--Advertisement--

फर्जी ऑयल कंपनी बनाकर 53 लाख ठगने का आरोप

Shriganganagar News - श्रीगंगानगर| फर्जी कंपनी बनाकर उसमें रुपए इन्वेस्ट करवाकर 53 लाख रुपए की धोखाधड़ी करने के आरोप में कोतवाली थाना...

Dainik Bhaskar

Jul 22, 2018, 06:40 AM IST
फर्जी ऑयल कंपनी बनाकर 53 लाख ठगने का आरोप
श्रीगंगानगर| फर्जी कंपनी बनाकर उसमें रुपए इन्वेस्ट करवाकर 53 लाख रुपए की धोखाधड़ी करने के आरोप में कोतवाली थाना पुलिस ने दो लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस के अनुसार हाल बरनाला जंडाला रोड निवासी सुनील सिंह पुत्र बलवीर सिंह ने बताया कि परिवादी ने वर्ष 2014-15 में श्रीगंगानगर ब्लॉक एरिया में ऑफिस बनाकर इंपोर्ट एक्सपोर्ट और प्रॉपर्टी का व्यापार करना शुरू किया था। इस दौरान परिवादी को मुंबई निवासी अजय हरी नाथ और लुधियाना जगरावां निवासी इंद्रप्रीत सिंह मिले और रूस व भारत में एक ऑयल कंपनी का हवाला देते हुए उसमें रुपए निवेश करने के लिए कहा।

आरोपियों ने प्रति माह 22 हजार रुपए वापस देने का वादा किया था

परिवादी के अनुसार आरोपियों ने एक लाख के निवेश पर आठ हजार रुपए प्रति सप्ताह और महीने में करीब 20 से 22 हजार रुपए वापस देने की बात कही। परिवादी के मुताबिक अपने इंपोर्ट बिजनेस के सिलसिले में वर्ष 2015 में रूस गया तब वहां इंद्रप्रीत सिंह मिला। उसने मुझे अपनी कंपनी के बारे में बताया। इस पर परिवादी ने आरोपियों पर विश्वास करते हुए पांच लाख रुपए नकद दे दिए। इसके बाद आरोपियों ने विभिन्न सेमिनार आयोजित कराए, जिसमें परिवादी भाग लेता रहा। इसके बाद परिवादी ने अजय हरिनाथ के पर्सनल अकाउंट में 6 जून 2016 को 75-75 हजार रुपए ट्रांसफर कराए। फिर 9 जून 2016 को एक लाख 25 हजार रुपए अपने दोस्त के खाते से ट्रांसफर कराए।

रुस में कंपनी दिखाकर परिवादी से धोखाधड़ी पूर्वक निवेश कराए थे रुपए

परिवादी ने आरोपियों के कहे अनुसार कुछ दिनों बाद फिर दो लाख रुपए और एक लाख 95 हजार जमा कराए तो आरोपियों ने परिवादी को रुस ले जाकर अपनी कंपनी दिखाने का वादा किया। आरोपी अक्टूबर 2016 को परिवादी और कुछ अन्य लोगों को रूस ले गए, जहां अजय हरिनाथ सिंह व अन्य मौजूद थे। वहां पांच दिन सेमिनार में भाग लेने के बाद परिवादी ने अपने दोस्तों के खाते से इंद्रप्रीत के खाते में 27 लाख व 13 लाख रुपए जमा करा दिए। कुछ समय बाद परिवादी ने जमा कराए रुपयों की सिक्योरिटी मांगी और कमीशन के बारे में बात की तो कंपनी के मालिक अजय हरिनाथ ने परिवादी को अपनी कंपनी के नाम से एक करोड़ रुपए का चेक व तीन लाख रुपए सिक्योरिटी के तौर पर दे दिए। कुछ समय बाद आरोपियों ने रुपए देना बंद कर दिया। जब परिवादी ने रुपयों की मांग की तो आरोपी ने डराना-धमकाना शुरू कर दिया। परिवादी ने कई बार संपर्क कर रुपए मांगे तो आरोपी ने फर्जी कंपनी बनाकर ठगी करने का हवाला देते हुए रुपए देने से साफ मना कर दिया। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

X
फर्जी ऑयल कंपनी बनाकर 53 लाख ठगने का आरोप
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..