पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • Sriganganagar News Rajasthan News 4 Shops Of Soni Dharamsala Opened After Orders To Free The Seized Of High Court

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सोनी धर्मशाला की 4 दुकानें हाईकोर्ट के सीज मुक्त करने के आदेशों के बाद खोल दी गई

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर संवाददाता| श्रीगंगानगर

हाईकोर्ट ने सोनी धर्मशाला के बाहर दुकान कर रहे दुकानदारों को बड़ी राहत दी है। उच्च न्यायालय ने नगर परिषद के 25 फरवरी के आदेश पर स्टे जारी करते हुए दुकानें सीज मुक्त करने के निर्देश दिए। नगर परिषद के पास गुरुवार दोपहर जैसे ही न्यायालय के आदेश की कॉपी आई, आयुक्त मिलखराज चुघ के निर्देश पर एईएन सुखपाल कौर, स्वास्थ्य निरीक्षक सुमित फुटेला टीम सहित मौके पर पहुंचे तथा चारों दुकानें सीज मुक्त कर दी। नगरपरिषद आयुक्त अशोक कुमार असीजा के निर्देश की पालना में 1 मार्च को सोनी धर्मशाला की 4 दुकानें सीज की गई थी। इस कार्रवाई के खिलाफ दुकानदार प्रदीप गर्ग ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की।

सेटबैक की भूमि पर निर्माण पर सीज की गई थी दुकानें
नगर परिषद के अधिकारी सोनी धर्मशाली की दुकानों को सीज मुक्त करते हुए।

कार्यवाहक आयुक्त मिलखराज चुघ का कहना है कि सुखाड़िया नगर में भूखंड संख्या 3-बी-1 में स्वर्णकार सभा धर्मशाला के बाहर सेटबैक की भूमि पर नियम विरुद्ध निर्मित 4 दुकानें सीज की गई थी। न्यायालय ने दो सप्ताह में जवाब मांगा है। परिषद निर्धारित अवधि के दरमियान ही जवाब पेश कर देगी। उन्होंने कहा कि न्यायालय को अवगत कराया जाएगा कि ये दुकानें सैटबैक की भूमि पर बनाई गई हैं।

वहीं दुकानदारों को इस संबंध में पूर्व में न तो डीएलबी से राहत मिली और न ही लोकायुक्त से। सोनी धर्मशाला के बाहर कुल 5 दुकानें बनी हुई हैं। एक दुकान पहले से ही सीज चल रही है। 18 दिसंबर को भी ये चारों दुकानें सीज की गई थी, लेकिन डीएलबी निदेशक ने 26 दिसंबर को 4 दुकानों को सीज मुक्त के आदेश दिए। 25 फरवरी को फिर सीज मुक्त के आदेश हुए। इस पर ही 1 मार्च को ये दुकानें सीज की गई थी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आसपास का वातावरण सुखद बना रहेगा। प्रियजनों के साथ मिल-बैठकर अपने अनुभव साझा करेंगे। कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा बनाने से बेहतर परिणाम हासिल होंगे। नेगेटिव- परंतु इस बात का भी ध...

    और पढ़ें