हत्या करने के दाेषियों काे उम्रकैद की सजा, 7500-7500 रु. जुर्माना भी लगाया

Shriganganagar News - भास्कर संवाददाता| श्रीगंगानगर चार साल पहले गांव चक महाराजका में एक व्यक्ति पर पुरानी रंजिश को लेकर हत्या करने...

Jan 24, 2020, 10:25 AM IST
Raisinghnagar News - rajasthan news sentenced to life imprisonment for murder victims rs 7500 7500 also fined
भास्कर संवाददाता| श्रीगंगानगर

चार साल पहले गांव चक महाराजका में एक व्यक्ति पर पुरानी रंजिश को लेकर हत्या करने के चार दोषियों को न्यायालय ने उम्र कैद की सजा सुनाई है। दंडित व्यक्तियों में एक महिला भी शामिल है। न्यायालय ने चारों दोषियों जसपाल सिंह पुत्र अजायब सिंह, गुरविंद्र सिंह पुत्र इकबाल सिंह, लखविंद्र सिंह पुत्र दौलत सिंह और कुलदीप कौर उर्फ कमलदीप कौर उर्फ ज्ञानो देवी प|ी जसपाल सिंह निवासी चक महाराजका को 7500-7500 रुपए जुर्माने से भी दंडित किया है। ये निर्णय गुरुवार को जिला एवं सैशन न्यायाधीश चंद्रशेखर शर्मा ने सुनाया।

14 फरवरी 2015 को गुरजीत सिंह निवासी चक महाराजका ने थाना जवाहरनगर में मुकदमा दर्ज करवाया था कि उसके पिता हरदेव सिंह का जसपाल सिंह व अन्य से कुत्ते की बात को लेकर झगड़ा हो गया था। इससे आरोपी उनसे रंजिश रखते थे। 13 फरवरी 15 की रात को करीब 8 बजे वह और उसके पिता हरदेव सिंंह घर पर रोटी खा रहे थे। तब आरोपियों ने घर में घुसकर उसके पिता पर लाठियों से हमला कर दिया। आरोपियों ने हरदेव सिंह के सिर पर कृपाण से चोट मारी। इससे वे गंभीर घायल होने से कोमा में चले गए। पुलिस ने जसपाल सिंह, गुरविंद्र सिंह, लखविंद्र सिंह, कुलदीप कौर उर्फ कमलदीप उर्फ ज्ञानो देवी सहित दो नाबालिगों के खिलाफ हत्या के प्रयास के आरोप में मुकदमा दर्ज किया था। इलाज के दौरान 24 फरवरी 2015 को हरदेव सिंह की मृत्यु हो गई। तब प्रकरण में हत्या के आरोप की आईपीसी की धारा 302 जोड़ दी गई। गिरफ्तारी के बाद से आरोपी जसपाल सिंह जेल में ही है। अन्य आरोपी गुरविंद्र सिंह, लखविंद्र सिंह व ज्ञानाे देवी की गिरफ्तारी के बाद मई 2015 में जमानत पर रिहाई हो गई थी। गुरुवार को न्यायालय द्वारा फैसला सुनाए जाने के बाद पुलिस ने जमानत पर रिहाई तीनों आरोपियों को भी हिरासत में ले लिया। न्यायालय ने चारों दोषियों जसपाल सिंह, गुरविंद्र सिंह, लखविंद्र सिंह व कुलदीप कौर उर्फ कमलदीप कौर उर्फ ज्ञानो देवी को आईपीसी की धारा 302 में उम्रकैद, 5-5 हजार रुपए जुर्माना, धारा 452 में 3-3 वर्ष कठोर कारावास, 2-2 हजार रुपए जुर्माना और धारा 148 में 1-1 वर्ष कारावास और 500-500 रुपए जुर्माने की सजा सुनाई।

कोर्ट का फैसला
शराब बनाने के लिए चालू भट्टी सहित पकड़े आरोपियों को 4-4 साल की सजा और 30-30 हजार का जुर्माना

रायसिंहनगर| अवैध शराब बनाने के लिए चालू भट्टी सहित पकड़े गए दो आरोपी भाइयों को अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट कालूराम सर्वा की अदालत ने 4 साल के कारावास व 60000 जुर्माने से दंडित किया है। अभियोजन अधिकारी राजेश पारीक ने बताया कि पुलिस उप निरीक्षक विजेंद्र कुमार ने गश्त के दाैरान 19 नवंबर 2011 को गांव 9 एल पीएमबी ढाणी में अवैध शराब बनाते हुए बूटा सिंह व रेशम सिंह पुत्र कक्का सिंह को 200 लीटर हथकढ़ शराब, शराब बनाने के लिए चालू भट्टी बरामद कर गिरफ्तार किया था। पुलिस ने आरोपियों के विरुद्ध अदालत में चालान पेश किया। न्यायालय ने सुनवाई के बाद फैसला देते हुए दोनों को चार -चार साल कारावास व 30-30 हजार जुर्माने से दंडित किया है।

X
Raisinghnagar News - rajasthan news sentenced to life imprisonment for murder victims rs 7500 7500 also fined
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना