• Hindi News
  • Rajasthan
  • Shriganganagar
  • Sriganganagar News rajasthan news municipal councilor set up on the gurunanak settlement pit generator commissioner took 10 wards of the city and started work on the lane
विज्ञापन

नगरपरिषद ने गुरुनानक बस्ती गड्ढे पर लगाया जनरेटर, आयुक्त ने शहर के 10 वार्डों का लिया जायजा, नाले ढकने का काम शुरू

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 10:16 AM IST

Shriganganagar News - भास्कर संवाददाता| श्रीगंगानगर शहर दाे दिन से अंधड़ अाैर बारिश के बाद नगरपरिषद प्रशासन हरकत में अाया। आयुक्त...

Sriganganagar News - rajasthan news municipal councilor set up on the gurunanak settlement pit generator commissioner took 10 wards of the city and started work on the lane
  • comment
भास्कर संवाददाता| श्रीगंगानगर

शहर दाे दिन से अंधड़ अाैर बारिश के बाद नगरपरिषद प्रशासन हरकत में अाया। आयुक्त मिलखराज चुघ ने अधिकारियों व कर्मचारियों काे अलग-अलग वार्डाें में भेजकर पानी निकासी की व्यवस्था जांचने के निर्देश दिए। उन्हाेंने खुद भी 10 वार्डाें में जाकर पानी भराव की स्थिति देखी। एक-दाे जगहाें काे छाेड़ दें ताे लगभग सभी जगह स्थिति सामान्य मिली। चुघ ने बताया कि गुरुनानक बस्ती में बड़ा जनरेटर लगाया गया है। ताकि बारिश के दाैरान बिजली चली जाने पर पानी उठाव परेशानी ना अाए। उनका कहना है कि बीते दिनाें शहर में विभिन्न जगहाें पर सड़काें का काम हुअा है, कई जगह पेच लगाए गए हैं। वहीं, सुखाड़िया सर्किल से बीरबल चाैक हाेते हुए रेलवे टी-प्वाइंट व सुखाड़िया सर्किल से मीरा चाैक हाेते हुए चहल चाैक तक सीसी सड़क बनी है। इस वजह से वर्षाें पुरानी सड़काें पर पानी भरने की समस्या से स्थायी निजात मिली है। वहीं, कुछ जगहाें पर नालाें का निर्माण जारी है।

सदभावना नगर क्षेत्र में बारिश के बाद सड़काें पर कीचड़ जमा हाे गया : सीवरेज की वजह से वार्ड 19 की अनेक काॅलाेनियाें में लाेगाें काे बारिश के बाद परेशानी का सामना करना पड़ा। सदभावना नगर क्षेत्र में बारिश के बाद सड़काें पर कीचड़ जमा हाे गया। वहीं नेशनल हाइवे व हनुमानगढ़ मार्ग पर नाला नहीं हाेने से पानी मुख्य मार्ग पर जमा हाे गया। इस वजह से लाेगाें काे परेशानी का सामना करना पड़ा। हनुमानगढ़ मार्ग पर जरूर अंध विधालय से अागे दाे टेंकराें की मदद से पानी निकासी के प्रयास हुए, लेकिन ये नाकाफी साबित हुए।

खुले नालाें पर फेरोकवर लगाने का काम शुरू: कलेक्टर शिव प्रसाद मदन नकाते के निर्देश की पालना में नगरपरिषद ने मंगलवार से खुले नाले ढकने का काम शुरू कर दिया है। अायुक्त मिलखराज चुघ ने बताया कि नालाें पर फेरोकवर ढकने की शुरुआत मटका चाैक से भगत सिंह चाैक के बीच की गई है। यहां अाधे से अधिक नालाें काे कवर किया जा चुका है। जल्द ही अन्य जगहाें पर भी खुले नाले चिन्हित कर ढकने का काम किया जाएगा। संबंधित अधिकारियों काे निर्देशित किया जा चुका है कि समय रहते नालाें की डिसिल्टिंग हाे जानी चाहिए।

