरि लाल लंगूर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..