श्रीगंगानगर

--Advertisement--

तनख्वाह से ज्यादा खर्च, इसलिए साइबर अपराधी बन गया नीरज

बुधवार को पुलिस ने सॉफ्टवेयर इंजीनियर नीरज को न्यायालय में पेश किया। जहां से उसे तीन दिन के पीसी रिमांड पर लिया...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 01:30 PM IST
बुधवार को पुलिस ने सॉफ्टवेयर इंजीनियर नीरज को न्यायालय में पेश किया। जहां से उसे तीन दिन के पीसी रिमांड पर लिया गया है। नीरज अभी पुलिस को इस घोटाले में शामिल दोस्तों के नाम बताने से भी पीछे हट रहा है। पुलिस को आशंका है कि कहीं ना कहीं नीरज सोनी ने वारदात में शामिल दोस्तों में एक या दो इंजीनियर साथियों को ही शामिल किया होगा। टीम में शामिल उद्योगनगर एसएचओ वीरेंद्र शर्मा ने बताया कि पुलिस टीम ने बुधवार को जयपुर जाकर कर भवन से उस कम्प्यूटर को जब्त किया, जिसे नीरज सोनी ने घोटाला करने के लिए इस्तेमाल किया था। अब फिर से नीरज सोनी से पूछताछ की जाएगी।

इमरान-लता मीणा के बाद गिरफ्तार हो सकता है नीरज का जीजा हिमांशु, उसे दिए थे सारे खाता नंबर

भरतपुर पुलिस प्रताप कॉलोनी निवासी इमरान खान व लता मीणा को गिरफ्तार कर अलवर पुलिस को सुपुर्द कर चुकी है। क्योंकि नीरज सोनी के जीजा ने जो खाता नंबर उपलब्ध कराए थे, वह लता मीणा की मां के ही थे। जबकि उस खाते में राशि अलवर जोन के रिफंड क्लेम की आई थी। इसलिए अब अलवर के शिवाजी पार्क थाना पुलिस नीरज सोनी के जीजा हिमांशु को गिरफ्तार कर सकती है। हिमांशु की गिरफ्तारी के बाद ही यह पता चल सकेगा कि इमरान व हिमांशु के बीच क्या कनेक्शन था और कितनी राशि किस कमीशन के रूप में दी गई।

शिवाजी पार्क थाने के एसएचओ विनोद सांवरिया ने बताया कि अभी आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। पूछताछ के बाद जल्द और भी कार्रवाई की जाएगी।

X
Click to listen..