विज्ञापन

2.12 लाख नए वोटर्स को लुभाने व बागियों को मनाने में आएगा जोर

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 06:16 AM IST

Shriganganagar News - भास्कर संवाददाता|श्रीगंगानगर विधानसभा चुनाव में दोनों पार्टियों का वोट बैंक पिछले चुनाव की अपेक्षा बढ़ा तो...

Suratgarh News - rajasthan news 212 lakh new voters will come to woo and rebel
  • comment
भास्कर संवाददाता|श्रीगंगानगर

विधानसभा चुनाव में दोनों पार्टियों का वोट बैंक पिछले चुनाव की अपेक्षा बढ़ा तो कांग्रेस के बागियों ने भी दमखम दिखाया। पिछले लोकसभा चुनाव की अपेक्षा श्रीगंगानगर लोकसभा सीट पर 2.12 लाख मतदाता बढ़े हैं। इससे लोकसभा चुनाव में दोनों ही पार्टियों को नए मतदाताओं को लुभाने में जोर लगाना पड़ेगा। बागियों को मनाना भी मजबूरी होगी। कांग्रेस व भाजपा को विधानसभा चुनाव का बढ़ा हुआ वोट बैंक लोकसभा चुनाव में भी बरकरार रख पाने की अग्नि परीक्षा देनी होगी। विधानसभा चुनाव 2018 कांग्रेस के लिए राजनीतिक दृष्टि से अच्छा रहा। वर्ष 2013 में श्रीगंगानगर लोकसभा क्षेत्र की आठ विधानसभा सीटों में भाजपा 6 और जमींदारा पार्टी को 2 सीटें मिली थी। तब कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिली थी। तब विधानसभा चुनाव में खाता न खोल पाने का नुकसान कांग्रेस को लोकसभा चुनाव 2013 में उठाना पड़ा था। कांग्रेस लोकसभा चुनाव हार गई। इस विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को तीन सीटें-श्रीकरणपुर, सादुलशहर और हनुमानगढ़ मिली हैं। श्रीगंगानगर से निर्दलीय विधायक राजकुमार गौड़ ने कांग्रेस को समर्थन देने की घोषणा कर रखी है। सत्ता विरोधी लहर के बावजूद भाजपा ने सीटों के नुकसान के साथ चार सीटें रायसिंहनगर, सूरतगढ़, संगरिया और पीलीबंगा जीती हैं। इससे राजनीतिक गेम में दोनों पार्टियों को बराबर की सफलता मिली। अब लोकसभा चुनाव में इस प्रभाव का बनाए रखना भी चुनौती होगी।

बागियों की घर वापसी की संभावना: विधानसभा चुनाव में जनाधार साबित करने वाले बागियों को लोकसभा चुनाव के दौरान पार्टी में शामिल कर लिया जाता है। ये परंपरा पिछले कुछ चुनावों के दौरान रही है। इस बार भी ऐसा होने की सुगबुगाहट चल रही है। विधानसभा चुनाव 2018 में लोकसभा क्षेत्र की चार विधानसभा सीटों श्रीगंगानगर, सादुलशहर, रायसिंहनगर और श्रीकरणपुर में कांग्रेस के बागियों ने चुनाव लड़कर 2.16 लाख वोट लिए। श्रीगंगानगर और रायसिंहनगर में कांग्रेस प्रत्याशियों की हार की वजह भी बागियों को माना जा रहा है। कांग्रेस सूत्रों के अनुसार बागियों को मनाकर लोकसभा चुनाव के दौरान पार्टी में शामिल किया जा सकता है। इसके लिए प्रदेश स्तर पर रणनीति बनाई जा रही है। टिकट फाइनल होने के बाद उम्मीदवार भी बागियों व पार्टी आलाकमान से संपर्क साधकर घर वापसी की बिसात बिछा सकते हैं। कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव में बगावत कर चुनाव लड़ने वाले नेताओं को ही पार्टी से निष्कासित किया है।

इस बार विधानसभा चुनाव में दोनों ही पार्टियों के वोट बढ़े

इस विधानसभा चुनाव में श्रीगंगानगर लोकसभा क्षेत्र की आठ सीटों पर कांग्रेस के वोट पिछले चुनाव की अपेक्षा 2 लाख 18 हजार 845 बढ़े हैं। कांग्रेस को वर्ष 2013 के चुनाव में 3 लाख 65 हजार 568 वोट मिले। वर्ष 2018 में 4 लाख 76 हजार 447 वेट मिले। भाजपा के 1 लाख 6 हजार 392 वोट बढ़े हैं। वर्ष 2013 में भाजपा को 4 लाख 76 हजार 447 वोट मिले थे। वर्ष 2018 में 5 लाख 82 हजार 839 वोट मिले।

X
Suratgarh News - rajasthan news 212 lakh new voters will come to woo and rebel
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन