पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Sriganganagar News Rajasthan News Donated Head Hair For Cancer Patients Now Inspired To Do Others With Short Hair

कैंसर मरीजों के लिए सिर के बाल दान किए, अब छोटे बालों के साथ दूसराें काे कर रही प्रेरित

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
2019

कैंसर पीड़ितों के इलाज के लिए जब कीमोथेरेपी किया जाता है तो सिर के बाल झड़ जाते हैं। ऐसे मरीजों को समाज में लोग अजीब निगाह से देखते हैं। लोगों के इस रवैये से कैंसर पीड़ितों को दुख होता है। कुछ इसी तरह के दुख को समझकर एक महिला ने अपनी खुशी से कैंसर मरीजों के लिए अपने सिर के बाल दान कर दिए और फिर छोटे बालों को ही अपना फैशन बना लिया।

हम बात कर रहे हैं लालगढ़ जाटान की बेटी दीपिका पारीक की जो महिला सशक्तीकरण को बढ़ावा देने के लिए अनेक समाजसेवी कार्य कर रही हैं। अभी दीपिका नैनीताल में रह रही हैं। इसके लिए दीपिका को कई अवार्ड भी मिल चुके हैं। दीपिका बताती हैं कि वे हिंदी और मलयालम फिल्मों में भी अभिनय कर रही है।

दीपिका वर्तमान में राजस्थान, उत्तराखंड और देश के अन्य राज्यों में महिलाओं, बच्चों और कैंसर रोगियों के लिए विभिन्न कल्याणकारी और सशक्तिकरण योजनाओं में स्वेच्छा से योगदान दे रही है। उन्हाेंने सभी समाजाें के लाेगाें से अपील कि वे अपनी बेटियों को उनका सपना पूरा करने में हरसंभव मदद करें क्योंकि जब परिवार की एक महिला मजबूत होती है तो वह पूरे परिवार को मजबूती व संबल प्रदान करती है।

2017

समाज सेवा के लिए मैं जब दिल्ली के हॉस्पिटलों में जाती थी ताे अनेक बीमारियों से पीड़ित लोग मिलते थे। मैं सबसे ज्यादा भावुक तब होती थी जब मुझे कैंसर से पीड़ित महिलाअाें व बच्चाें से मिलती थी। तब कीमोथेरेपी हुए मरीज महिला दीपिका के लंबे बालों को देखकर कहती थी कि अब हमारे बाल नहीं आएंगे। इस वजह से महिलाएं व बच्चे डिप्रेशन में चले जाते थे। उन महिलाओं व बच्चाें काे दुखी देखकर 2017 में अपने सिर के बाल कैंसर से पीड़िताें के लिए दान करने का मन बनाया ताकि इनके लिए विग बनाई जा सके। इसके बाद मैं अपना बगैर बालाें का सिर लेकर उन मरीजों के बीच पहुंची और उनको हौसला देते देख मरीजों में एक नई उम्मीद जगाई। लेकिन समाज का नजरिया गलत था लेकिन मैंने इसकी परवाह किए बिना यह निर्णय लिया और फिर काफी समय बाद अपने छोटे बालों काे फैशन बना कर समाज में अपनी एक अलग पहचान बनाई।

-जैसा कि दीपिका पारीक ने बताया

2017 में महिलाओं व बच्चाें काे अस्पताल में दुखी देखा...तभी कर दिए बाल दान

जरूरतमंद बच्चों के उत्थान व कैंसर संबंधी सकारात्मक कार्य के लिए मिला वूमन लीडरशिप अवार्ड : दीपिका काे दिसंबर 2019 में महिला सशक्तीकरण, गरीबों और जरूरतमंद बच्चों के उत्थान और कैंसर के रोगियों के लिए किए गए सकारात्मक कार्य के लिए वूमन लीडरशिप अवार्ड-2019 से नवाजा गया। अवार्ड की खास बात यह रही कि भारत की शीर्ष पांच महिलाओं को उनकी श्रेणी के क्षेत्र में पूरे भारत से 700 प्रत्याशियों में से चुना गया। फरवरी 2020 में दीपिका पारीक को मुंबई के ताज होटल में आयोजित 7वीं विश्व महिला लीडरशिप काॅन्फ्रेंस के दौरान वुमेन सुपर अचीवर अवार्ड से पुरस्कृत किया गया। इस समारोह में 45 देशों से आई करीब तीन हजार प्रतिभागियों में से दीपिका पारीक को चुना गया। इस कड़ी में दीपिका को श्रीगंगानगर में ‘नारी शक्ति सम्मान’ श्रीगंगानगर चैंबर आफ कॉमर्स धन-धन बाबा दीप सिंह समिति और ग्राम पंचायत लालगढ़ जाटान की अाेर से सम्मानित किया गया। इसके अलावा दीपिका को मिसेज इंडिया ग्लोब, ईटी नाऊ लीडरशिप अवार्ड से नवाजा जा चुका है।
खबरें और भी हैं...