गुस्साए किसानों ने जीबी नहर मिट्टी डालकर भरी,7 नामजद सहित 35 पर केस

Shriganganagar News - भास्कर संवाददाता| रामसिंहपुर जीबी माइनर के किसानों ने हिस्से के पानी की मांग को लेकर शनिवार को नहर में मिट्टी...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 10:30 AM IST
Raisinghnagar News - rajasthan news angry farmers filled the gb canal with soil 35 cases including 7 nominations
भास्कर संवाददाता| रामसिंहपुर

जीबी माइनर के किसानों ने हिस्से के पानी की मांग को लेकर शनिवार को नहर में मिट्टी डालकर बंद कर दिया है। किसानों ने ट्रैक्टरों से मिट्टी डालकर माइनर को 10-15 फीट तक भर दिया। वहीं, किसानों का 19 वें दिन भी धरना जारी रहा। शाम को पुलिस ने 7 नामजद सहित 35 किसानोंं पर सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने सहित अन्य धराओं में मुकदमा किया है। गौरतलब है कि टेल पर बसे किसान पीने व सिचाई का पानी उपलब्ध करवाने की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं। किसानों ने प्रशासन को चेतावनी दी थी कि मांग नहीं मानी गई तो वे शुक्रवार को माइनर को पाट देंगे। साथ ही घोषणा की थी कि जब तक उनको हिस्से का पानी नहीं मिल जाता धरना जारी रहेगा। किसानों द्वारा नहर को पाटने व धरने के चलते एसएचओ सतपाल सिहाग दोपहर को जाब्ते के साथ धरनास्थल पहंुचे। एसएचओ ने किसानों को आगाह किया कि सिंचाई विभाग के अधिकारियों ने उनके खिलाफ प्रार्थना पत्र दिया है। किसान कानून तोड़ेंगे तो पुलिस केस दर्ज करेगी। आंदोलनकारी किसानों ने पुलिस प्रशासन से कहा कि उनको पीने व सिंचाई के लिए पानी चाहिए, वे जेल जाने को तैयार हैं। किसानों ने चेतावनी दी कि यदि पानी नहीं दिया या फिर उनके खिलाफ केस दर्ज हुआ तो सभी किसान महिलाओं के साथ अपने पशुओं को लेकर थाने पर धरना देंगे। लेकिन अपने हिस्से का पानी लेकर ही वापस लौटेंगे।

विधायक बलवीर लूथरा के गांव के पास चल रहा धरना, उन पर सुनवाई नहीं करने के अाराेप : किसानों ने आरोप लगाया कि रायसिंहनगर विधायक बलबीर लूथरा 42 जीबी के निवासी हैं। इसलिए उन्होंने 18 दिन पूर्व 42 जीबी के किसानों का पक्ष लिया व टेल के किसानों के साथ न्याय नहीं किया। मुकदमा दर्ज होने का किसानों ने विरोध जताया है।

भास्कर पड़ताल : खेत सूखे, डिग्गियां खाली,विभाग ने लिखित समझौता किया, उसे भी पूरा नहीं कर पाए ताे लगाया धरना

46 से 56 जीबी तक के किसान जीबी माइनर की टेल पर निवास करते हैं। 42 जीबी के नजदीक माइनर के अंदर ठोकर होने से टेल के किसानों को लंबे समय से सिंचाई के साथ पीने का पानी नहीं मिल रहा। इससे किसान खेती करना तो दूर डिग्गियों में पीने का पानी तक संग्रह नहीं कर पा रहे हैं। किसानों के इससे पूर्व में धरना- प्रदर्शन करने से अधिकारियों ने मौके पर आकर वार्ता कर लिखित में पानी देने का आश्वासन दिया था। लेकिन विभाग द्वारा अपने वायदे पर कायम नहीं रहने से किसानों ने दोबारा धरना लगा दिया। 19 दिन से किसान लगातार धरने पर बैठे हैं, लेकिन प्रशासन उनकी मांग के प्रति उपेक्षा अपनाए हुए हैं।

मुझे वस्तुस्थिति की जानकारी नहीं, माैके पर अधिकारियों काे भेजकर रिपोर्ट मांगी है


X
Raisinghnagar News - rajasthan news angry farmers filled the gb canal with soil 35 cases including 7 nominations
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना