श्रीगंगानगर

--Advertisement--

पति की आंखों पर तेजाब डाला था 7 साल बाद पत्नी को 3 वर्ष कैद

श्रीकरणपुर|अदालत ने पति पर तेजाब डालने के मामले में प|ी को तीन साल की कैद की सजा सुनाई है। मामले में आरोपी के प्रेमी...

Danik Bhaskar

Mar 01, 2018, 06:50 AM IST
श्रीकरणपुर|अदालत ने पति पर तेजाब डालने के मामले में प|ी को तीन साल की कैद की सजा सुनाई है। मामले में आरोपी के प्रेमी व सहेली के खिलाफ आरोप साबित नहीं हो पाए। घटना सात साल पूर्व की गजसिंहपुर थाना क्षेत्र की है। हमले में पति की एक आंख की रोशनी चली गई। परिवादी प्रेमकुमार उर्फ भूराराम नायक निवासी मोटासरखूनी ने 8 जून 2011 को श्रीगंगानगर अस्पताल में पुलिस में बयान दर्ज करवाए। परिवादी के अनुसार रात को किसी समय उसकी आंखों पर किसी ने तेजाब डाल दिया था। प्रेमकुमार ने संदेह जताया कि उसकी प|ी रज्जीदेवी इसमें शामिल हो सकती है। उसने बताया कि रज्जीदेवी का चाल-चलन सही नहीं है। उसके प्रदीप कुमार पुत्र हरबंस सिंह निवासी गजसिंहपुर से नजदीकी संबंध हैं। मामले में पुलिस ने जांच में प्रदीपकुमार व सावित्री प|ी शंकरलाल मेघवाल को सहआरोपी माना। अपर लोक अभियोजक सुरेंद्रपालसिंह ने बताया कि एडीजे हरिवल्लभ खत्री ने मामले की सुनवाई करते हुए सावित्री व प्रदीप कुमार को संदेह का लाभ देते हुए बरी कर दिया। रज्जीदेवी को धारा 326 भादंसं में दोषी मानते हुए 3 वर्ष का साधारण कारावास और तीन हजार रुपए जुर्माने से दंडित किया।

Click to listen..