--Advertisement--

अमेरिका देगा मेरिट बेस्ड वीसा, 7.5 लाख भारतीय परिवारों को फायदा

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने मंगलवार को पहली बार कांग्रेस के संयुक्त अधिवेशन स्टेट ऑफ द यूनियन को...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 01:25 PM IST
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने मंगलवार को पहली बार कांग्रेस के संयुक्त अधिवेशन स्टेट ऑफ द यूनियन को संबोधित किया। ट्रम्प ने कहा कि अमेरिकी नागरिक दुनिया में सबसे ज्यादा सुरक्षित और मजबूत हैं। हमने अमेरिका को और महान बनाने के लिए कदम उठाए हैं। जब तक दुनिया से आईएस का सफाया नहीं हो जाता, तब तक अमेरिका की जंग जारी रहेगी।

करीब 1 घंटे 20 तक चले संबोधन में ट्रम्प ने अपने कार्यकाल के दूसरे साल के एजेंडे भी बताए। उन्होंने इमिग्रेशन सिस्टम में सुधार के लिए विपक्षी रिपब्लिकन पार्टी का समर्थन मांगा। ट्रम्प ने कहा- चार स्तंभों वाली इमिग्रेशन योजना में योग्यता आधारित इमिग्रेशन प्रणाली की दिशा में बढ़ने का समय आ गया है। अब लॉटरी सिस्टम से वीसा देने की प्रक्रिया बंद की जाएगी। यह ऐसा प्रोग्राम था, जिसके जरिए अकुशल लोगों को भी ग्रीन कार्ड मिल जाता है। इस सिस्टम से अमेरिका में रह रहे करीब 7.5 लाख भारतीय परिवारों को फायदा होगा।

सुनयना ने भी सुना भाषण

ट्रम्प को सुनने के लिए हेट क्राइम के शिकार हुए भारतीय इंजीनियर श्रीनिवास कुचिभोटला की प|ी सुनयना दुमाला भी पहुंची। उन्हें सांसद केविन योडर ने बतौर गेस्ट आमंत्रित किया था। कुचिभोटला की अमेरिका में गोली मारकर हत्या कर दी थी।

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अपने पहले संबोधन में कहा कि अमेरिका वीसा जारी करने में लाॅटरी सिस्टम को बंद करेगा। दुनिया से आईएस के खात्मे तक हमारी जंग जारी रहेगी। उन्होंने उ. कोरिया, ईरान विवाद, अमेरिका फर्स्ट, परमाणु नीति का भी जिक्र किया।

5 लाख भारतीय प्रोफेशनल्स ने ग्रीन कार्ड के लिए आवेदन किया है

स्टेट ऑफ यूनियन स्पीच अमेरिकी राष्ट्रपति की ओर से दिया जाने वाला पारंपरिक संबोधन है। इसमें राष्ट्रपति कांग्रेस के दोनों सदनों की संयुक्त बैठक को संबोधित करते हैं। ट्रम्प का पहला संबोधन जैसे खत्म हुआ, सदन में ही सांसद ट्रम्प के साथ सेल्फी लेने में जुट गए।

आतंकवाद, परमाणु

आईएस को खत्म करना, उ. कोरिया से निपटना है

ट्रम्प ने आतंकवादी गुट अाईएस और उत्तर कोरिया के परमाणु खतरों से निपटने पर जोर दिया। कहा- हमें अपने मतभेद भुलाकर लोगों के हितों के लिए काम करना चाहिए। आतंकी सामान्य अपराधी नहीं हैं, वे गैरकानूनी तरीके से लड़ रहे विद्रोही हैं। उत्तर कोरिया में लोगों पर जुल्म ढाए जाते हैं। दुनिया में कहीं ऐसा नहीं होता।

ट्रम्प के दावे-

एक साल में 24 लाख नौकरी दीं

चीन, रूस पर निशाना

रूस और चीन अमेरिकी मूल्यों को चुनौती दे रहे

डोनाल्ड ट्रम्प ने चीन और रूस पर निशाना साधते हुए कहा कि दोनों देश अमेरिकी मूल्यों को चुनौती देते हैं। हम देश में और देश से बाहर अपनी ताकत बढ़ाएंगे। दुनिया में तानाशाह भी अपनी सत्ता चला रहे हैं। चीन और रूस जैसे हमारे विरोधियों के चलते हमारी इकोनॉमी और मूल्यों को चुनौती मिल रही है।





अमेरिका में भारतीय मूल के 34 लाख लोग रहते हैं

अमेरिका में करीब 34 लाख भारतीय मूल के लोग रहते हैंं। ट्रम्प के मेरिट बेस्ड वीसा से करीब 7.5 लाख भारतीय परिवारों को फायदा होने की संभावना है। फिलहाल, करीब पांच लाख भारतीय प्राेफेशनल्स ने अमेरिका में ग्रीन कार्ड पाने के लिए अावेदन कर रखा है। वहीं, ट्रम्प के इस प्रस्ताव से उन लोगों को अमेरिकी नागरिकता मिल सकेगी, जो बचपन में ही अवैध तरीके से अमेरिका पहुंच गए थे। अमेरिका इमीग्रेशन डिपॉटमेंट के मुताबिक करीब 5,500 भारतीय अवैध रूप से वहां रह रहे हैं।


अमेरिका फर्स्ट

हम सब मिलकर एक महान अमेरिका बनाएंगे

ट्रम्प ने कहा अमेरिका में आशावादिता का एक नया ज्वार उमड़ पड़ा है। हर दिन हम आगे बढ़ रहे हैं। हमारा मकसद साफ है। सभी अमेरिकियों के लिए हम एक महान अमेरिका बनाएंगे। हमने अमेरिका को और महान बनाने के लिए कदम उठाए हैं। 45 साल में बेरोजगारी सबसे कम हो गई है, मुझे इस बात का गर्व है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..