चार साल बाद लिंक चैनल में छाेड़ना पड़ा गंगनहर का पानी : पंजाब में बीकानेर फीडर के निर्माण के समय राजस्थान में गंगनहर अाैर उसकी वितरिकाअाें में सिंचाई पानी फीड करने के लिए राजस्थान फीडर के लाैहगढ़ हैड से साधुवाली तक बनाई गई गंगनहर लिंक चैनल में पिछले डेढ़ दशक के दाैरान मंगलवार काे दूसरी बार पानी छाेड़ना पड़ा। इससे पहले चार वर्ष पूर्व नहराें एवं वितरिकाअाें के अाेवर फ्लाे हाेने के कारण ही रात के समय लिंक चैनल में पानी छाेड़ा गया था। साेमवार शाम काे अाए अंधड़ के बाद विभाग के अधिकारियाें काे जैसे ही नहरें अाेवर फ्लाे हाेकर टूटने की सूचना मिली ताे लिंक चैनल में पानी छाेड़ने के अलावा अाैर काेई चारा नहीं बचा था। हालांकि गंगनहर में पानी मात्र 1800 क्यूसेक ही चल रहा था, लेकिन नहराें में पेड़ाें की टहनियां अाैर कचरा अाने से पानी के बहाव में रुकावट अा गई। इसलिए पानी तत्काल कम किया गया।

बरसात से व्यापक नुकसान, एलएनपी, भोमपुरा, ठंडी व बीबी माइनर टूटी, किसानों ने जेसीबी की मदद से पाटा, खेतों में खड़ी फसलें खराब हुई

श्रीगंगानगर. रेलवे स्टेशन राेड़ पर भरा बरसात का पानी व कालियां रोड पर टूटा पेड़।

श्रीगंगानगर| बरसात अाैर अंधड़ के कारण कई स्थानाें पर फसलाें काे व्यापक नुकसान हुअा है। कृषि विभाग ने फसलाें के नुकसान का सर्वे करने के निर्देश दे दिए हैं। कलेक्टर ने भी राजस्व पटवारियाें काे खेताें में हुए नुकसान की गिरदावरी करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने कृषि विभाग के आयुक्त एवं स्थानीय उपनिदेशक काे पत्र खेताें में पसरी फसलाें का बीमा कंपनी काे सर्वे करके नुकसान का आकलन कर शीघ्र बीमा क्लेम दिलाने के लिए कहा है। जानकारी के अनुसार साेमवार शाम काे पश्चिम दिशा से अाया तेज हवा के अंधड़ से खेताें में खड़ी अाैर कटाई के बाद खुले में पड़ी फसल बिखार गई। अंधड़ के कारण गेहूं की फसल अाड़ी गिर गई। अंधड़ इतना तेज था कि गेहूं की फसल जमीन पर ही बिछ गई। अनेक स्थानाें पर कटाई के बाद खेत में मंडलियां एवं थब्बे बनाकर रखे चने की फसल दूर दूर तक उड़ गई। कई जगह तेज हवा ने चक्रवात जैसा काम किया अाैर गेहूं तथा चने के बनाए गए भारे हवा में उड़ते दिखाई दिए। साेमवार रात भर कई स्थानाें पर रुक-रुककर हुई बरसात अाैर अंधड़ के कारण नहराें में पेड़ाें की टहनियां गिर गईं। इससे पानी का प्रवाह रुक गया अाैर अाेवर फ्लाे हाेकर अाधा दर्जन नहरें टूट गईं। इससे खेताें में कटाई के लिए तैयार फसलाें काे भारी नुकसान हुअा। बरसात अाैर तेज हवाअाें का दाैर मंगलवार शाम काे भी जारी रहा।

