दूसरों का जो व्यवहार अच्छा नहीं लगता, वह नहीं करना चाहिए: पाराशर

Shriganganagar News - भास्कर संवाददाता| श्रीगंगानगर श्रीमद् भागवत जन कल्याण सेवा समिति के तत्वावधान में सुखाड़िया सर्किल स्थित...

Dec 04, 2019, 12:35 PM IST
भास्कर संवाददाता| श्रीगंगानगर

श्रीमद् भागवत जन कल्याण सेवा समिति के तत्वावधान में सुखाड़िया सर्किल स्थित श्रीगाेशाला में श्रीमद्भागवत सप्ताह ज्ञान यज्ञ का अायाेजन किया जा रहा है। दूसरे दिन मंगलवार काे कथा वाचक सत्यपाल पाराशर ने द्रोपदी चरित्र के अंतर्गत बताया कि जो व्यवहार हमें दूसरों से अपने लिए अच्छा नहीं लगता, ऐसा व्यवहार किसी दूसरे के लिए हमें नहीं करना चाहिए अाैर यही धर्म का स्वरूप है। उन्हाेंने बताया कि भागवत की कथा केवल कथा नहीं है, यह जीवन जीने की कला है। कथा के शुभारंभ से पूर्व मुख्य यजमान बजरंगलाल मित्तल, अजय गुप्ता, संजय गुप्ता, भानुप्रकाश गर्ग, कुणाल बंसल, कमल गणेशगढिया, समिति के अध्यक्ष रतनलाल गणेशगढ़िया, बिंदु गोस्वामी, प्रेमचंद लीला, राजेन्द्र सिंगल अादि के देव पूजन एवं श्रीमद् भागवत पूजन किया गया। इस कथा के दाैरान कथा वाचक ने भगवान श्री कृष्ण के बड़े ही सुंदर भजनाें की प्रस्तुतियां दी ताे श्रद्धालु भी अपनी-अपनी जगह खड़े हाेकर नाचने लगे। इस दाैरान श्रद्धालुअाें ने राधा-रानी के जयकारे भी लगाए। कथा के बाद श्रद्धालुअाें काे प्रसाद का वितरण किया गया।

कथा का वाचन राेजाना दाेपहर 2 से शाम 6 बजे तक हाेगी: रतनलाल गणेशगढ़िया ने बताया कि कथा का समय राेजाना दाेपहर 2 से शाम 6 बजे तक का रहेगा। इस कथा में गजानंद शास्त्री, कथा सहयोगी नंदलाल मित्तल, अरुण जिंदल, परमानंद लीला, मंगत मित्तल, राजेंद्र शर्मा फतेहगढ़ व बलराम सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित रहे।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना