पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Sriganganagar News Rajasthan News Screening Of Two Citizens Who Returned From Africa Biometric Attendance And Breath Analyzer Banned

अफ्रीका से लौटे दो नागरिकों की स्क्रीनिंग बाॅयोमीट्रिक हाजिरी व ब्रीथ एनालाइजर पर रोक

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

काेराेना वायरस को लेकर जारी किए अलर्ट के दृष्टिगत शनिवार को अफ्रीका से मिर्जेवाला के समीप गांव 2 के में लौटे दो स्थानीय नागरिकों के स्वास्थ्य की स्क्रीनिंग की गई। जिले में अब तक विदेशों से लौटे 70 लोगों की स्क्रीनिंग हो चुकी है। संक्रमण से वायरस फैलने के दृष्टिगत चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने बॉयोमीट्रिक हाजिरी और ब्रीथ एनालाइजर के उपयोग पर रोक लगा दी है। शिवपुर फतूही के ग्रामीणों ने गांव की सीएचसी में कोराेना संक्रमित एवं संदिग्ध रोगियों के संपर्क में आने वाले स्वस्थ व्यक्तियों को रखने के लिए बनाए विशेष वार्ड यानी क्वारंटाइन बनाने का विरोध किया है।

राज्य सरकार ने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश जारी किए हैं कि काेरोना नियंत्रण के लिए विदेशों से आने वाले सभी नागरिकों की स्क्रीनिंग की जानी चाहिए। सीएमएचओ डॉ. गिरधारी लाल मेहरड़ा के अनुसार गांव दो के में अफ्रीका से लौटे दो व्यक्तियों के आने की सूचना मिली थी। स्वास्थ्य विभाग ने इन दोनों लोगों के स्वास्थ्य की स्क्रीनिंग की, उन्हें कोरोना जैसे कोई मिलते-जुलते लक्षण नहीं हैं। पीएमओ डॉ. केएस कामरा ने जिला अस्पताल और सीएमएचओ डॉ. गिरधारी लाल मेहरड़ा ने जिले में स्वास्थ्य विभाग के सभी कार्यालयों और चिकित्सा संस्थाओं में रजिस्टर से ही हाजिरी लगाने के आदेश जारी किए हैं। इसके साथ ही पुलिस व यातायात विभाग के ब्रीथ एनालाइजर के उपयोग को भी रोकने के लिए कहा गया है।

शनिवार को एसीएस रोहित कुमार सिंह की अध्यक्षता में कोरोना वायरस नियंत्रण एवं उपचार सेवाओं समीक्षा बैठक हुई। उन्होंने राज्य में कोरोना के नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए की जा रही कार्रवाई की समीक्षा करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। एसीएस रोहित कुमार सिंह ने रेलवे, परिवहन एवं रोडवेज के अधिकारियों को प्रदेश में यात्रा कर रहे समस्त विदेशी पर्यटकों की स्क्रीनिंग करवाने के लिए निर्देशित किया है।

_photocaption_श्रीगंगानगर। फतूही गांव के स्वास्थय केंद्र पर काेराेना का विशेष वार्ड बनाने के विराेध में कलेक्टर काे ज्ञापन देने आए युवक।*photocaption*

कोरोना के बारे में जनचेतना करने के लिए राज्य में संचालित मोबाइल फोन की कॉलर-ट्यून पर कोरोना की जानकारी दी जा रही है। वहीं, सभी आशा सहयोगिनियों एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को कोरोना वायरस के बारे में आवश्यक जानकारियां उपलब्ध करवाकर उनके माध्यम से आमजन को कोरोना के बारे में जागृत किया जा रहा है। घर-घर संपर्क के दौरान वे आमजन को कोरोना के बारे में बता रही हैं। शनिवार को मटका चौक राजकीय बालिका स्कूल व पुरानी आबादी राजकीय बालिका स्कूल, राजकीय उच्च प्राथमिक स्कूल दमकल विभाग में टीमों ने पहुंचकर बच्चों को जागरूक किया।

सीएमएचओ डॉ. गिरधारी मेहरड़ा ने बताया कि कोरोना वायरस के बचाव, नियंत्रण, उपचार, जांच एवं प्रचार-प्रसार को लेकर विभाग पूरी तरह से सतर्क है। जिला अस्पताल में आइसोलेशन वार्ड के साथ ही डाॅक्टराें की टीम मुस्तैद है। जिला स्तर पर कंट्रोल रूम नंबर 0154- 2445071 एवं मोबाइल नंबर 9460168003 जारी किया गया है। चिकित्सा संस्था पर आने वाले सर्दी, खांसी, जुकाम, बुखार व अन्य लक्षणों वाले रोगियों में यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि कहीं वे विदेश भ्रमण करके तो नहीं आए या वहां के निवासी तो नहीं। आमजन विभाग के आईईसी अनुभाग के फेसबुक, ट्विटर व यू ट्यूब पेज से कोरोना सहित अन्य स्वास्थ्य सेवाओं व योजनाओं संबंधी अधिकृत जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

बाइपास के पास शिफ्ट हो सकता है विशेष वार्ड: शनिवार को डॉ. भीमराव अंबेडकर सरकारी पीजी कॉलेज के छात्रसंघ अध्यक्ष गगनदीप राव के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने एडीएम सतर्कता अरविंद जाखड़ को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन के अनुसार फतूही सीएचसी में कोरोना प्रभावितों के लिए विशेष वार्ड बनाने से ग्रामीण प्रभावित हैं। इसे कहीं अन्य शिफ्ट किया जाना चाहिए। सीएमएचओ डॉ. गिरधारी लाल मेहरड़ा के अनुसार वार्ड को पदमपुर सूरतगढ़ बाइपास के पास शिफ्ट करने के लिए एक भवन चिन्हित किया गया है। जरूरत पड़ी तो ये वार्ड यहां शिफ्ट कर दिया जाएगा। सभी बीसीएमओ को भी उनके क्षेत्रों में विशेष वार्डों के लिए भवन चिन्हित करने के लिए कहा गया है।
खबरें और भी हैं...