हवा का तंत्र फिर विकसित हाेने के कारण श्रीबिजयनगर के जीबी नहर क्षेत्र में ओलावृष्टि हुई। ओलावृष्टि 38 से 49 जीबी तक एक पूरी पट्टी में हाेने के कारण खेताें में गेहूं पसर गया। अगर अाेले नहीं पिघले ताे अधपका गेहूं सड़ांध मारने के अासार हैं।

जिले में अंधड़ से 181 खंभे टूटे, 18 ट्रांसफार्मर क्षतिग्रस्त, डिस्काॅम काे 10 से 11 लाख का नुकसान

श्रीगंगानगर| जिले में अाए अंधड़ से 181 पाेल टूटे व 18 ट्रांसफार्मर क्षतिग्रस्त हाे गए। सात ट्रांसफार्मराें की डीपी भी टूट गई। बिजली लाइनाें पर पेड़ गिरने से जिला मुख्यालय काे छाेड़कर अधिकतर क्षेत्र में 15 से 20 घंटे बिजली अापूर्ति बाधित रही। ग्रामीण क्षेत्र में कृषि कनेक्शन वाले ज्यादातर उपभाेक्ताअाें के यहां अंधड़ के 24 घंटे बाद भी बिजली ठप रही। खराब माैसम काे देखते हुए डिस्काॅम के अधिकारियाें व तकनीकी स्टाफ का बुधवार काे अवकाश रद्द कर दिया गया है।

डिस्काॅम के अधीक्षण अभियंता केके कस्वां ने बताया कि अंधड़ से जिलेभर में डिस्काॅम के खंभे व तारें टूटने तथा ट्रांसफार्मर क्षतिग्रस्त हाेने से 10 से 11 लाख रुपए का नुकसान हुअा है। जिले में अधिकतर क्षेत्राें में बिजली अापूर्ति बहाल कर दी गई है। जहां तारें टूटी हुई थी उन्हें वापस जाेड़कर फाॅल्ट दुरस्त कर अापूर्ति बहाल कर दी गई है। जलदाय याेजनाअाें व हाॅस्पिटलाें की अापूर्ति भी प्राथमिकता से बहाल की गई ताकि अामजन काे काेई परेशानी नहीं हाे। माैसम विभाग ने भी अागामी तीन-चार दिनाें तक माैसम खराब रहने तथाा अंधड़ व बारिश की चेतावनी दी है। चेतावनी काे ध्यान में रखते हुए डिस्काॅम अधिकारियाें अाैर तकनीकी स्टाफ का बुधवार काे सार्वजनिक अवकाश रद्द किया गया है ताकि किसी भी अापातकाल की स्थिति में निपटा जा सके।

तिनके ितनके बिखरी उम्मीदें : शहर के चाराें अाेर खेती किसानी काे अंधड़ अाैर बरसात से नुकसान हुअा है। छह माह की गाढ़ी कमाई पर मात्र कुछ ही पलाें में पानी फिर गया। चक एक जैड में अधिकांश जगह गेहूं की फसल पकाव पर थी। अंधड़ के कारण जमीन पर पसर गई। राधेश्याम बिश्नाेई के एमएल नहर के किनारे खेत में गेहूं की फसल पकाव पर थी। वह दाे तीन दिन बाद कटाई की तैयारी कर रहा था, लेकिन साेमवार रात अाई बरसात से गेहूं की फसल जमीन पर बिछ गई। जीतसिंह के खेत में कमाेबेश यही स्थिति थी।

उन्हाेंने बताया कि अब अगर इसकी कटाई की जाए ताे दाने कच्चे मिलेंगे। अगर कटाई नहीं की ताे फसल सड़ांध मारने लगेगी। जीतसिंह के खेत में साेमवार काे हाथ से गेहूं कटाई करके छाेड़ दी गई ताे रात काे अंधड़ में उड़कर पूरे खेत में बिखर गई। एक महिला बिखरी हुई फसल एकत्र करते हुए बुरी तरह हताश दिखाई दी।

