• ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
अंतिम अपडेट : 18-06-2018 07:58AM
मार्क्सवाद की विचारधारा और साम्यवादी सिनेमा का दर्शक

मार्क्सवाद की विचारधारा और साम्यवादी सिनेमा का दर्शक

महाभारत के लेखक वेदव्यास अपनी ही रचना के केंद्रीय पात्र भी रहे हैं और उन्हें अपनी इच्छामृत्यु का वरदान प्राप्त था। अगर ऐसा ही कोई वरदान महान विचारक कार्ल मार्क्स को प्राप्त होता तो वे आज दो सौ वर्ष के होते परंतु आज मानव इतने भाग्यवान नहीं हैं कि...

श्रीगंगानगर के ताज़ा समाचार

कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
Allow पर क्लिक करें।