18 फीट गहरी कुई में गिरे बछड़े काे जिंदा बाहर निकाला

शहर में बीती रात अाए आंधी तूफान से घबराकर एक बछड़ा गंदे पानी की कुई जा गिरा। 18 फीट गहरी कुई में बछड़े के गिरने पर सिविल लाइन के युवाओं ने सिविल डिफेंस काे सूचना दी। कुछ ही समय बाद माैके पर पहुंचे सिविल डिफेंस के कार्यकर्ताओं व युवाओं ने करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद बछड़े काे जिंदा कुई से बाहर निकाल लिया। जानकारी के अनुसार कोडा चौक के पास सिविल लाइन में गंदे पानी की खुली कुई में एक गाय का बछड़ा गिर गया। सिविल लाइन के युवाओं को जब पता लगा तो उन्होंने टीम बनाकर उसे निकालने का प्रयास किया। सिविल लाइन निवासी एसपी कार्यालय में कार्यरत हरिसिंह बराड़ ने सिविल डिफेंस की टीम को बुलाकर बछड़े को बाहर निकलवाने में मदद की। क्रेन की मदद से कुई के लेंटर को तोड़कर दो युवक पानी में उतरे और बछड़े को बांधकर ऊपर खींचकर सुरक्षित बाहर निकाला।

धानमंडी में बाेली नहीं हुई, अाज भी नहीं हाेने की संभावना

श्रीगंगानगर| धानमंडी के व्यापारी अाैर किसान एक-दूसरे के पूरक हैं। साेमवार शाम अाैर रात में अंधड़ के साथ अाई बरसात से धानमंडी में खुले में रखा अनाज, सरसाें अादि भीग गया। इससे व्यापारियाें में भी गहरी मायूसी छा गई। मंगलवार काे दिनभर भीगे माल काे सुखाने, दूसरे बारदाने में पलटने, साफ करने का काम हुअा। हालांकि धानमंडी के अंदर 20 शैड्स हैं, जिनके अंदर माल रखा था, वह भीगने से बच गया, लेकिन खुले में रखा सरसाें, जाै एवं गेहूं पानी के कारण भीग गया। इसलिए मंगलवार काे बाेली नहीं हुई, न ही बरसात से सहमे हुए किसान माल लेकर अाए। चूंकि बरसात अाैर माैसम के बिगड़े तेवर अभी चल रहे हैं, एेसे में बुधवार काे फिर धान मंडी में बाेली नहीं हाेने के अासार हैं। कच्चा अाढ़तिया संघ के अध्यक्ष राजकुमार बंसल ने बताया कि साेमवार रात काे अाई बरसात से पिड़ाें के किनारे सड़काें एवं निचले स्थानाें पर पानी भर गया। इन स्थानाें पर जिंसाें की ढेरियां लगी थी।

Sriganganagar News - rajasthan news municipal councilor set up on the gurunanak settlement pit generator commissioner took 10 wards of the city and started work on the lane
  • comment
Sriganganagar News - rajasthan news municipal councilor set up on the gurunanak settlement pit generator commissioner took 10 wards of the city and started work on the lane
  • comment
Sriganganagar News - rajasthan news municipal councilor set up on the gurunanak settlement pit generator commissioner took 10 wards of the city and started work on the lane
  • comment
X
Sriganganagar News - rajasthan news municipal councilor set up on the gurunanak settlement pit generator commissioner took 10 wards of the city and started work on the lane
Sriganganagar News - rajasthan news municipal councilor set up on the gurunanak settlement pit generator commissioner took 10 wards of the city and started work on the lane
Sriganganagar News - rajasthan news municipal councilor set up on the gurunanak settlement pit generator commissioner took 10 wards of the city and started work on the lane
Sriganganagar News - rajasthan news municipal councilor set up on the gurunanak settlement pit generator commissioner took 10 wards of the city and started work on the lane
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन